दोस्त की बीबी 3 मर्दों से एक साथ चुदी

मेरा नाम विराज है। जालौन (यू पी) का रहने वाला हूँ। मैं अभी कुवारा हूँ। मुझे सेक्स करने बेहद पसंद है। मैंने अपने दोस्तों की बीवियों को पटाकर चोद लेता हूँ। इसी तरह मैं चूत का जुगाड़ कर लेता हूँ। मेरी 2 गर्लफ्रेंड भी है—रिद्धि और सिद्धि। दोनों सगी बहने है। दोनों को मैं एक साथ चोदता हूँ। उसको कोई आपति नही होती है और मेरे लंड को चूस चूसकर चुदाती है।
1 महीने पहले की बात है मेरा दोस्त मुन्ना अपनी बीबी की सामूहिक चुदाई करना चाहता था। मुन्ना मेरे छुटपन का दोस्त था और बहुत सेक्सी आदमी था। वो मीठा भी था और अपनी गांड हम दोस्तों से मराया करता था। जब उसकी बीबी नई नई शादी होकर आई थी तो मैंने कहा था की अपनी बीबी की चूत दिलवा दे। मुन्ना ने मुझसे वादा किया था की एक दिन वो मुझे जरुर अपनी बीबी की चूत दिलवा देगा। आज उसने मुझे सुबह सुबह की काल किया।
“देखा विराज!! मैं चाहता हूँ की आज तू मेरी बीबी को चोदे। असल में मैं उसकी सामूहिक चुदाई करना चाहता हूँ। अपना दोस्त बलदेव भी आ रहा है” मुन्ना बोला
उसकी बात सुनकर मैं फूले न समाया। आपको बता दूँ की मुन्ना की वाईफ सुलू बहुत मस्त माल थी। काफी सेक्सी औरत थी और रात में नंगी होकर खूब चुदाती थी। सुलू शादी से पहले ही कई बॉयफ्रेंड से चुद चुकी थी। बिना लंड खाए उसका काम ही नही चलता था। वो आम भारतीय बीवियों की तरह नही थी जो किसी मर्द से बात करने में शर्म करती है। सुलू खुले दिमाग की लड़की थी। जब मुन्ना से सुलू की शादी होने वाली थी वो मुन्ना से उससे पूछा था की क्या उसका कोई बॉयफ्रेड है। सुलू ने उसे साफ़ साफ बोल दिया था की उसके 5 बॉयफ्रेंड से जो उसकी रोज चुदाई करते थे।

सुलू से कहा था की उसकी चुदने की प्यास बहुत जादा है। अगर मुन्ना उससे शादी करे तो रोज रात में कम से कम 2- 3 बार उसकी चूत बजाए। मुन्ना को सुलू का सेक्सी रूप बहुत पसंद आया था। उसने तुरंत सुलू से शादी कर ली थी।
रात हो गयी। मैंने अपनी हाथ घड़ी में देखा तो ठीक 9 बजे थे। मुन्ना की मिस्काल आ गयी। मैं उसके घर चला गया। फिर हम दोनों का दोस्त बलदेव भी आ गया। कुछ देर में सुलू हम तीनो के पास आकर बैठ गयी। दोस्तों वो कयामत लग रही थी। गोल्डन कलर के चमकदार कपड़े का उसने ब्लाउस पहना हुआ था जो आगे से काफी गहरा था। सुलू की मस्त मस्त छातियाँ उसमे साफ साफ दिख रही थी। मैं और बलदेव दोनों मुन्ना की बीबी सुलू की जवानी देखकर मस्त हो गये। मैं भी हंसने लगा और बलदेव बी हंसने लगा।
सुलू हम दोनों को देखकर मुस्कुरा दी।
“नमस्ते जी!!” वो मेरी और बलदेव की तरफ देखकर बोली
“अरे भाभी!! आज तो कयामत दिख रही हो” मैंने और बलदेव ने एक साथ कहा
“आज आप तीनो की सेवा एक साथ करूंगी” सुलू सनी लिओन की तरह मचलकर बोली
“कैसी लगी मेरी बीबी??” मुन्ना से हम दोनों से पूछा
“भाई लंड खड़ा हो गया” हम दोनों बोले
सुलू से नेट वाली साड़ी पहनी थी जिसमे उसके भरे हुए जिस्म के अंग साफ़ साफ़ दिख रहे थे। वो बहुत सुंदर और सेक्सी दिख रही थी। वो फ्रिज के पास गयी और हम तीनो के लिए बियर की बोतल ले आई। मैं, बलदेव और मुन्ना साथ में सोफे पर आराम से पैर फैलाकर बियर पीने लगे। बियर बिलकुल चिल्ड थी। मजा आ गया था।
“आओ जान!! आज तुमको 3- 3 मर्दों से एक साथ चुदवा दूंगा। बहुत दिनों से तुम 3- 3 लंड एक साथ खाना चाहती थी। सामूहिक चुदाई करना चाहती थी। आज तुम्हारा सपना पूरा हो जाएगा” मुन्ना अपनी बीबी की तरफ देखकर बोला

More Sexy Stories  प्रोफेसर के साथ मेरी सुहागरात

“अजी!! मैं तो कबसे आपके दोस्तों के लौड़े खाने को मचल रही हूँ” सुलू बोली और हमारे बीच में आकर बैठ गयी। उसने मेरी और बलदेव की जींस वाली पेंट की बटन खोल दी और हम दोनों के लौड़े बाहर निकाल लिए। सुलू हम दोनों के लौड़े जल्दी जल्दी फेटने लगी। मेरा लंड 6” लम्बा और बलदेव का लौड़ा 7” लम्बा था। सुलू ने दोनों के लंड पकड़कर बाहर निकाल लिए और जल्दी जल्दी फेटने लगी। वो बहुत बोल्ड स्वाभाव की औरत थी। जल्दी जल्दी फेट रही थी। मैं तो “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” करने लगा। बलदेव भी सी सी सी सी करने लगा। उसको भी खूब मौज आ रही था। उधर मुन्ना भी शुरू हो गया। आज उसकी बीबी सुलू को तीनो मिलकर चोदने जा रहे थे। मुन्ना से अपनी बीबी की साड़ी को पेटीकोट के साथ ही उपर उठा दिया। उसके सफ़ेद संगमरमर जैसे चिकने चूतडो के दर्शन मुझे और बलदेव दोनों को हो गये।
“आओ छू देकर देखो” मुन्ना बोला
मैं और बलदेव हंसने लगे। फिर अपना अपना हाथ सुलू के पुट्ठो पर रख दिया। ओह्ह गॉड!! कितने सेक्सी पुट्ठे थे। मैं और बलदेव अब चूतड़ पर हाथ घुमा रहे थे। कितना सेक्सी अहसास था वो। कितना मजा मिल रहा था। सुलू जमीन पर झुककर हम दोनों के लंड फेट रही थी और मुंह में लेकर चूस रही थी। धीरे धीरे मुन्ना से सुलू की साड़ी उतार दी। उसके पेटीकोट की डोरी खोल दी। उसे निकाल दिया। अब सुलू हम तीनो के सामने सिर्फ ब्लाउस और पेंटी में थी।
“जान!! अपना ब्लाउस उतारो और मेरे दोस्तों को अपनी भरी हुई रसीली चूचियों के दर्शन करवाओ” मुन्ना बोला
सुलू खड़ी हो गयी और अपने ब्लाउस की बटन खोलने लगी। फिर ब्रा भी उतार दी। उसके दोनों बूब्स 36” से भी जादा बड़े थे और जब उसके मम्मे के दर्शन हुए तो बलदेव और मेरी नजरे फटी की फटी रह गयी। इतनी सेक्सी माल थी सुलू।

More Sexy Stories  मुस्लिम हॉट आंटी की चुदाई कहानी

Pages: 1 2