स्टोरी रीडर की प्यास और मेरी सॅटिस्फॅक्षन

हेलो फ्रेंड्स मैं साहिल आप सब ने मेरी पहली भी कई स्टोरी रीड की है अभी लास्ट स्टोरी “चुदक्कड आंटी” लिखी थी जो अभी भी कंटिन्यू है और उसका अगला पार्ट जल्द ही पोस्ट करूँगा लेकिन ये स्टोरी जल्दी शेर करना चाहता हूँ इसी लिए पहले इस स्टोरी को सब्मिट कर रहा हूँ अब स्टोरी पर आता हूँ मेरी लास्ट स्टोरी के पार्ट्स पर बहुत अछा रेस्पोन्से मिला मुझे और जेंट्स से ज़्यादा लॅडीस के मेल्स आएँ और सबने मेरी सेक्स लाइफ के बारें मे बात की और अपनी सेक्स लाइफ के बारें मे भी बताया उन्ही मे से एक लेडी ने मुझ से कई दिन तक चॅट की और पूरी सटीस्फ़ाक्शण करने के बाद बोला की वो भी सेक्स की बहुत प्यासी है क्यूँ की उनके हज़्बेंड और उनके बीच डिवोर्स्ड होने के बाद वो दोबारा शादी नही करना चाहती थी और इसी लिए अब अकेले अपनी मा के साथ मुंबई मे रहती है, उन्होने बताया की उनकी एज 30 ईयर है और उनका नाम सुनीता है और कई दिन बाद मैने उन्हे अपना सेल नंबर दे दिया फिर हमारी बात होने लगी.

जब मुझ से वो पूरी संतुष्ट हो गयी तब उन्होने मुझे सेक्स का ऑफर दिया उन्होने कहा की वो हमेशा अपने पति से चुदवाति थी कोई दिन ऐसा नही जाता था जब वो आपनी चुत और गॅंड ना मरवाति हो और यही अब मेरी कमज़ोरी बन चुकी है अब मैं अकेले रह कर बहुत प्यासी हूँ तुम्हारी स्टोरी पढ़ने के बाद मुझे लगा की शायद तुम ही मेरी इस कमज़ोरी को बिना कोई प्रॉब्लम के सॉल्व कर सकते हो मैने भी उन्हे पूरा भरोसा दिलाया की मैं भी सिर्फ़ चुत और गॅंड का प्यासा रहता हूँ और मुझे कुछ नही चाहिए तो फिर कई दिन निकल गये इसी तरह फिर उन्होने मुझे चुदाई के लिए बोला मैं बोला जब भी तुम्हे मुझ पर ट्रस्ट हो जाए तुम मुझ से चुदवा लेना वो बोली अब मैं तुम पर भरोसा कर सकती हूँ और फिर उन्होने मुझे नेक्स्ट संडे को फ्री रहने को बोला मैने भी ओके बोल दिया और पूरा वीक हम फोन सेक्स करते हुए निकाल दिया और संडे भी आ गया संडे को वो मुझे कॉल कर के एक जगह बुलाई मैं रेडी हो कर उनसे मिलने के लिए निकल पड़ा.

More Sexy Stories  एक चुड़क्कड़ रीडर की चुदाई

और दिल मे एक घबराहट सी भी हो रही थी की कैसी लेडी होगी कहीं कुछ प्रॉब्लम ना हो जाए इन्ही सब बातों को सोचते हुए मैने सोचा क्यू ना टॅबलेट खा लून क्या पता उसकी प्यास अधूरी ना रह जाए और मैने मेडिकल से कुछ चॉकलेट्स और टॅबलेट ले कर पास मे होटल से गरम दूध के साथ खा ली लोकल ट्रेन से निकल पड़ा, मैं उनकी बताई हुई जगह पर पहुँच गया आस पास काफ़ी लॅडीस थी क्यूँ की वो एक गार्डेन था फिर मैने कॉल किया तो मुझे थोड़ी दूर से एक लेडी ने हवा मे हाथ लहरा कर कन्फर्म किया वो एक ग्रीन साड़ी मे थी एक दम स्लिम बॉडी थी दुबली पतली सी थी उनका रंग ज़्यादा गोरा तो नही था मीडियम ही था मगर मेक अप किया हुआ था और काफ़ी मस्त लग रही थी मैं धीरे धीरे उनके पास गया फिर हम एक जगह बैठ गये और जनरल बातें करने लगे मैने सेक्स टॅबलेट खाई थी और अब उसका असर होने लगा था मैं बोला क्या प्रोग्राम है तो वो बोली मैने मेरी एक बेस्ट फ्रेंड है वो अभी अपने पति के साथ आगरा टूर पर गयी है.

मैने उसके घर की चाबी ले ली है वही चलते है और इसी लिए मैने तुम को एक वीक तक इंतेज़ार करवाया क्यूँ की मैं सब कुछ गुप्त रखना चाहती हूँ मैं बोला ठीक है, हम दोनो टॅक्सी से उनकी फ़्रेंड के घर पर चल पड़े जब हम टॅक्सी मे बैठे तो उसने मुझे चुपके पूछा कॉंडम ले लो मैं बोला मैं ले कर आया हूँ वो एक सेक्सी स्माइल दे दी फिर हम पहुँच गये एक छोटा सा घर था उन्होने दरवाज़ा खोला हम अंदर चले गये हम दोनो अब पूरी तरह खुल चुके थे वो मुझे बेडरूम मे ले गयी और बोली तुम बैठो मैं पानी लेकर आती हूँ वो पानी लेकर आई और मैं पानी पी रहा था वो अपनी साड़ी उतारने लगी मैं उसे देख रहा था वो धीरे धीरे मुझे बेड पर गिराते हुए मेरे लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए मैं पहले ही गरम था उनकी कमर पकड़ कर कस कर किस करने लगा वो भी मेरे होंठ को पूरा अपने मुँह मे दबोच लिया और चूसने लगी मुझे समझ मे आ गया था ये बहुत ही चुदक्कड लेडी है.

More Sexy Stories  मेरे ही दोस्त मेरी मेरी सगी बहन के साथ क्या सेक्स

मैने उनके बूब्स जो की ज़्यादा बड़े तो नही थे मगर बहुत नरम और सिल्की थे मैं दबाने लगा वो किस तोड़ते हुए आहें भरने लगी मैने एक हाथ नीचे उनकी पैंटी पर भी घूमने लगा वो पूरी तरह मस्त हो रही थी फिर मैने उनको नीचे करके उनकी ब्रा उतार दिया और उनके चोकलेटी निप्पल्स को मुँह मे भर लिया वो मेरे सिर को अपने बूब्स पर दबाने लगी मैं उनकी पैंटी पर भी उंगलिया चला रहा था वो मेरे सिर को नीचे सरकाने लगी मैं उनके कमर पर किस करने लगा वो अपने बूब्स दबाते हुए मचलने लगी अब मुझ से रहा नही गया और मैने उनकी पैंटी भी उतार दिया उनकी चुत पूरी क्लीन थी शायद आज ही कर के आई थी क्यूँ की क्रीम की खुशबू अभी भी आ रही थी मैने उनकी चुत को फैला कर के उनकी चुत के दाने पर अपनी जीभ रख दी वो सहर उठी फिर मैने अपनी जीभ को नोकिली बना कर उनकी चुत मे चलाने लगा वो मेरे सिर को चुत मे दबा कर यीह याहह ऊओह बोलते हुए मेरे बालों को नोचने लगी.

Pages: 1 2