दोस्त ने पैसो के बदले रंडी बना दिया

Free Hindi Sex Dost Ne Paiso Ke Badle Randi Bana Diya आई’एम् रोशिनी कपूर फ्रॉम देल्ही,मैं देल्ही मे कॉयनॉट प्लेस से हू पास ही माने फ्लॅट लिया हुआ है गोल मार्केट के सामने. फ्री हिन्दी सेक्स स्टोरी मेरी चुदाई

मेरा फिगर है 36-28-38 ये एक बिल्कुल पर्फेक्ट साइज़ है. मेरी तो इतनी मस्त है की आछे आछे लंड का पानी निकाल देती है देखते ही. आप लोग सोच रहे होंगे की एक लड़की इस तरह के वर्ड्स कैसे यूज़ कर सकती है.

जी हा बिल्कुल सही सोचा अपने मैं एक बहुत सीदि साधी लड़की थी अपने कामसे मतलब रखने वाली बट जो घटना मैं आपको बताने जा रही हू अपनी उसके बाद से मैं एसी बन गई हू. .

सो मैं ज़्यादा बोर ना करते हुए स्टोरी पर आती हू. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

जैसा की आप लोग जानते हैं की देल्ही मे रहना खाना पीना घूमना कितना महँगा पढ़ता है एसा ही मेरे साथ था मेरी जितनी स्यालरि थी उतने मे तो सिर्फ़ मैं अपने फ्लॅट का रेंट और खाने का खर्चा ही उठा पाती थी.

मेरे घरवालो की डेत के बाद मैं बिल्कुल अकेली हो गई थी उस टाइम मैं 12थ क्लास मे थी और मोम डॅड की अकेली बेटी होने की वजा से मुझे गहरा सदमा लगा था तो मैने स्कूल जाना भी बंद कर दिया था कुछ दिन तो जो रखे हुए पैसे थे उनसे खर्च चलाती रही फिर जब कुछ नि बचा तो घर मे ऐसेही रहने लगी कभी कभी पड़ोसी कुछ दे देते थे खाने के लिए तो खा लेती थी.

ऐसेही 1मंथ निकल गया एक दिन मेरी एक फ्रेंड घर आई उसने बताया की जॉब वेकेंट निकली है तू अप्लाइ कर दे. मैने उस कंपनी मे अप्लाइ करा तो मेरा सिलेक्शन हो गया बट मैं फ्रेशर थी तो मुझे कोई कंपनी सर्विस प्रोवाइड नि हुई. मैं खुद ही बस से आना जाना करती हू,ऐसेही मेरी जिंदगी चल रही थी. एप्रिल के स्टार्टिंग की बात है मैं अपने डेली रुटिन पर जा रही थी उस दिन पता नी बस मे इतनी भीड़ कहा से आ गई ओर उसी बस ने मेरी जिंदगी ही बदल दी.

More Sexy Stories  होने वेल पति के सामने किसी ओर से चुदाई 2

जब मैं बस के अंदर जैसे तैसे करके घुसी तो एक लड़का मेरे पीछे आकर खड़ा हो गया मेरा ऑफीस काफ़ी दूर था तो टाइम लगता था जाने मे. बस के झटके की वजह से उसका शरीर मेरी बॅक से लग रहा था. उसने मौका धेक कर मेरी गॅंड पर हाथ घुमाना शुरू कर दिया पहले मैने उसको कुछ नी बोला फिर मैने पीछे मूड कर देखा तो वो डर गया तो उसने कुछ देर हाथ नी लगाया.

फिर थोड़ी ही देर मे मुझे गॅंड के छेद मे कुछ महसूस हुआ तो मैने पीछे हाथ करके महसूस किया वो उसका लंड था जो की पहले से ही खड़ा हुआ था मैने उसको गुस्से से देखा बट कुछ बोल नही पाई मैं और उसने अपने लंड को अंदर करके खड़ा रहा कुछ ही देर मे मेरा स्टॉप आ गया और मैं सही टाइमिंग पर ऑफीस की तरफ चलने लगी तो वो भी पीछे से आकर मेरे साथ साथ चलने लगा पहले उसने मुझे सॉरी बोला और कहने लगा की खुद को रोक नि पाया आपके फिगर को देखकर.

ये कहानी आप देसी. नेट पेर पढ़ रहे है.

उस लड़के के बारे मैं बता देती हू उसका नाम राहुल था वो एक 6 फीट का लड़का था उसके लंड का साइज़ 6इंच और 3 इंच मोटा था. दिखने मे भी बहुत हॅंडसम था रिच फॅमिली से लगता था उसका ड्रेसिंग सेंस धेककर लग रहा था.

मैने उसको गुस्से से देखा तो फिर से सॉरी बोलने लगा मैं अपने रास्ते चलती रही वो फिर से मेरे पीछे पीछे चलने लगा पर कहने लगा दोस्त ही बना लो मुझे इसी तरह फिर हमारी आरगुएमेंट्स होने लगी और बाद मे मैने मोबाइल निकाल कर देखा तो ऑफीस टाइम निकल चुका था मुझे और गुस्सा आया बट मैने उसको कुछ नि बोला वो वाहा से वापस मूड कर घर की तरफ आने लगी.

More Sexy Stories  सन्डे के दिन कामवाली की जमकर ठुकाई

तो वो भी पीछे पीछे आने लगा मैं एक पार्क मे जाकर रोने लगी की आज मेरी स्यालरि से फिर से 500 रुपय कट होंगे क्यू इसके चक्कर मे पढ़ गई मेरी आँखो से आँसू आने लगे.

मैने खुद को संभाला जैसे ही खड़ी हुई वो मेरे सामने आगया और बोलने लगा की क्या हुआ क्यू इतना परेशन हो तुम मुझे बताओ मैं परेशानी दूर करता हू तुम्हरी. मेरे लिए वो एक अंजान था तो मैने उसको कुछ नही बताया और वाहासे चलने लगी तभी उसने मुझे पीछे से आकर हाथ पकड़ कर बोला की दुशमन ही नि सही दोस्त ही मान कर बता दो फिर मैने उसको सब कुछ कैसे मैं अपनी जींदगी चलाती हू.

घर का खर्चा चलाना और रेंट देना और बिल वगेरा तो मैने उसको बताया की पिछले 2 मंथ से रेंट नही दिया है ओनर पीछे पढ़ रही रेंट देने के लिए और खाली करने के लिए उसको मेरी बात को सुनते ही 5000 रुपय दिए और कहा की लो रख लो पहले मैने मना किया की नि नही चाहिए बाद मे मैने उसको वापस करने के लिए 3 मंथ का टाइम माँगा तो वो अग्री हो गया और इसी तरह फिर हमारी दोस्ती हो गई और ह्म घूमने लगे मिलने लगे और बात करने लगे बट कभी ना ग़लत बात की और ना कुछ ह्मने ग़लत करा.
एक दिन अचानक राहुल का कॉल आया सुबह सुबह की आज मुझे मेरे पैसे चाहिए वरना बहोत बुरा होगा तुम्हारे साथ मैं डर गयी की अब ये क्या करेगा अगर मैने पैसे नि दिए तो उसने बोला की थोड़ी देर मे घर आकर बात करता हू तुझसे वो थोड़ी ही देर मे घर आ गया औरे उसके अंदर से ड्रिंक की बहुत गंदी स्मेल आ रही थी उसने मुझसे पैसे माँगे और मैने उसको बोला प्लीज़ राहुल मुझे कुछ दिन का टाइम दे दो मैं धीरे धीरे लौटा दूँगी तुम्हारे बट वो मेरी कहा सुन रहा था मेरे जिस्म को देखकर लंड को सहला रहा था वो.

Pages: 1 2