अवैध सम्बन्धों ने तंग आकर पति ने मुझे छोड़ दिया

हेलो दोस्तों, मैं यामिनी देवी आपको अपनी स्टोरी  पर सुनाने जा रही हूँ। मैं इटावा की रहने वाली हूँ। मेरी उम्र ३० साल की है। मैं जब मेकअप करके तैयार होती हूँ और अपने बॉयफ्रेंड्स को व्हाट्सऐप और फेसबुक पर अपनी फोटो लगाती हूँ तो कितने ही मेरे आशिक अपना हाथ काटते को तैयार हो जाते है। वो अपनी जान देना चाहते है क्यूंकि वो मुझे चोद नही पाए। फेसबुक पर १ लाख लोग मुझे फालो करते है। मैं सबसे हसीन और पैसेवाले लोगो से चुदवाती हूँ।

तो आपको अपनी स्टोरी सुनाती हूँ। मैं बचपन ने ही बहुत चंचल और सेक्सी लड़की थी। ८वी क्लास में ही मुझे चूत चुदाई और लंड चुसाई के बारे में पता चल गया था। १० क्लास तक आते आते मैं ५ लड़कों से चुद चुकी थी। फिर मैंने सबसे पैसे लेने शुरू कर दिए। जो लड़का मुझे ५०० रुपए देने को तैयार हो जाता मैं उससे चुदवा लेती। १२ वी के बाद बहुत सारे लड़के मेरे घर के चक्कर लगाने लगे। मैं थी ही इतनी माल की जब कोई लड़का मुझे देख लेता था तो मेरे आगे पीछे घूमने लग जाता था और मेरा पीछा करना शुरू कर देता था। मेरे मोबाइल में कम से कम १०० लड़कों के फोन नं होते थे। मुझे फोन सेक्स की बहुत बुरी लत थी। जब मेरी बाकी बहने टीवी के सामने बैठकर ५ ५ घंटे बेकार के सास बहु सीरियल देखती थी, मैं अपने कमरे में दरवाजा बंद करके फोन सेक्स का मजा मारती थी।

मेरी नजर में बेकार के टीवी सीरियल देखने से अच्छा था की चूत चुदाई की बात करके मजा लिया जाए।

“हे आकाश!! मुझे चोदेगा???”

‘हाँ!!”

“बहनचोद!! पहले ये बता की मुझे कैसे चोदेगा???”

“बिस्तर पर लिटा के”

“खड़ा हो जाएगा तेरा??”

‘हाँ”

“अच्छा..तेरा लंड कितना बड़ा है???”

More Sexy Stories  Fucked Horny Indian Maid

“७ इंच का..”

“मोटा है क्या??”

“हाँ!!”

“मुझे धीरे धीरे चोदेगा..या कस कसके!”

“कस कसके!”

दोस्तों, मैं इस तरह की बातें खुल्लम खुल्लम लड़कों से किया करती थी। जब कोई लड़का मुझसे १ घंटे बात करने को कहता तो मैं उससे २०० रूपए एडवांस में ले लिया करती थी और कभी कभी मोबाइल में २०० का रिचार्ज करवा लिया करती थी। आपको विस्वाश नही होगा मैंने कुल ५ लाख रुपए लोगो से चुदवा चुदवाकर बैंक में जमा कर दिए थे। मुझे लडकों के साथ नये नये होटल में जाना, नई नई डिश ट्राई करना बहुत पसंद था। मैं जादातर उस लड़के के साथ घुमने जाती थी जो मुझ पर सबसे जादा पैसा खर्च करता था। कुछ दिन बाद जब आये दिन कोई ना कोई लड़का मेरे घर का चक्कर लगाने लगा तो मेरे घर वाले काफी डर गये। इटावा में सब जानते थे की मैं बहुत बड़ी वाली अल्टर हूँ और १०० से भी जादा लड़के मेरे दोस्त यानी बॉयफ्रेंड है। कोई कोई पडोश की औरते मुझे मेरे मुँह पर रंडी, आवारा भी बोल दिया करती थी।

पर मैं बहुत चिकना घड़ा थी। मुझ पर किसी की बात का कोई असर नही होता था। मेरे बॉयफ्रेंड ही मेरे कपड़े खरीदते थे। मैं बड़े बड़े माल्स में शोपिंग करने जाती थी और अपने बॉयफ्रेंड्स का खूब पैसा खर्च करवाती थी। मुझे चुदवाना बहुत पसंद था, पर इसके साथ साथ मुझे हरे हरे ५०० और १००० के नोट भी बहुत पसंद थे। जब आये दिन मेरे घर के आस पास लड़के चक्कर लगाने लगे तो मेरे पापा डर गये। उनको डर था की कहीं मेरा बलात्कार ना हो जाए, क्यूंकि मैं बहुत जादा सुंदर लड़की थी। कहीं मैं किसी बिगडैल लड़के से चुद न जाऊ, इसको लेकर पापा बहुत डरे हुए थे। कुछ लड़कों ने मेरे पापा से मार्किट में ही बोल दिया था की अंकल मेरी शादी यामिनी से कर दो, वरना तुम्हारी इस मस्त माल लौंडिया को मैं किडनैप कर लूँगा और जबरदस्ती शादी करके खूब चोदूंगा इस सामान को। उस समय मेरी उम्र २२ साल की थी। इसलिए पापा बहुत डर गये थे। पापा ने आनन फानन में मेरी शादी कर दी।

More Sexy Stories  सेक्सी भाभी की हॉट मसाज

मेरा पति एक पोस्ट मास्टर था और चिट्ठी बाटने का काम करता था। वो मुस्किल ने १२ १५ हजार कमा पाता था। शादी के बाद ही मेरा उससे झगड़ा शुरू हो गया। शादी के एक साल के अंदर वो मुझे कहीं भी घुमाने नही ले गया। ना शिमला ना नैनीताल। मेरे खर्चे वो उठा ही नही पा रहा था। न ही कभी मुझे अच्छे कपड़े लाकर देता था और ना ही बाहर रेस्टोरेंट में खाना खिलाने ले जाता था। इससे जादा बुरी बात थी की मेरे जैसी माल को जब मेरे पुराने बॉयफ्रेंड १ १ घंटा नॉन स्टॉप चोदकर मुझे चरम सुख देते थे, मेरा पति मुस्किल से मेरी चूत में १० मिनट ही बैटिंग कर पाता था। फिर वो तुरंत आउट हो जाता था। एक रात में वो मुझे सिर्फ १ बार ही ले पाता था। वो बार बार शिकायत करता था की अगर वो दो बार मुझे चोदेगा तो उसे बहुत बदन दर्द होगा और वो सुबह नौकरी पर नही आ जाएगा। दोस्तों इस तरह मैंने २ साल किसी तरह से छक्के के साथ बिताए। ना ही वो मुझे अच्छा खाना खिला पा रहा था, और ना ही मुझे अच्छे कपड़े पहना पा रहा था। रोज रोज की पैसे की किचकिच से तंग आकर मैंने एक प्रावेट कम्पनी में सेक्रेटरी की नौकरी कर दी। कुछ दी दिन में मेरे बोस मुझपर मर मिटे।

Pages: 1 2 3