पड़ोसी ने गांद का बंद बजाया

हाय दोस्तो. मेरा नाम सानिया है. मेरी लास्ट स्टोरी आपने पढ़ी होगी “पड़ोसी ने गॅंड की बॅंड बजाई”. अब मैं उसका 2न्ड पार्ट ले क्र आया हू, सॉरी ले कर आई हू. जैसे मैने आपको लास्ट स्टोरी मे बताया की रोमी जी ने कैसे मुझे रात मे हाथ लगाया और हम मस्त हो गये. बट मेरी गॅंड बहुत टाइट थी इसलिए बहुत देर लगी उनको अपना प्यारा लंड मेरे छेद मे डालने को. रात को तो उन्होने अपना रस मेरे गॅंड के उपर गिराया और करीब 1 बजे हम सो गये. सुबह मेरी आँख 7 बजे खुल गई तो मैं देखा की रोमी जी पीठ के बल सो रहे थे और वो बहुत सेक्सी लग रहे थे. उनके बदन को देख मेरी गॅंड मे फिर से खुजली शुरू हो गयी पर मैं उनको उठाई नही और धीरे से उठ के विंडो की तरफ चली गयी. विंडो ओपन की तो सर्द हवा बहुत मस्त लग रही थी. मैं अभी भी ब्रा और पैंटी मे थी. सर्द हवा मेरे सेक्सी बदन को छू कर मस्त कर रही थी. मुझे ठंड लग रही थी बट मैं कोई और कपड़ा नही पहन ना नही चाहती थी.

अचानक कुछ गरम मेरे कमर पर लगा तो मैं देखा रोमी जी मेरी कमर पे हाथ रखा था. उनको एक हाथ मेरी सेक्सी कमर पर था और एक हाथ मेरे हिप्स को सहला रहा था. हम दोनो चुप थे और सर्द हवा और एक दूसरे के जिस्म को महसूस कर रहे थे. मेरा एक हाथ उनके कमर वाले हाथ पेट पे और एक हाथ मैने पीछे से उनके सिर को सहला रही थी. फिर वो नीचे झुके और मेरी कमर पे किस करने लगे, फिर मेरे पेट मे और फिर मेरी नाभि मे अपनी ज़ुबान डालने लगे. फिर और नीचे जा के मेरी थाइस पे किस करते रहे और मेरे हिप्स को चाटने लगे. थोड़ी देर बाद उन्हने मुझे कान मे कहा : रोमी जी: रात को कैसा लगा?, मैं: मैं शर्मा के बोली “बहुत अछा: रोमी जी: खुल के बताओ, मैं: ऐसा लगा मैं पूरी हो गयी. बहुत बहुत अछा लगा. आपके लंड ने मुझे बहुत मज़ा दिया. मैं ऐसा मज़ा रोज़ आपसे चोदना चाहती हू.

रोमी जी : खुश हो गये और बोले और बोलो. मैं: मेरी गॅंड हमेशा आपकी सेवा मे हाज़िर है. मैं आपके लंड की बहुत प्यासी हू. मैं हमेशा आपका लंड मेरी गॅंड मे या मूह मे रखना चाहती हू. आपका लंड चूस चूस के बहुत बड़ा और लंबा कर दूँगी. आपका लंड बहुत मस्त है ये मैने रात को देख लिया था. और मेरे छेद मे जा के ये मेरे छेद को भी बड़ा कर देगा. रोमी जी का लंड अब अपने रूप मे आ रहा था. उनका बड़ा लंड मेरी गॅंड को महसूस हो रहा था. और वो मुझे नेक पे किस करते जा रहे थे. रोमी जी: मैं भी तुम्हे कुतिया की तरह चोदना चाहता हू. अपनी रखैल बना के रखूँगा तुझे. अपनी रांड़ बना के. रोज़ मज़े लूँगा तेरे. तेरी जैसी कुतिया को कौन नही चोदना चाहेगा. मैं: हा मैं भी आपकी रांड़ बन के चुदवाउन्गि. पर मेरी कुछ शर्ते हैं. वो बोले क्या. मैने कहा: आपको अगर पूरा मज़ा चाहिए तो आप कभी मेरी ब्रा और पैंटी नही उतारोंगे. कभी मेरा लंड नही देखोगे. क्यूकी मैं अब 1 लड़की हू आपके लिए.

More Sexy Stories  My Friend Fuck Hard My Younger Sister

आप जैसे चाहे जब चाहे मुझे चोद सकते हो. मेरी गॅंड मेरा मूह और मेरा पूरा जिस्म आपके लिए हमेशा रेडी रहेगा. चाहे मैं सो रही हू चाहे जाग रही हू. रोमी जी: तेरी जैसे रांड़ को चोदने के लिए मुझे हर शर्त मंज़ूर है. तभी मैने उनको हल्का सा धक्का दिया और पास मे बेड मे जा कर लेट गयी. बेड पर मैं बाहें फैला कर उन्हे अपने पास बुलाया और जैसे ही वो पास आए मैने उन्हे हग कर लिया और फिर अपने होट उनके होट पे रख दिए. उन्होने मुझे किस करना शुरू कर दिया और करीब 15 मिनट तक हम लीप किस करते रहे. फिर वो मेरे लिप्स से होते हुए नीचे चले गये और मेरे पूरे जिस्म पे किस करने लगे. मैं मस्त हो गयी और उनका सिर पकड़ के अपने पेट पे ज़ोर लगाने लगी. वो मेरी नेक पे, पेट पे और थाइस पे किस करते रहे. मैं: बस कीजिए रोमी जी अब बर्दाश्त नही हो रहा. प्लीज़ मुझे चोद दीजिए, मुझे आपका लंड चाहिए अपनी गॅंड मे. प्लीज़ जल्दी से मुझे चोद दीजिए. मैं आपके लंड की प्यासी हो चुकी हू.

ये सुन कर उनको जोश आ गया और मुझे कुतिया बना दिया और मेरे छेद मे उंगली करने लगे. फिर अपने ज़ुबान से चाटने लगे. अब मेरी गॅंड पूरी तरह रेडी थी उनके लंड लेने के लिए. उन्होने मेरे हिप्स मे बहुत थप्पड़ लगाए और अपना लंड मेरी गॅंड मे 1 ही झटके मे डाल दिया. अब दर्द नही बल्कि मज़ा आने लगा था. मैं भी अपनी गॅंड पीछे कर के उनका पूरा लंड लेना चाहती थी. अब वो तेज़ धक्के मारने लगे. मैं: आआआहह रोमी जी चोदिये और तेज़ चोदिये. क्या ग़ज़ब लंड है आपका रोमी जी. आअहह उूउउम्म्म्मम आआअहह रोमी जी कम ऑन. फाड़ दो मेरी गॅंड को और रोमी जी ज़बरदस्त धक्के लगाते रहे..और बोलने लगे.. रोमी जी: क्या मस्त गॅंड है तेरी रंडी…आहह आहह इसे तो मैं रोज़ चोदुन्गा 15 मिनट की ज़बरदस्त चुदाई के बाद वो मेरे अंदर ही झड़ गये. उनका फावरा ने मेरी पूरी गॅंड भर दी. उनका वीर्या मेरी गॅंड से टपक रहा था.

More Sexy Stories  चाची को बर्थड़े के दिन चोदा

फिर हमने किस की और वो सो गये. मे उठी और बाथरूम मे जा के अपने आप को शीशे मे देखा. मैं ब्रा और पैंटी मे क्या मस्त लग रही थी. उनके वीरये को जो मेरी गॅंड मे लगा था अपने हाथ मे ले ज़ुबान से लगाया तो क्या बाड़िया टेस्ट था. मैं उसे पूरा चाट के सॉफ किया. फिर मैं नहाई और घर के काम मे बिज़ी हो गयी. नेक्स्ट स्टोरी मे बताउन्गि कैसे रोमी जी ने पूरे घर मे चोदा और फिर हमने शिमला के होटेल मे सुहाग्रात भी मनाई. फिर उनके बॉस से चुदि और खूब मज़ा दिया उन्हे और रोमी जी को प्रमोशन भी दिलाई. प्लीज़ मैल मी युवर कॉमेंट्स मेरी मैल आईडी है अगर कोई चाहता है मेरी गॅंड मारना या लंड सक करवाना तो प्लीज़ मुझे मैल करना. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Pages: 1 2