नयी आंटी की मस्त चुदाई

हेलो फ्रेंड्स मेरा नेम अजय व्यास हैं, मैं डीके का एक रेग्युलर रीडर हू. मुझे डीके की कहानिया बोहोत पसंद हैं आज मैं अपनी पहली कहानी लिखने जा रहा हू जो की एक सच्ची कहानी ह. पहले मैं अपने बारे मे बता दू मेरा नाम अजय हैं मैं 20 साल का हू मेरा लंड 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा हैं और मैं जाईपुर का रहने वाला हू. अब मैं अपनी कहानी पर आता हू. ये बात 3 मंथ पहले की हैं जब मैं अपना डिप्लोमा करके आया था. उस टाइम मेरे अंकल की शादी हुई ही थी. मेरी आंटी दिखने मे एकदम माल थी 38 के बूब्स 38 की गॅंड. आए हाय देखते की चोदने का मन करता था. जब उनको देखा था मैं तो देखता ही रह गया था.

एक दिन की बात हैं जब मैं सुबह जल्दी उठ गया था और अपने रूम मे अपना समान अड्जस्ट कर रहा था, मेरे रूम की विंडो हमारे घर के बॅक साइड वाली गॅलरी के जस्ट सामने थी. उस दिन जब मैं अपने कपड़े और बाकी समान अड्जस्ट कर रहा था तभी मैने देखा की आंटी पीछे आई थी नहाने. पीछे गॅलरी मे एक बाथरूम बना हुआ हैं और आंटी रोज सुबह जल्दी उठती थी और वाहा नहाने आती थी. उस दिन भी आज़यूषुयल आंटी नहाने गई हुई थी और बातरूम मे पानी ख़तम हो गया था तो मोटर का स्विच बाथरूम के बाहर था. मैने देखा की भाभी फुल न्यूड बाथरूम से बाहर आई और मोटर ऑन करके अंदर चली गई. आए हाय उनको देखकर के जैसे मेरी सासे ही रुक गई. क्या बोबे थे उनके एकदम टाइट और एकदम क्लीन पुसी थी उनकी उनको देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था. 2-3 दिन तक तो मैं रोज उनके बारे मे सोचकर मूठ मारता था.

मेरा उनको फिरसे न्यूड देखने का बोहोत मन था तो मैने एक प्लॅन बनाया. रात को सबके सोने के बाद मैने बाथरूम का नल खुला छोड़ दिया और सिर्फ़ एक बाल्टी भर कर रखी ताकि आंटी जब नहाने आय तो पानी ना हो और मुझे फिरसे वो सब देखने को मिले. तो अगले दिन सुबह मैं फिरसे जल्दी उठा और आंटी के आने का वेट करने लगा. जैसे वो नहाने गई मैं विंडो के वाहा आकर बैठ गया. थोड़ी देर बाद देखा की आंटी बाहर आई फिरसे न्यूड और उनको देखने के लिए मैं खड़ा हो गया बट इस बार उन्होने मुझे देख लिया था और जल्दी से अंदर चली गई. ऐसा मैने कई बार करा था तो आंटी को मुझपर शक हो गया था. जब अगली बार उन्होने मुझे देखा सुबह विंडो पर तो वो समझ गई थी की ये सब मेरा करा हुआ हैं.

More Sexy Stories  चाची के साथ सुहागरात

उसके कुछ दीनो बाद घर वालो को एक फंक्षन मे जाना था तो मैने जाने से मना कर दिया था और आंटी भी घर पर ही थी. तो उस टाइम जब घर पर कोई नही था सब झन बाहर गये थे फंक्षन अटेंड करने तब उन्होने मुझे बुलाया. मैं तो डर के मारे काप रहा था, मैं उनके रूम मे गया तो देखा की वो तैइय्यार हो रही थी उन्होने मुझे बिठाया और पूछा की सुबह मुझे देखने के लिए ही बैठे रहते हो ना. और रोज बाथरूम का पानी भी खाली कर देते हो , तो मैं घबरा गया और कहा नही मैं तो अपना काम करने के लिए उठता था , तो वो बोली की झूट मत बोलो नही तो मे तुम्हारी मम्मा को बता दूँगी तो मैं डर गया और कहा की हा मैं आपको देखने के लिए बैठा था. तो उन्होने पूछा क्यो तब मैने बोला की आप मुझे बोहोत अछी लगती हो, मैं आपको चोदना चाहता हू तो वो एकदम से हस पड़ी और मैं समझ गया की मुझे क्या करना हैं.

तो मैने बिना टाइम वेस्ट करे उनको पकड़ा और एक जोरदार किस करा और एकदम टाइट पकड़ लिया. फिर मैने उनके कपड़े उतारे और अब वो सिर्फ़ पैंटी मे थी, उनके बूब्स माय गॉड इतने बड़े थे और इतने सॉफ्ट देखते ही मैने तो चूसना चालू कर दिया. फिर मैने उनको बेड पर लेटाया और उपर से किस करना स्टार्ट करा और किस करते करते नीचे आया और उनकी पैंटी उतारी, क्या पुसी हैं उनकी एकदम पिंक और क्लीन. उसको देखते ही मैने उनके पैर खोले और चूत चाटने लगा. आंटी भी पूरा साथ दे रही थी. उनके मूह से अहह उफफफफफ्फ़ अजय ख़ाआ जा इसको ये सब बोल रही थी. 20 मिनट तक उनकी चूत चाटने के बाद वो जाग गई और मैने उनका सारा पानी पी लिया. फिर मैने उनको अपना लंड दिया मूह मे दिया. लंड देखके वो बोली इतना बड़ा तो तुम्हारे अंकल का भी नही हैं और फिर एकदम से पूरा अपने मूह मे ले लिया और चूसने लगी. माय गॉड क्या फीलिंग थी वो ऐसा लग रहा था जैसे सावन हो, 10 मिनट तक चूसने के बाद मैं उनको घोड़ी बनाया और अपने लंड को उनकी चूत पर रगड़ना चालू करा. उनको बोहोत मज़ा आ रहा था “नयी आंटी”.

More Sexy Stories  देसी चुदाई आंटी ने की मेरी हेल्प

2 मिनट बाद वो बोली अब कितना तड़पाएँगा डाल भी दे, इतना बोलते ही मैने ज़ोर से धक्का लगाया और मेरा आधा लंड उनकी चूत मे चला गया था और वो ज़ोर से चिल्ला पड़ी उफफफ्फ़ मर गई अहह दर्द हो रहा हैं इतना सुनते ही मैने एक और धक्का दिया और इस बार पूरा लंड उनके अंदर जा चुका था. उनकी आख से आसू आ गये थे क्योकि अंकल ने उनको ढंग से चोदा ही नही था तो उनकी चूत अभी भी टाइट ही थी. फिर मैने धीरे धीरे अंदर बाहर करना चालू करा और उनको भी मज़ा आने लगा फिर मैने ज़ोर से झटके दिया तो उनको और मज़ा आया. 20 मिनट तक ऐसे चोदने के बाद मैने फिर से लंड मूह मे दिया और चुस्वाया. 5 मिनट तक चूसने के बाद उनको बेड पर लेटाया और फिरसे चोदना चालू करा और 15 मिनट बाद मैने उनके अंदर ही अपना पानी छोड़ दिया और उनके उपर ही लेट गया. उस दिन मैने उनको 6 बार चोदा और जब भी हुमको मौका मिलता हम चुदाई करना चालू कर देते. तो दोस्तो ये थी मेरी पहली बार अपनी आंटी को चोदने की कहानी. पसंद आई हो तो प्लीज़ कॉमेंट करना. जो भी गर्ल या आंटी मुझसे चुदवाना चाहती हो मुझे मैल करे मेरी मैल आइडी है “playboy.3942@gmail.com”. आपकी इन्फर्मेशन प्राइवेट रखी जाएँगी. कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट्स मे ज़रूर लिखे, ताकि हम आपके लिए रोज़ और बेहतर कामुक कहानियाँ पेश कर सके – डीके

Pages: 1 2