सेक्सी इंडियन आंटी के दूध पिए

sexy indian aunty ke doodh सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। नॉनवेज स्टोरी के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी। सेक्सी इंडियन आंटी के दूध पिए हेलो दोस्तो, मैं अमन देल्ही से आज अपनी ज़िंदगी की एक खूबसूरत घटना ले कर आया हूँ. मुझे उमीद है आप सब को मेरी पहली और एक छोटी सी मस्त इंडियन आंटी सेक्स स्टोरीस देसी चुदाई घटना पसंद आएगी.

मैं आप सब दोस्तो से एक रिक्वेस्ट करना चाहूँगा की आप सब मेरी पूरी कहानी पढ़ कर मुझे कॉमेंट्स और ईमेल के ज़रिए मुझे ये ज़रूर बताएँ की मेरी कहानी मे क्या कमी है और मैं उसे कैसे और अछा कर सकता हूँ. ताकि आगे से आप के लिए और भी अछी कहानी लिख सकु.

तो दोस्तो, अब मैं आप सब का ज़्यादा टाइम ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ. ये बात तब की है जब मेरी उमर 21 साल की थी. मेरी स्टडी कंप्लीट हो चुकी थी. मुझे एक अछी सी जॉब की तलाश थी और जल्दी ही मुझे एक अछी सी जॉब भी मिल गई वो जॉब एक बड़ी कंपनी मे थी और मेरा काम सिर्फ़ मार्केटिंग का था.

इस लिए मुझे कंपनी वाले पूरे इंडिया मे अपनी कंपनी की प्रमोशन के लिए इधर उधर भेजते रहते थे. मुझे शुरू मे बहोत दिक्कत हुई पर बाद मे सब अछा लगने लग गया. एक बार की बात है मुझे कंपनी ने बांगलौर मे करीब 3 मंथ के लिए भेज दिया क्योकि वो अपना एक नया प्रॉडक्ट्स वाहा के लिए लॉंच करने जा रही थी इस लिए पहले ही मुझे आछे से प्रमोशन करना था.

More Sexy Stories  मस्त राधा रानी

मैं बंगलौर चला गया वाहा पर मुझे 3 मंथ रहना था इसलिए मैने एक रेंट पर कमरा ले लिया. मेरी किस्मत बहोत अछी थी की मुझे वर्मा अंकल के घर मे एक रूम रेंट पर मिल गया. वर्मा अंकल के घर मे रहना मानो अपने घर मे रहने जैसा था. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

उनके घर मे वो और उनकी वाइफ सरला जिसकी उमर करीब 35 साल होगी. और उनकी एक बेटी थी जो की कॉलेज के हॉस्टिल मे रह कर स्टडी करती थी. मुझे उनके घर रहते हुए करीब आधा मंथ हो चुका था. मुझे सच मे बहोत अछा लग रहा था वाहा पर रहना क्योकि मुझे वाहा रहते हुए कभी अपने घर की याद नही आई.

मैं सुबह उठ कर 9 बजे ऑफीस के लिए निकल जाता और शाम को 6 या 7 बजे घर वापिस आ जाता. सरला आंटी मुझे मम्मी की तरह प्यार करती थी वो आते ही मुझे पानी, टी देती और मेरे काम के बारे मे सब कुछ पूछती. ऐसे ही करीब एक महीना गुजर चुका था. और मैने बीच बीच मे काफ़ी बार नोटीस किया था की आंटी मुझे कुछ ग़लत नज़ारो से देख रही है. जब वो मुझे ऐसे देखती थी तो मेरे पूरे जिस्म मे मानो बिजली सी दौड़ रही हो.

मुझे बहोत शरम आती थी क्योकि मुझे वो ऐसे देखती थी, मुझसे उमर मे वो काफ़ी बड़ी थी और उनकी एक बेटी भी थी. पर वो मुझे ऐसे ही देखती थी पर मैने कोई रियाक्त नही किया पर हद तो तब हो गई जब हम रात को एक साथ डिन्नर करते थे तब भी आंटी मुझे वैसे ही देखने लग गई.

अब मुझे समझ नही आ रहा था की ये मेरे साथ क्या हो रहा है. मैने आंटी के साथ ये सब करता हुआ अछा लगूंगा, फिर मेरे दिमाग़ मे आइडिया आया की जब वो ही चुदने को तैइय्यार है तो मुझे आंटी को चोदने मे क्या हर्ज है. वैसे ही आंटी इस उमर मे होने के बाद भी कमाल और कसे हुए फिगर की मालकिन थी.

More Sexy Stories  मेरी पहली ग्रूप चुदाई

अब मैने सोच लिया था की जैसे ही मुझे मौका मिले तो इसे चोद कर ही हटूँगा. कुछ दिन ऐसे ही चलते रहे. एक शाम जब मैं अपने ऑफीस के काम से घर वापिस आया तो थक कर सोफे पर बैठ गया. आंटी रोज की तरह मेरे लिए पानी ले कर आई तो मैने ऐसे ही पूछ लिया की आंटी अंकल नही दिख रहे है कहा है वो ?

आंटी – अमन वो तो अपने दोस्त के साथ हॉस्पिटल गये वाहा पर उनके दोस्त के बेटे का बहोत ही दर्दनाक आक्सिडेंट हो गया है. इस लिए वो आज की रात घर नही आएँगे.

मैं बीच मे उनकी बात काटता हुआ बोला – आंटी तो वो डिन्नर कैसे करेंगे, एक काम करो की आप उनका डिन्नर रेडी करो मैं दे कर आता हूँ.

आंटी – हान हान अमन मैं भी तो वो ही कह रही हूँ तुम्हारे अंकल ने डिन्नर लाने के लिए तुम्हे कह दिया है, डिन्नर पॅक है तुम जल्दी से डिन्नर दे कर घर वापिस आ जाओ.

आंटी की बात सुन कर मैं झट से खड़ा हो गया और अंकल को हॉस्पिटल मे डिन्नर दे आया इस छोटे से काम मे मुझे एक घंटे से ज़्यादा लग गया क्योकि वाहा पर भीड़ काफ़ी थी.

मैं जेसे ही घर वापिस आया तो आंटी ने मुझे डिन्नर दे दिया और आज भी वो डिन्नर करते करते मुझे वैसे ही अजीब सी नजरो से देख रही थी. आज मेरे पास भी मौका था इसलिए मैं उनकी तरफ उनकी आँखो मे आँखें डाल कर देखने लग गया.

Pages: 1 2