रिहना मेरे स्टूडेंट की बड़ी बहन

हेलो रीडर्स, आई एम निक्क अगेन आपके लिए हाजिर हू एक नयी सच्ची सेक्स स्टोरी लिखने के लिए, ये स्टोरी मेरे लिए काफ़ी मायने रखती है, क्यूकी रिहाना (नेम चेंज्ड) ने मेरी जिंदगी बदल दी, जब मैं अपने पहले प्यार से ब्रेकप के दुख मे था.

दोस्तो आपके आछे फीडबॅक अब आने लगे है, मुझे खुशी है मेरी स्टोरीस आपको खुश कर रही है, फीमेल्स लड़कियों को सेवा दे सकता हू और मेल्स फ्रेंड्स को टिप्स दे सकता हू.

खैर एक टिप अभी देना चाहूँगा, लड़की चाहे कोई भी हो चाहे वो रंडी हो या आछे घर की लड़की, गर्ल हो या लॅडीस, सबको इज़्ज़त पसंद होती है., और 90% लड़किया अपनी फीलिंग नही बता पति ये हमे खुद समझना पड़ता है, और सबसे बड़ी बात अगर कोई लड़की अपपे ट्रस्ट करने लगती है तो उसके ट्रस्ट को ना तोड़े.

खैर अब मैं स्टोरी शुरू करता हू.

बात कुछ साल पहले की है मेरा ब्रेकप हो गया था बिकॉज़ ऑफ फॅमिली रीज़न्स, तो मैं दुखी था किसी चीज़ मे मन नही लग रहा था, तब मैं उसकी यादो को भूलने के लिए बिज़ी रहने लगा..

तब मेरा एक स्टूडेंट था उसके एग्ज़ॅम काफ़ी खराब गये थे तो उसकी बड़ी बहन मेरे पास उसकी रिक्वेस्ट लेके आई, मैने बिज़ी रहने के लिए उसे अपने घर मे पढ़ाने के लिए हा कर दिया और उसने खुद भी रिक्वेस्ट किया की वो भी मुजसे एग्ज़ॅम्स टाइम मे हेल्प लेना चाहती है…

मेरे मन मे उसके लिए कोई बुरा ख़याल नही था., खैर टाइम होता गया मैं अभी भी पुरानी यादो मे बिज़ी रहता था.

तो एक दिन उसने मेरी उदासी का रीज़न पूछा, मैं रोना चाहता था तो पता नही कैसे और क्यू मैने उसको सारी दास्तान सुनाई की मैं किससे प्यार करता था… कितना प्यार करता था… और ब्रेकप क्यू हुआ…

शायद मेरा रोना उसको दिल पे जा लगा और वो रोने लगी… और अंदर अंदर मेरे लिए फीलिंग जगा ली…

More Sexy Stories  सगी भाभी को चोद कर बीवी बनाया

खैर उसके एग्ज़ॅम ख़तम हुए…

मैं पहले की तरह फ्री हो गया…

लेकिन एक दिन वो घर पे आई उस टाइम इत्तेफ़ाक से घर पे कोई नही था.

तो हम बैठे हुए थे उसकी स्टडी के बारे मे बात कर रहा था तो उससे बात हो रही थी.

लेकिन वो खामोशी से मुझे देख रही थी जैसे वो उन आँखो से मुझे सारा प्यार दे देना चाहती हो और मैं बेवकूफ़ अपने प्रेज़ेंट को भूलकर पास्ट की यादो मे रो रहा था, लेकिन तभी वो मेरे सामने आई और मुझे अपनी आँखो मे देखने को कहा… मैने उसकी आँखो मे देखा, उसकी आँखो मे आँसू थे प्यार भरे.

फिर उसने मुझे कहा की वो मुझसे प्यार करती है और मेरा जवाब सुने बिना मेरे होंठो को किस किया.

मैं काफ़ी हैरान था क्यूकी काफ़ी टाइम किसी के प्यार का एहसास हुआ था.

मैं उस किस मे खो गया.

वो मेरे बालो को पीछे से पकड़ के होंठो के साथ जीभ भी चला रही थी.

वो खो सी गई मुज़मे… जैसे वो डिसाइड कर के आई थी वो मुझे अपना बना के रहेगी.

फिर उसने धीरे से मेरी शर्ट के बटन खोले., और मैं बिना कोई रोक टोक के उसके काम कर रहा था.

तो उसने मुझे देखा मेरी आँखो मे और मुझे देख कर मुझे बेड पे धक्का दिया प्यार से और दोनो साइड पाव कर के मेरे पेट के उपर बैठ गई और झुक के मेरी आँखो मे देख के किस चालू कर दी.

पता नही तब क्यू उसकी आँखो के आँसू मेरे आँखो मे गिर पड़े मैं उस किस को छुड़वा के उससे पूछा की अब क्यू रो रही हो.

तो उसने बताया मैं उसके लिए सपना था जो आज सच हो गया था और मैं खुश हो गया काफ़ी टाइम बाद..

फिर हमने किस चालू किया और मैने उसका टॉप निकाला, उसने धीरे से अपने ब्रेस्ट के ब्रा के उपर से हाथो से ढक लिया…

More Sexy Stories  मेरी भाभी मेरी जान

मैने उसे मेरी आँखो मे देखने को कहा और उसके हाथ को हटाया, और फिर मैने ब्रा उतारी…

मैं ब्रा उतार ही रहा था की, उतारते ही उसने मुझे हग कर लिया.

मैने उसे सीधा लेटा के अपने उपर चादर ली और अब हम दोनो चादर के अंदर थे और मैने उसके बूब्स को चूसना चालू किया और उसकी बंद आँखो मे बस खुशी देख कर मुझे बहुत खुशी हो रही थी और उसने मुझे धक्का देकर.

मेरी जीन्स उतारी और जीन्स और अंडरवेर नीचे कर दिया और मेरे लंड को धीरे से हाथो मे पकड़ लिया, और प्यार से उपर नीचे करने लगी.

मेरी फीलिंग्स को समझ कर, उसने प्यार से मेरे लंड को होंठो से किस किया और प्यार भरी जीभ से उसे चूसने लगी..

ऑफ! ह!

ये फीलिंग डिस्क्राइब नही कर सकता.

फिर उसने काफ़ी देर तक मेरे लंड को चूसा और मैं उसके जीन्स और अंडरवेर को नीचे कर के उसके प्यार भरी चुत को चूसने लगा.

उसके चुत के होंठो को पकड़ के अंदर प्यार से गुदगुदी करने लगा और लड़की के चुत के दाने को होंठो से दबा के चूसने लगा.

फिर उसकी चुत के पानी को होंठो से फील कर रहा था, फिर उसने मुझे उपर खिंचा और कहा उसे चुदना है.

फिर मैने उसकी चुत मे लंड को सेट किया और उसी टाइम उसने एक सवाल पूछा की मैं उससे प्यार करता हू या नही.. .

मैं थोड़ा चौंक गया और उसकी आँखो मे देख कर मैने कहा की प्यार कर तो लू पर मैं गॅरेंटी नही दे सकता जिंदगी भर साथ की और उसके जवाब मे सिर्फ़ इतना कहा की मेरे साथ वो थोड़ा सा टाइम भी जी ले वो उसके लिए काफ़ी है…

Pages: 1 2