वंध्या की सील जीजा और मकान मालिक ने मिलकर तोड़ी

तो मैं बिल्कुल मचलने लगी और कमर अपनी उछालने लगी। सुरेंद्र जीजा का लौड़ा करीब चार, पांच मिनट चुस्ती रही, जीजा अपना लन्ड मुंह में अंदर बाहर कर रहे थे, तभी अंकल बोले बंध्या मेरा भी लन्ड चूस और सुरेंद्र को बोले अब तू हट और उन्होंने अपना लन्ड मेरे मुंह में डाल दिया मैं अब अंकल का लौड़ा चूसने लगी, जैसे ही अंकल का लौड़ा चूसने लगी मुझे बहुत अजीब सा लगा क्यों कि अंकल का लन्ड बहुत बड़ा था जिससे मुंह में जा नहीं रहा था, पर वह तब पर भी पूरा लन्ड मुंह में घुसा दिये थे, और उनके लन्ड की खुशबू भी अलग थी, तब भी मुझमें इतना जोश आ गया कि मैं अंकल का लन्ड चूसने लगी चाटने भी लगी, और उसके बाद मैंने अंकल को पहली बार पकड़ लिया और जमके अपने बांहों में भर लिया, अंकल बोले तू रंडी है और एक दम से पागल हो गई है बंध्या। तुझसे चुदासी लड़की मैंने देखी नहीं,करीब 5 से 7 मिनट मैं अंकल का लौड़ा चूसती रही। तभी सुरेंद्र जीजा मेरे पीछे मेरे कूल्हों को फैला कर अपना बहुत सारा थूंक लगा कर मेरी गान्ड में सुरेंद्र जीजा बोले की आज बंध्या तेरी मस्त गांड मै चोदूंगा,

और अंकल आप बंध्या की चूत में अपना लन्ड घुसा दिजीए, अंकल बोले सच-सच बता बंध्या आज तक में तूने कितने मर्दों से चुदाई करवायी हो, कितनी बार अपनी चूत में लन्ड खाई है, मैं बोली अंकल आप की कसम अपनी कसम फर्स्ट टाइम है पहली बार आज आप करोगे, अभी तक कभी नहीं करवाई। फिर अंकल बोले सुरेंद्र देखो बंध्या कितना झूठ बोल रही है। सुरेंद्र जीजा बोले यह सच में रंडी है बहुत बदनाम है अपने नगर में यह ना जाने कितनों के लन्ड ले चुकी है। मैं फिर बोली जीजा आप गलत समझ रहे हैं, मैं जानती हूं यह सच भी है कि मैं बहुत बदनाम हूं,और मेरे नगर में और आस पास के लोग यही समझते हैं कि मैं पैसे लेकर लोगों के साथ सेक्स करती हूं, उनके साथ सोती हूं, पर ऐसा सब मेरी मम्मी के कारण लोग मेरे बारे में ऐसा सोचते हैं और बातें करते हैं। मैं अब सच बता देती हूं एक कमलेश सर हैं जो ट्यूशन पढ़ाते हैं वही बस मुझे टच किए हैं ,

More Sexy Stories  मामा की लड़की की सेालटोड़ चुदाई

उनका लन्ड मुंह में लेकर चूसी हूं, और वह मेरे नीचे चूत को चाटे हैं। पर अपना लन्ड मेरी चूंत में नहीं घुसाया, मतलब डाला नहीं। मैं झूठ नहीं बोल रही फर्स्ट टाइम आज आप दोनों चोदने वाले हो। मेरे मुंह से सब कुछ अपने आप साफ-साफ निकलने लगा, तभी अंकल बोले चल रंडी झूठ मत बोल तेरी चूत और दूध ऐसे बता रहे हैं कि तू बहुत बड़ी चुददकड़ है। और फिर बोले बता लन्ड लेगी अपने चूत और गांड़ में हम दोनों चोदें, मैं बोली हां अंकल मैं मर रही हूं मुझे चोद दो जम के, अंकल बोले तेरी चूंत बहुत पतली है छोटी है दो लन्ड ले पाएगी, मैं बोली हां अंकल जैसा आप दोनों को ठीक लगे, तभी सुरेंद्र जीजा बोले मैं तो बंध्या की आज गांड चोदूंगा और अंकल आप चूंत में डालो, तभी दोनों मेरे ऊपर आ गये मुझे टेढ़ा करके लिटा दिया, अब मेरे पीछे तरफ सुरेंद्र जीजा मुझसे लिपटकर मेरे पीछे से दूध पकड़ कर सुरेंद्र जीजा मेरी गांड में अपना लन्ड फिट किए, और सामने तरफ मकान मालिक अंकल मेरी कमर को पकड़ कर मेरी मेरी चूत के लिए मेरी टांगों को फैला कर जैसे ही अपना लन्ड मेरी चूंत में टच कराया मैं अंकल को कसके मैंने पकड़ा और उन्हें अपनी ओर खींच ली ताकि उनका लन्ड मेरी चूंत में घुस जाये पर यह मेरी नादानी थी,

पीछे से मुझे कसकर सुरेंद्र जीजा पकड़ लिए और बोले बंध्या आज तू मेरी साली नहीं मेरी घरवाली है और तेरे साथ मैं सुहागरात मना रहा हूं।उधर अंकल मेरी टांगो को फैला कर अपना लन्ड मेरी चूत में टच करा ही चुके हैं, मैं उन्हें कस के अपनी बाहों में जकड़ कर बिल्कुल अंकल से लिपट गई और अपनी कमर उठा दी तो फिर अंकल मेरे होठों को चूसने के लिए उन्होंने मेरे होठों पर अपने होंठ रख दिए, उनका नंगा सीना अब मेरे सीने से चिपका हुआ था, मेरे बूब्स पर उसका सीना भी चिपक गया था, अब अंकल अपना लन्ड जोर से मेरी चूंत में घुसाने लगे, मुझे बहुत दर्द होने लगा, मैं बहुत तेजी से चिल्लाने लगी कि छोड़ दो मुझे और रोने भी लगी ऐसा लगा जैसे मेरे प्राण निकल गये, पर अंकल नहीं रुके और जोर से एक धक्का मारा अपने लन्ड का जिससे मैं और जोर से रोने लगी,

More Sexy Stories  चाचियों की साथ ग्रूप सेक्स

उधर सुरेंद्र जीजा भी मेरे कूल्हों को पकड़ कर मेरी गान्ड को फैलाया फिर पीठ पर हाथ रखकर पीछे से कमर पकड़कर पीठ पर जोर लगाकर एक जोर से धक्का मारकर मेरी गान्ड पर अपने लन्ड को घुसा दिया, मुझे बहुत ज्यादा दर्द गांड में होने लगा , घुस नहीं नहीं रहा था तो उन्होंने बहुत सारा थूंक लगाया और अंदर डाल दिया बहुत तेज दर्द हुआ जैसे कि मेरी गांड फट गई हो और मैं चीखने लगी। तभी अंकल मेरे होठों को अपने होठों से कस लिया और चूसने लगे, और बोले बंध्या बस थोड़ा रुक जा और जोर से मेरी कमर पकड़कर अंकल ने बहुत जोर का धक्का मारा पूरा अंकल अपना लन्ड मेरी चूंत में घुसा दिया, मैं बिल्कुल चिल्लाने लगी और बोलने लगी छोड़ दो, निकालो मैं मर जाऊंगी, बहुत दर्द हो रहा है निकालो मुझे नहीं कराना,

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13 14