रात यात्रा मे लंड यात्रा

हाय दिस ईज़ समीर अगेन, सॉरी आई वाज़ बिज़ी एंड नाउ इट्स माय इन्सिडेंट ऑन दिस रथ यात्रा एट कोरापुट वेन आई वेंट टू होम ऑन वेकेशन टू स्पेंड सम टाइम वित फॅमिली एंड फ्रेंड्स, ओके नाउ लेट्स गो टू द इन्सिडेंट. मैं कोरापुट मे मेरे फ्रेंड्स के सात रथ के दर्शन के लिए गया था वाहा रथयात्रा मे बहुत पब्लिक दर्शन के लिए आए थे उन्मेसे मैं एक आंटी को देखा जो ऑलमोस्ट 35 की बॉम्ब इन ए वेरी नाइस ट्रडीशनल हॉट सारी एंड हॉट स्टाइलिश ब्लाउस जो मुझे हॉट कर रहा था वित बॉडी फिगर 38,32,40 मस्त लग रही थी. जब वो आई तो उसके साथ दो और आंटी भी थे, वो दर्शन करने के लिए आए थे, जब मैने उन्हे देखा तो आंटी मुझे देख रही थी तो मैने दोस्तो से कहा की तुम चलो मैं आता हू एंड मैं उनसे अलग होकर उस आंटी के पास जाकर खड़ा हो गया.

तो आंटी ने भी उनके दोस्तो को कुछ कहा तो वो भी आंटी को छोड़ कर कही चले गये, हर कोई रथ के दर्शन मे बिज़ी था तभी मैने उनसे बात चित स्टार्ट की.

मैं-हाय

आंटी- मुस्कुराते हुए हाय

मैं-हाउ आर यू?

आंटी- आई एम फाइन. हाउ आर यू?

मैं- फाइन

आंटी – व्हाट्स युवर नेम?

मैं- समीर एंड अवेलबल ओन 738*******?

आंटी- मैं आप का नंबर नही पूछी.

मैं- मैने सोचा आप तो नही दोगे तो मैने ही दे दिया.

आंटी- नंबर का क्या करोगे.

मैं- नंबर से ही तो घर का अड्रेस एंड आप का फ्री टाइम का पता चलेगा.

आंटी- फ्री तो मैं मेरा बेटा स्कूल जाने के बाद सुबह 8.30 के बाद हो जाती हू , क्यू की हज़्बेंड बिज़्नेसमॅन है और बहुत बिज़ी रहेते है और घर पे सिर्फ़ रेस्ट करने आते है एंड नाउ ए डेज़ ही ईज़ बिज़ी वित हिज़ बिज़्नेस.

मैं- तो दिन भर क्या करते हो.

आंटी- कल 10.00 बजे घर आओ तो बताती हू

मैं- बट घर कहा है एंड पता कैसे चलेगा?

आंटी- मैं घर जा रही हू, बाइ

मैं- नेम तो बता दो

आंटी- सावित्री

आई फॉलोड हर एंड सॉ हर हाउस एंड ऑन द नेक्स्ट डे वेंट टू हर हाउस एट 10.30 एंड नॉक्ड द डोर, शी केम आउट वित ए टॉवेल ऑन हर बॉडी(शी वाज़ लुकिंग वेरी डॅम हॉट). एंड आस्क्ड मी घर ढूँडने मे कोई परेशानी तो नही हुई आई सेड ना फिर मैं घर के अंदर गया एंड वो डोर लॉक कर दिए एंड देन आई आस्क्ड.

More Sexy Stories  मौसी के साथ पहली चुदाई

मैं- आप नहाने जा रहे हो??

सावित्री- क्यू आना है

मैं- नही

सावित्री- तो?

मैं- पहेले घर देख लू देन बोलता हू

सावित्री- कहा से देखना पसंद करोगे किचन से या फिर बेडरूम से?

मैं- बेड रूम से?

सावित्री- देन वो रहा लेकिन मैं नही आउन्गि नही तो तुम मेरे साथ कुछ करोगे

मैं- तो ठीक है यही से स्टार्ट करते है वाहा तक तो पहुँच ही जाएँगे.

फिर मैने उन्हे लिपलोक्क (लिपकिसस) दिया एंड वो मेरे कपड़े निकालने लगी हम डोर बंद कर के करीब 10 मिनट. तक किस करते रहे एंड वो मेरा 7” का लंड पकड़ कर मसल रही थी और मैं भी टॉवेल नीचे गिरा कर बूब्स दबा रहा था और उंगली कर रहा था, थोड़ी देर बाद मैंने उसे बोला की मुझे चुत खाना है तो उसने भी कहा की मुझे भी लॅंड चाहिए तो हम 69 पोज़िशन मे एक दूसरे की ले रहे थे तभी वो पानी छोड़ दिए और मैने उनका पूरा पानी पी लिए एंड फिर से चाटने लगा उनका चुत और 15 मिनट बाद मैं भी लीक किया तो वो लंड बाहर करके पानी गिरा दिए, फिर थोड़ी देर बाद वो बोली “अब सबर नही होता डाल दो प्लीज़” तो मैने वाहा रखा हंडलोशण चेर पर बैठ गया और उन्हे लंड पर बैठने को कहा तो वो बैठने की कोशिश करने लगी बूट उनका टाइट था जैसे 2 महीने से किसीने डाला ही नही.

तो मैने उन्हे गोदमे उठाया और बेड पर लेटा दिया और थोड़ा फिंगरिंग करने लगा तो वो छटपटा रही थी प्लीज़ डालो, डालो ना तो मैने अपना लॅंड थोड़ी देर उनके चुत पे रगड़ा एंड एक धक्का मारा तो अंदर 50% चला गया (मस्त चुत थी यार) और वो चिल्ला पड़ी ओओओऊऊऊ ह्ह्हू ऊओ फिर मैने और एक स्ट्रोक मारा तो अंदर चला गया फिर उन्हे मैं चोदने लगा वो तो हन… हन… ऊऊ ऊऊओ आआआअ अहह हो रही थी और मुझे और मज़ा आरहा था उनके बूब्स को जब मैने दबाया मेरे लीक होने से पहेले तो वो पानी छोड़ दिए एंड देन मैने अपना लंड बाहर निकाला और उनके चुत पर लीक हो गया. फिर थोड़ी देर बाद मैं मूड मे आ गया बट वो थक चुकी थी तो मैने उन्हे कहा की मेरा मूड अभी तक ऑफ नही हुआ है तो उन्होने मुझे कहा की ब्लोवजोब दूँगी तो मैने कहा ओन्ली ब्लोवजोब तो वो बोली फिर क्या तो मैने कहा चुत तो वो बोली नही कल मिलेगा तो मैने कहा गॅंड वो गुस्सा हो गई और बोली मैं रंडी नही हू तो मैने उनको लिपकिसस करके शांत किया एंड देन वो मुझे ब्लोवजोब दिए एब्द देन वो बोली की चुत गीली हो गई है.

More Sexy Stories  अंजान लड़की को बड़ा लंड दिया

तो मैने उसमे फिर डाल दिया एंड दिस टाइम वो थोड़ा फ्री हो गई थी तो मैंने ठोकना चालू किया एंड वो भी गॅंड उठा कर साथ दे रही थी एंड थोड़ी देर बाद हम दोनो लीक कर गये और अब हम थक चुके थे तो हम दोनो ने स्टॉप लिया एंड जब उठा तो देखा की वो वाहा नही थी एंड टाइम देखा तो 1.00 बज रहे थे तो वो आई और बोली की मेरा बेटा आने वाला है तुम प्लीज़ जाओ एंड हमने नं. एक्सचेंज किया एंड मैं चला आया. आने से पहेले उन्होंने बताया की उन के हज़्बेंड के पास जो है वो नही होने के बराबर है इसलिए वो मुझ जैसे बंदे से रिलेशन्षिप रखना चाहती है और उनका बेटा भी सिर्फ़ उनका है उनके हज़्बेंड का नही. नेक्स्ट पार्ट मे बताता हू कैसे मैने आंटी एंड उनके दोस्त को आंटी के कहेने पर सॅटिस्फाइ किया. आप को स्टोरी कैसे लगी प्लीज़ मेरी मैल आईडी है बताइए एंड गर्ल्स एंड आंटीस ऑफ देल्ही आई एम एट देल्ही92 इफ़ इंट्रेस्टेड मैल मी. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *