वंध्या की सील जीजा और मकान मालिक ने मिलकर तोड़ी

करीब 4-5 मिनट मुझसे लिपटे रहे बेहोश की तरह मेरी गांड में चिपके पड़े रहे। और फिर बोले बहुत सेक्सी है तू बंध्या आज मेरा जीवन धन्य हो गया। तेरी गांड मस्त है बहुत ही सेक्सी और मेरी पीठ चूमते हुए वह उठकर बिस्तर से अलग खड़े हो गए। अब सिर्फ मकान मालिक शिव शंकर अंकल बचे और अब वह मेरी दोनों टांगो को फैलाकर, ऊपर करके कंधे में चढ़ा कर रख लिया और बहुत जोर जोर से मेरी चूंत में अपने लन्ड का धक्का मारने लगे, मुझे बहुत जोश चढ़ा हुआ था, अपने आप मेरे मुंह से निकल गया कि अंकल तू बोला बहुत बड़ा लड़कियों का चोदू है,तेरे लंड के बाद मुझे किसी की जरूरत नहीं पड़ेगी तो चोद मुझे देख तेरी बंध्या तेरे बिस्तर में नंगी तुझसे चुद रही है, पूरा लन्ड घुसा और फाड़ मेरी चूंत और मुझे अब किसी लन्ड की जरूरत ना पड़े ऐसा कर दे अंकल, कितना दम है अंकल तेरे लौड़े में आज अपनी बंध्या को दिखा अगर सच में तेरी गांड में दम है तब?

अंकल फुल जोश में मेरे दोनों दूधों को कस के पकड़ कर पूरी ताकत से अपना लन्ड फचाफच मेरी चूंत में धक्का देने लगे और बोले साली रंडी बंध्या तू बहुत बड़ी छिनाल बनेगी एक दिन तेरा बड़ा नाम होगा। आज ले तेरी चूंत फाड़ देता हूं और बहुत जोर से धक्का मारने लगे, पर थोड़ी देर में 5-7 मिनट बाद अंकल बोले आज तेरी चूंत का कचूमर बना दूंगा। मुझे जाने क्या हुआ कि मेरी चूंत में अजीब सी सुरसुराहट हुई और मैं मचलने लगी और बोली अंकल और जोर से चोदो मुझे कुछ हो रहा है। तभी मेरी चूंत से गरम गरम पिचकारी की स्पीड से चूंत रस मेरी चूंत से निकलने लगा और उधर अंकल बोले बंध्या तेरी चूंत तो बह चली, तेरी प्यास बुझ गई आज की चुदाई की,गजब है तेरी चूंत बंध्या कितनी गर्मी है तेरे में सेक्सी, अब बंध्या मैं भी झड़ने वाला हूं तेरी चूंत में आज अपने लन्ड रस से तेरी चूंत भरकर पूरी प्यास बुझा दूंगा। और अंकल जमकर जोर जोर से तेजी से मेरी चूंत में अपने लन्ड से चोदने लगे, मेरे मुंह से उंहहह ऊंहहह आहहहह वोहहहह की आवाज अपने आप निकलने लगी। मैं पूरी तरह से निढाल हो गई स्खलित होकर बहुत ज्यादा गर्मी मेरे जिस्म की शांत सी हो गई आज सच में, उधर अंकल भी मुझसे लिपट के अकड़ गये और मुझे गन्दी गन्दी गालियां देने लगे कि शाली कुतिया ,मादरचोदी, बंध्या तेरी बहन चोदूं ले और ले मेरा लन्ड छिनाल और चुदा ले आज तेरी चूंत फाड़ता हूं बंध्या।

More Sexy Stories  कॉलेज गर्ल सविता की हॉट चुदाई

और मुझसे जोर से लिपट गये कसकर मुझे अपने बांहों में लपेट लिया और बहुत गरम-गरम लन्ड का रस मेरी चूंत में भरने लगे, और करीब दो-तीन मिनट में मेरी चूंत में अंकल का लन्ड रस समा गया, मेरी चूंत अंकल के गर्म गर्म वीर्य से लन्ड रस से भर गई, एक अजीब पर बहुत मस्त सा अहसास होने लगा , ऐसा लगा जैसे मुझे बहुत कुछ मिल गया हो। पांच मिनट तक अंकल मुझसे चिपक कर मेरे उपर लेटे रहे, उसके बाद उठे मेरी चूंत को अपने रूमाल से पोंछने लगे और फिर अपने जीभ से भी चाट कर मेरी चूंत साफ कर दिया, मुझे ये अच्छा लगा। अब मैं अपने कपड़े पहनने लगी अंकल और जीजा भी अपने अपने कपड़े पहन लिए और अंकल ने मुझे तीन हजार रुपए दिए कि अपनी पसंद की ड्रेस खरीद लेना बंध्या, मैं जीजा को बोली कि मुझे बस स्टाप तक जल्दी पहुंचा दो,जब अंकल के रूम से निकलने लगी तो अंकल मुझसे लिपट गए और एक हजार रुपए और दिए बोले जो मन हो खा लेना ,

और मेरे होठों को चूमने , चुसने लगे और फिर बोले कि आज तक मेरी लाइफ में तुमसे हाट और सेक्सी लड़की नहीं देखी नामिली थैंक्यू बंध्या आज के लिए और फिर मैं तैयार होकर अंकल के घर से निकल गई जीजा भी मेरे साथ आए, और अपनी बाइक से मुझे बस स्टॉप तक पहुंचा दिए। जैसे ही बाइक से उतरी चलने में बहुत तकलीफ होने लगी मेरी कमर और पीछे गांड और आगे चूत में बहुत दर्द होने लगा, मैं सामने मेडिकल स्टोर से पेन किलर की टैबलेट ली और खा ली, मुझसे 7 दिन तक ठीक से चलते नहीं बन रहा था जब भी कोई पूछे कि बंध्या क्या हुआ तो मैं उसे बोलती कि बस से पांव फिसल गया और गिर गई तो थोड़ा चोट लग गई थी। और फिर 10 दिन बाद मेरा फिर अपने आप फिर से बहुत मन करने लगा और वही अंकल और जीजा ने जिस तरह से किया था बार-बार वही सब दिमाग में और ख्यालों में चलने लगा, और सोचते सोचते बहुत गर्म हो जाती और मेरी पैंटी भीग जाती गीली हो जाती थी।

More Sexy Stories  स्टूडेंट की मा को चोदा

यह कोई मेरी कहानी नहीं है एक एक शब्द एक एक बात पूरी सच लिख रही हूं यह मेरे जीवन की सच्चाई है, इसे झूठ कोई मत मानिएगा। मैं अपनी मम्मी की कसम खाती हूं और गॉड कसम सब कुछ बिल्कुल एक-एक शब्द सच लिखी हूं। आपको मेरे जीवन की पहली पूर्ण सत्य घटना जो मेरे साथ हुआ वह कैसी लगी? यह बात सच है कि मुझे खुद भी बहुत ही ज्यादा मजा आया, यह कैसा सुख और इंज्वाय है मैं इसे नहीं जानती थी। पर बहुत ही बेस्ट अनुभव रहा है, आप को यह कैसी लगी मेरी पहली घटना मेरी मेल आईडी में अपना अनुभव बता सकते हैं। यह बिल्कुल सच है और मेरा दावा है कि मुझे देखने के बाद आप अपने ऊपर कंट्रोल नहीं कर पाएंगे, और मुझसे मिले बिना आपको चैन नहीं मिलेगा। हर वक्त पाठकों आप मुझे अपने ख्वाबों ख्यालों में सिर्फ मुझे पाओगे और मुझसे मिलने का अरमान लिए अपनी रातों को गुजारेंगे। अपना अनुभव मुझे मेरे मेल ID पर भेजें। दोनों मेल आईडी मेरी है इनपे अपनी राय मुझे भेज सकते हैं।
मेरी Mail ID- vandhyap13@gmail.com

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14