सेक्सी स्टोरी मम्मी और पोलीस अंकल

Indian Maa Beta Hindi Sexy Story Mummy Aur Police Uncle हाई., फ्रेंड्स मेरा नाम कारण है, मेरी एज 22 है, मेरी मॉम का नाम पायल है उनकी एज 42 है, मेरे पापा का नाम रवि है उनकी एज 50 है, हम लोग मिड्ल क्लास फॅमिली से है. इंडियन मा बेटा हिन्दी सेक्सी स्टोरी

मेरी मॉम एकदम गोरी है उनके अंगुपान भराव दार है, उनकी हाइट 5.5 और उनका फिगर 38-32-40 है, मेरी मॉम को मोहल्ले का हर कोई मर्द देखे बिना नही रहता है, पापा एकदम दुबले पतले है, मैं अपने माता पिता की एकलौती संतान हू, मम्मी पापा की अरेंज्ड मॅरिज हुई थी.

मम्मी पापा की सोच बोहोत कम मिलती है इसलिए आए गये दिन उनके झगड़े होते ही रहते है, पापा मम्मी की चुदाई भी हफ्ते मे एक ही बार करते है, इसलिए मम्मी को कई बार चुत मे उंगली करते देखा है.

ये बात तब की है जब मैं **वी कक्षा मे पड़ता था, मम्मी के किसी रिश्तेदार के यहाँ कोई प्रसंग था जो गाँव मे रहते थे तो हमे वहाँ जाना था, पर पापा नही आए अपने काम की वजह से मैं और मम्मी बस हम अकेले निकल गये, बीच रास्ते मे एक बस्ती मे दंगा हो गया था.

कुछ लोग आते जाते वाहनो पर पत्थराव कर रहे थे, कुछ लोगो ने हमारी बस को रोक के तोड़ फोड़ करनी शुरू कर दी, बस मे सब लोग डर गये थे, मम्मी ने मुझे अपनी गोद मे दबा लिया था, मम्मी डर के मारे काँप रही थी, मेरा भी बुरा हाल था, सब डर के चिल्ला रहे थे.

इतने मे पोलीस की जीप का सायरन का आवाज़ आया, पोलीस आई तो जो लोग दंगा कर रहे थे वो सब भाग गये पर बस ड्राइवर को घायल कर दिया था, पोलीस ने हम सब को बस मे से उतारा और कहा, देखिए आप सब घबराईए मत मैने अभी आंब्युलेन्स बुला ली है, वो ड्राइवर को ले जाएँगी, शहर का महॉल बोहोत खराब है ना आप सब लोग आगे जा सकते है ना पीछे मूड सकते है.

More Sexy Stories  माँ और ससुर की नंगी चुदाई देखी

माहॉल शांत होने तक आप लोग यहाँ पे एक आश्रम है वहाँ पे रुके आप सब लोग की ज़िम्मेदारी हमारी, फिर वो पोलीस वाले हमको आश्रम की और ले जाने लगे, डर के कारण मम्मी के कारण मम्मी का बी.पी, लो हो गया तो वो बेहोश हो के गिर गयी, मूज़े कुछ समझ मे नही आया.

तो मैं चिल्लाने लगा ‘मम्मी.. मम्मी, क्या हुआ..’ मेरी आवाज़ सुन के एक पोलीस अंकल आए और मम्मी को देखा मुझे पूछा, क्या हुआ बेटा ये तुम्हारी मम्मी है, मैने कहा हा, क्या हुआ इन्हे..? कुछ नही बेटा, लगता है इनको चक्कर आ गया है इन्हे जल्द ही हॉस्पिटल ले जाना पड़ेगा.

फिर वो पोलीस अंकल ने दूसरे पोलीसवाले को बाकी लोगो को अशरम छोड़ आने को कहा, और वो पोलीस अंकल हमारे पास बैठ गये. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

थोड़ी देर मे आंब्युलेन्स आई पहले बस के घायल ड्राइवर को चढ़ाया और मम्मी अभी भी बेहोश थी तो वो पोलीस अंकल ने मम्मी को गोद मे उठा के आंब्युलेन्स मे चढ़ा दिया और मैं भी साथ मे आंब्युलेन्स मे चढ़ गया, पोलीस अंकल भी आंब्युलेन्स मे साथ मे ही थे.

उन्होने मुझसे मेरा नाम पूछा और फिर मम्मी का और हम कहाँ रहते है ये सब पूछा, पोलीस अंकल आछे ख़ासे हटे कटे थे लंबे उँचे मुछे भी थी उनकी, बोहोत आछे से बात कर रहे थे, बेहोशी के कारण मम्मी की साड़ी का पल्लू साइड मे हो गया था तो मम्मी का गोरा पेट और खुली छाती को घुरे जा रहे थे, .

फिर अंकल ने साड़ी सही करदी और हम हॉस्पिटल पहोच गये, अंकल ने मम्मी को गोद मे ही उठा के हॉस्पिटल के अंदर ले गये और स्ट्रेचर पे लिटा दिया और डॉक्टर को बुलाने लगे एक डॉक्टर आया और मम्मी को चेक किया और कहा, फिकर की कोई बात नही है इनका बीपी लो हो गया है इनको बॉटल चढ़ाएँगे तो होश आ जाएगा.

More Sexy Stories  देसी मम्मी की देसी चुदाई

और मम्मी को बॉटल चढ़ा दिया गया, वो पोलीस अंकल ने मुझसे पापा का नं., लिया और फोन किया, और बताया की आप फिकर ना करें हम सही सलामत है, अभी इस शहर मे कर्फु है कर्फु के हटते ही मम्मी को और मुझे घर पहोचा देंगे, और मुजसे कहा बेटा तुम यहाँ पे ठहरना मैं काम निपटा के आता हूँ, और वो अंकल चले गये.

कुछ वक़्त बाद मम्मी को होश आ गया तो वो घबरा गयी अपने आप को हॉस्पिटल मे देख के, और मुझे पूछने लगी बेटा हम यहाँ कैसे आ गये, तो मैने मम्मी को सब बता दिया की कैसे पोलीस वाले अंकल ने हमारी हेल्प की, और ये भी बता दिया की पापा से बात कर ली है पोलीस वाले अंकल ने, इतनी देर मे डॉक्टर ने मम्मी को चेक किया और कहा आप बिल्कुल ठीक है अब बस थोड़ा आराम करना है.

तो पिछले पार्ट मे आपने पढ़ा की कैसे मैं और मम्मी रास्ते मे फँस चुके थे और मम्मी बेहोश हो गयी थी और एक पोलीस वाले ने हमारी मदद की मम्मी को टाइम पे हॉस्पिटल ले गये थे, अब आगे, शाम को वही पोलीस वाले अंकल हॉस्पिटल वापस आए पर कॉँमन ड्रेस मे थे पोलीस यूनिफॉर्म नही पहना था.

वो सीधा मम्मी के पास आए और उनका हाल चाल पूछा मैने मम्मी को बताया ये वही पोलीस वाले अंकल है, तो मम्मी ने उनको शुक्रिया कहा, अंकल ने कहा इसमे शुक्रिया की कोई बात नही ये तो मेरा फ़र्ज़ है, आप निशचिंत रहिए, अब आप कैसी है ?
मम्मी – अभी पहले से बेहतर हू, मुझे घर जाना है, मेरे पति चिंता कर रहे होंगे.

Pages: 1 2