पड़ोसन चाची की कामुकता शांत की

Padosan Chachi ki kamukta: सभी लंड वाले मर्दों के मोटे लंड पर किस करते हुए और सभी खूबसूरत जवान चूत वाली रानियों की चूत को चाटते हुए सभी का मैं स्वागत करती हूँ। अपनी कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के माध्यम से आप सभी मित्रो तक भेज रही हूँ। ये मेरी पहली स्टोरी है। इसे पढकर आप लोगो को मजा जरुर आएगा, ये गांरटी से कहूंगी।

हेलो दोस्तों मेरा नाम राहुल(चेंज्ड) है. मैं जम्मू का रहने वाला हूँ. मैं 18 साल का हूँ. मुझे आंटीज पसंद हैं. हाँ तो फ्री सेक्स स्टॉरी परिवार मे चुदाई कहानी पर आता हूँ. ये बात एक महीने पहले की हैं.

हमारे घर के पास ही मेरे एक चाचा रहते हैं. उनके दो लड़के हैं. दोनो लड़के छोटे हैं. और उनकी बीवी का नाम है ज्योति. जिसपर मैं फिदा हूँ. वो एक दम सेक्सी है. बड़े बड़े बूब्स. बड़ा सा टुआ और प्यारी शकल. वो हमेशा लेगिंग पहनती है जिसमे से उसकी लेग्स एक दम हॉट दिखती है.

एक दिन की बात है की वो अपने दोनो बच्चो को स्कूल छोड़ कर आ रही थी, तभी चाचा स्कूटी पर आए और चाची को कुछ पकड़ाया और कुछ कान मे कहा और चाची हसना शुरू होगयि. और चाचा अपने काम पर निकल गये. मैने चाची से पूछा चाचा ने आपको क्या दिया. चाची बोलती ये तुम्हारे काम की चीज़ नही है.

मैने चाची से ज़िद की और वो चीज़ छीनने की कोशिश की. और छीन भी ली मैने देखा वो एक कॉंडम का डब्बा था. चाची ने मुझे डांटा और घर चली गई. मेरे मंन मे वोही बात चल रही थी की चाचा रात को चाची को चोदेन्गे. मुझे तारक चड़ा हुआ था. मैं चाची के घर चला गया. मैने देखा चाची सिलाई कर रही है.

पर उन्होने दुपट्टा नही लिया था जिससे उनके मोमे सॉफ दिख रहे थे. मैं उनके पास जाके बैठ गया. मैने उनसे माफी माँगी. और उन्होने मुझे माफ़ कर दिया. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

More Sexy Stories  Meri sexy classmate Srushti ki chudai

थोड़ी देर बाद मैने अपना हाथ उनकी लेग्स पर रख दिया. वो थोड़ा साइड होगयि. मैने फिरसे रखा. और अपना हाथ फेरने लगा. चाची उठके किचन मे चली गई. मैं भी चाची के पीछे गया. और सिदा जाके हाथ उनकी कमर पर रख दिया.

वो मुझे गुस्से से बोली ये क्या कर रहे हो. मैने कुछ नही बोला और चाची को पीछे से पकड़ लिया. चाची ज़ोर से बोलती मुझे छोड़ो फिर मैने छोड़ दिया और उनसे कहा. “ज्योति चाची मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ”.

ये सुनकर चाची बोली तुम्हे तमीज़ नही है क्या. ऐसा कभी नही हो सकता मैं तुम्हारी चाची हूँ. जैसे उनकी बात ख़तम हुई. मैने अपने लिप्स उनकी लिप्स के आगे रख दिया हम दोनो की साँसे मिल रही थी. और झटसे चाची मुझे किस करने लगी. हमने 5 मीं. किस किया. किस करते करते मैने अपना हाथ उनकी लेगैंग्स मे डाल दिया.

चाची ने किस करना रोक दिया. और कहने लगी ये ग़लत है. मैने अपना हाथ बाहर निकाल लिया उनकी चुत गीली हो चुकी थी. मैने उनको समझाया और कहा बस एक बारी करेंगे.

बहुत समझाने के बाद वो मानी. मैने उन्हे लंड चूसने को कहा. उन्होने मेरी पैंट खोली और सिदा मूह मे ले लिया. साली रंडी क्या चुस्ती हैं. जन्नत की सैर करा दी उसने . फिर मैने चाची को हेर से पकड़ा और तेज़ तेज़ लंड चुस्वाया. पूरा मूह के अंदर तक ले लिया था उसने. फिर उसने हाथों से भी रगड़ा.

रंडी के हाथों मे भी जादू था. लंड चुसवाने के बाद मैने उसकी लेगिंग खोली. उसने पूरी लेग्स की वॅक्सिंग कराई थी. सच मे उसकी लेग्स बहुत सेक्सी लग रही थी. लेग्गिन्स के बाद मैने उसकी पैंटी उतरी जो की पूरी गीली थी और थोड़ी बदबूदार भी थी.

More Sexy Stories  हिन्दी गंदी कहानी देसी चुदाई दूध पिता बच

फिर जो नज़ारा था ना क्या बतौन . उसकी चुत पर एक भी बाल नही था. एक दम पिंक पुसी थी. मैने सिदा उसकी चुत पर अटॅक कर दिया. अपनी ज़ीब उसकी चुत के अंदर दे दी थी. उसके मूह से आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह की आवाज़ आ रही थी.

मैने उसकी चुत तेज़ी से रगडी वो बिल्कुल पागल हो गई थी. चाची बहुत तड़प रही थी. मैं नही रुका और चाची स्क्वर्ट कर गई. और चाची मुझे कहती तुम चाचा से भी ज़्यादा मज़ा देते हो. मैं हसने लगा. और लंड उनकी चुत मे डाल दिया. उन्होने ज़ल्दी से मेरा लंड निकाला. और बोला तुम पागल तो नही हो बिना कॉंडम के चुत मे डाल रहे हो.

फिर चाची ने कॉंडम लाया और अपने हाथों से खुद पहनाया. फिर मैने चाची की गहरी चुत मे डाला. चाची सिसकारियाँ लेने लगी. आह्ह्ह अह्ह्ह और तेज़ अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह गो हार्ड अह्झ्ह्ह अह्झ्ह्ह. राहुल अह्झ्ह्ह तेज़ करो राहुल. आज्ज आज्ज अह्ह.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

थोड़ी ही देर मे हम दोनो झड़ गये. हम दोनो नंगे एक बिस्तर पर आधे घंटे तक लेटे रहे और बातें करते रहे और फोटो भी खींची. अभ चाची और मैं हफ्ते मे एक बारी तो सेक्स करते ही हैं.
एक बार तो जब चाचा और बच्चे 2 दिन के लिए बाहर गये थे तो मै चाची के घर सोने के लिए गया था. उस दिन चाची दुल्हन की तरहन सजी थी और मैं दूल्हे की तरहा. उस रात हमने सुहाग्रात मनाई थी.

दोस्तों मुझे बताओ मेरी फ्री सेक्स स्टॉरी परिवार मे चुदाई स्टोरी आपको कैसी लगी. और अगर आपको मेरी स्टोरी अछि लगी तो कॉमेंट करें.

Pages: 1 2