सेक्सी जवानी मौसी की

Indian Sex Story In Hindi sexy jawani mausi ki chudai हेलो दोस्तो मेरा नाम सलमान है और आज मैं आपको अपनी एक कहानी बताने जा रहा हूँ जो की मेरी दूर की मौसी के साथ की है. तो ज़्यादा समय ना वेस्ट करते हुए आपको इंडियन सेक्स स्टोरी इन हिन्दी प्यार भरा परिवार पर ले चलता हूँ.

मैं गुरगाओं मे रहता हूँ और मेरी दूर की मौसी जो की अब यहा आ गई है और वो मेरे चाचा-चाची के साथ रहती है. मेरी मौसी की उमर 36 साल है और उनकी अभी शादी नही हुई है. मेरी मौसी दिखने मे बहोत सुंदर है और उनका फिगर देखकर तो मेरा हथियार भी खड़ा होजाता है.

एक दिन की बात है जब मैं अपने चाचा-चाची के घर गया तो वाहा पहोच कर मैने डोरबेल बजाई तो करीब 2 मिनिट बाद मौसी हाफ़ती हुई दरवाजा खोलने आई और उन्हे ऐसे हाफते हुए देख कर मैं कुछ समझ नही पाया की आख़िर वो इतना हाफ़ क्यो रही थी. फिर मुझे उन्होने अंदर आने को कहा तो मैने उनसे चाचा-चाची के बारे मे पूछा तो उन्होने मुझे बताया की वो कही नहर गये हुए है और 2 दिन तक आएँगे.

उनकी ये बात सुनकर अब मैं अपने घर की और वापिस आने लगा तो उन्होने मुझे रोकते हुए कहा- बाहर बहोत गर्मी है कोल्ड ड्रिंक पी कर जाओ. अब मैं उनकी बात मान ली और बैठ गया तो वो हम दोनो के लिए कोल्ड्रींक ले आई और मैं बैठकर बाते मारते हुए उन्हे देखने लग गया. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मेरे मन मे एक ही सवाल था की आख़िर कार मौसी इतनी हाँफ क्यो रही थी इसलिए मैने डरते हुए पूछ ही लिया तो वो मेरी बात सुनकर घबरा गई और उसके बूब्स अब उसके गाउन के बाहर ज़्यादा उछलते हुए नज़र आने लग गये तो मैने सोचा कुछ तो गोलमाल ज़रूर है इसलिए मैं उससे वॉशरूम का कह कर बिना उसे पूछे सीधा वॉशरूम चला गया और जैसे ही मैं वॉशरूम पहुचा तो मैं वाहा देख कर हैरान रह गया.

More Sexy Stories  मेरी चुदक्कड़ भाभी धंधा करती है

वाहा पर मैने देखा की वाहा बहोत सारे लंबे लंबे बेगन पड़े थे और मौसी की पैंटी और ब्रा भी पड़ी थी. मैं ये सब देख कर समझ गया की मौसी सिर्फ़ और सिर्फ़ गाउन मे है और फिर मैं बाहर आ गया. अब जब मैं आया तो मौसी मुझे कुछ अलग नज़रिए से देखने लग गई तो मैं बोला – मौसी मैं जान गया हूँ की आप क्या कर रही थी.

अब मौसी मुझे देख कर मुस्कुराइ तो मैने उनके होंठो के करीब अपने होंठो को रख कर चूसना शुरू कर दिया. और उन्हे चूस्ते हुए उनके बूब्स पर हाथ रख कर मसलने लग गया जिससे मौसी की गर्माहट उनके मूह से सिसकारी बन के निकलने लग गई. अब मैं उन्हे ऐसे ही बेड रूम मे ले गया और अपने होंठो को उनके होंठो से बिना छोड़े किस करता ही चला गया और फिर जब मैने उसके कपड़े उतारे तो वो बोली – अभी रुक जाओ, मैं तैय्यार हो कर आती हूँ फिर करते है.

मैं- तैय्यार किस लिए.

मौसी – तुम मुझे आज के लिए अपनी पत्नी की तरह प्यार करना और मेरी भी शादी नही हुई है इसलिए मैं सुहाग्रात ना सही, सुहागदिन तो मना ही सकती हूँ.

फिर वो ड्रेसिंग रूम मे तैय्यार होने चली गई और फिर जब 15 मिनिट बाद आए तो किसी अप्सरा से कम नही लग रहे थे और फिर मैने उन्हे अपनी बाहोमे भरा और लीप किस करने लग गया. वो बोली- हमारे पास बहोत समय है इसलिए हम सब कुछ आराम से करने लग गये और फिर करीब आधे घंटे तक हमने एक दूसरे के कपड़े उतारे और फिर मैं उनके बूब्स को मूह मे भरकर चूसने लग गया जिससे उनके मूह से सिसकारी निकल गई और उन्होने अपने हाथ से दबा कर मेरे सिर को अपने बूब्स मे दबा दिया.

फिर वो आअहहे भरती चली गई और मैं अब अपने लंड को उनके हाथ मे समा दिया और जैसे ही उन्होने मेरे लंड को पकड़ा तो वो घबरा गई तो मैं बोला – घबराने की कोई ज़रूरत नही है बस इसे प्यार करो.

More Sexy Stories  कॉलेज के सिर के साथ चूत चुदाई

अब मैने उन्हे लंड को चूसने को कहा तो पहले उन्होने कहा की मैं अंदर लूँगी कैसे तो मैने कहा की तुम एक बार लो तो सही. फिर मेरे कहने पर उन्होने मेरे लंड को हाथ मे पकड़ कर जीब लगानी शुरू कर दी और उनके ऐसे करने से लंड पागल हो गया और जब लंड मूह मे गया तो मैने बिना कोई परवाह किए उनका सिर पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से गले मे अपने लंड को उतारने लग गया और उनके गले की थूक से तो लंड का निकलने वाला हो गया पर निकलने से पहले उसके मूह से लंड बाहर आ गया.

अब हम दोनो बहोत गरम हो चुके थे इसलिए हमे इतना पसीना आ रहा था की ए.सी की हवा भी नही महसूस हो रही थी.

अब मौसी मेरे लंड को हाथ मे लेकर उपर नीचे कर रही थी और मेरे से चिपक रही थी ताकि लंड को वो आछे से मसल सके. इसलिए अब मेरी आँखो के सामने अब बूब्स भी आ गये थे जिसको उन्होने मुझे चूसने को कहा तो मैने उनका लेफ्ट बूब मूह मे भरकर चूसना शुरू कर दिया और इसके चलते मौसी मेरे उपर आकर लंड को रगड़ने लग गई जिसके चलते मैने अब एक दम से उनकी चूत मे लंड घुसा दिया और ज़ोर ज़ोर से उपर नीचे होकर उनकी चूत मे लंड डालने लग गया.
अब वो भी मज़े से लंड को अंदर तक लेने के लिए उपर हो कर उछलने लग गई और तब मुझे बहोत अछा लगा और मैं उनके बूब्स को मसलता हुआ उन्हे करीब 30 मिनिट तक चोदता रहा और फिर करीब 30 मिनिट की चुदाई के बाद लंड और चूत का पानी निकल गया और हम दोनो ऐसे ही थोड़ी देर लेट गये.

Pages: 1 2