पहली चुदाई अपनी कज़िन की

Pehli chudai cousin ki : सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

ही दोस्तो, मेरा नाम रोहित है और मैं दिखने मे काफ़ी हॅंडसम हूँ. मेरी उमर 32 साल है और मैं बहुत ही खुश नसीब भी हूँ क्योकि मुझ पर काफ़ी लड़किया मरती भी है. इसलिए मैं भी फ्लर्ट करने से कभी पीछे न्ही हटता हूँ. वैसे आज मैं आपके लिए बहुत ही मस्त कहानी लेकर आया हूँ जो की मेरी ही बीती हुई है और बहुत ही अच्छी और सच्ची कहानी है.

चलो ये तो खैर आप ही बताओगे की अच्छी है या न्ही पर मुझे इतना यकीन है की आपको मेरी ये कहानी बहुत ही ज़्यादा पसंद आएगी.

तो दोस्तो बिना कोई देर किए अब मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलता हूँ. पर उससे पहले मैं आपको अपने बारे मे भी थोड़ा बता देता हूँ. मैं देल्ही मे ही रहता हूँ और देल्ही मे ही जॉब करता हूँ और मैं सुबह 9 से 5 बजे तक ऑफीस मे ही रहता हूँ और काफ़ी बिज़ी भी रहता हूँ.

मेरी बुआ भी देल्ही मे ही रहती है और उनकी 2 बड़ी बेटियाँ है. जिनका नाम प्रिया और रूपाली है. प्रिया 23 साल की है और रूपाली 20 साल की है. दोनो के दोनो बहुत ही ज़्यादा खूबसूरत है पर रूपाली प्रिया से भी ज़्यादा खूबसूरत है और काफ़ी सुंदर भी है.

रूपाली को देख कर मेरा मन करता है की मैं उसको चोद डालु इसलिए मैं हमेशा कुछ ना कुछ सोचता रहता हूँ. पर मैं हुमेशा अपने प्लान मे नाकामयाब होजाता हूँ. क्योकि मुझे ये पता है की मुझे ये मौका कभी मिल न्ही सकता है.

More Sexy Stories  मेरी बहेन नीलू और मेरी पहली चुदाई

चलो खैर ये सब छोड़ो अब मैं आपको असली मे हुआ क्या है वो सब बताता हूँ. मेरी बुआ जेसे की देल्ही मे ही रहती है तो एक दिन मेरे पास उनका फोन आआया और उन्होने मुझे फोन पर बताया की वो उनका बेटा और फुफफ़ा जी दो दिन के लिए बाहर जा रहे है. और तुम्हे यहा घर पर आकर के रहना पड़ेगा क्योकि वो दोनो बहने अकेली होगी और आज के जमाने मे उन्हे अकेला भी न्ही छोड़ा जा सकता है.

मैने उनकी बात को अच्छे से समझा और फिर मैने उनसे उनके जाने के दिन पूछा तो उन्होने बताया की उन्हे सॅटर्डे सनडे और मंडे के लिए बाहर जाना है क्योकि वो ट्यूसडे को आजाएँगे. उनकी ये बात सुन कर मैं खुश हो गया और मैं समझ गया की मुझे भी सॅटर्डे सनडे को छुट्टी होती है इसलिए मैं आज़ौंगा.

फिर दो दिन बाद फ्राइडे को वो सुबह यानी की 12 बजे तक चले गये तो मैने भी सोचा की चलो अब मैं भी ऑफीस चला जाता हूँ. और फिर मैं वहाँ जा कर ऐसे ही बैठ कर सोचने लग गया की आज बुआ के घर जा कर उन दोनो बहनो मे से एक बेहन को ज़रूर चोदुन्गा.

और वही बैठे मैं सपने लेने लग गया और सोचने लग गया की केसे क्या करना चाहिए जिससे वो आसानी से राज़ी हो जाए और फिर तभी मेरे माइंड मे एक बहुत ही मस्त प्लान आया जिसको सोच कर अब मैने घर को आने की सोची. तो ये सोच कर मैने भी बॉस से हाफ डे की छुट्टी ली और घर को आ गया.

घर पर आ कर मैने एक बाग पॅक किया और उसके आगे वाली पॉकेट मे मैने दो सेक्सी बुक्स डाल दी जो की भाई बेहन की कहानियों की ही थी. और फिर मैं अपने घर से बुआ के घर के लिए निकल पड़ा. बुआ के घर पहुँच कर मैने वहाँ डोर बेल बजाई और फिर प्रिया ने दरवाजा खोला तो मुझे उस टाइम देख कर थोड़ा हेरान हो गयी और फिर बोली की इस टाइम तो मैने भी उसे हाँ कहा और फिर उसके साथ अंदर आ गया.

More Sexy Stories  कॉलेज गर्ल सेक्सी पड़ोसन की चुदाई

मैं अब अंदर आ कर सोफे पर बैठ गया और वो मेरा बाग अंदर ले जा कर रखने चली गयी. तो मैने भी अब उसके साथ पहले तो अच्छे से बात करी और फिर वही पर बैठ गया. तब उसने मुझे चाय दी और मैं भी बड़े मज़े से वहाँ बैठ गया और फिर इधर उधर की बाते भी करने लग गये. तब मैने उससे रूपाली को पूछा की वो कहा है तो प्रिया ने मुझे बताया की वो टशन गयी हुई है शाम को 7 ब्जे तक ही आएगी.

ये बात सुन कर मैं बहुत खुश हुआ क्योकि अभी मेरे पास पूरे 4 घंटे थे इसलिए मैं जो चाहता था वो सब हो सकता था. फिर हम बैठ कर बाते मरने लग गये और थोड़ा मस्ती मज़ाक भी करने लग गये.

तब मैने उससे उसकी स्टडी के बारे मे भी पूछा तो उसने मुझे बताया की वो भी स्टडी के लिए जाती है कोचैंग लेने पर कम ही जाती है यानी की जब ज़रूरत होती है तो तभी ही जाती है. उसकी ये बात सुन कर मैं भी बहुत खुश हुआ और फिर ऐसे ही थोड़ा बहुत टाइम पास करने लग गये.

और फिर मैने उसे जान कर अपने बाग के आगे वाली पॉकेट मे से चारजर लाने को भेजा और वो चली भी गयी. तो वो जब गयी तो वो वही बैठ गयी. मैं भी उसके पीछे पीछे चला गया और कर्टन के पीछे जा कर खड़ा हो गया और मैने उसे देखना शुरू कर दिया.

Pages: 1 2 3