मम्मी ने किरायेदार से चूत चुदवाई

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम विनीत है और में कोटा का रहने वाला हूँ। इस पर सेक्स स्टोरी पड़कर मैंने सोचा क्यों ना में भी अपनी मम्मी के साथ घटी घटना को बताऊँ। दोस्तों मेरी मम्मी का नाम नेहा सक्सेना है। वो एक घरेलू औरत है और उनका फिगर 34-37-40 है। मम्मी बहुत मोटी है लेकिन उनका फेस बहुत सुंदर है। हमारे घर में सिर्फ़ तीन ही लोग रहते है में, मम्मी और पापा। पापा एक कम्पनी में जॉब करते है और में स्कूल जाता हूँ। अब में अपनी स्टोरी पर आता हूँ।

हमारा घर बहुत बड़ा है तो घर में दो रूम खाली पड़े हुए थे। तभी पापा ने सोचा क्यों ना किसी स्टूडेंट को किराए पर दे दे। फिर एक लड़का जो कि लगभग 19 साल का था अपने पेरेंट्स के साथ घर देखने आया उसे रूम पसन्द आया और हमे भी वो अच्छा लगा और फिर वो हमारे यहाँ पर रहने लगा। उसका नाम तेजस था। वो लड़का दिल्ली से कोचिंग लेने आया था। वो बहुत ही हेंडसम और स्मार्ट था।

फिर कुछ ही दिनो में वो घर के मेंबर जैसा हो गया था। में उसे भैया कहकर बुलाता था। फिर कुछ महीने तक तो सब कुछ सही चला लेकिन एक दिन तेजस ने मम्मी को कपड़े बदलते हुए देखा लिया तो उसके बाद से वो मम्मी को नंगा देखने की बार बार कोशिश करता रहा। तेजस मम्मी के साथ अब पहले से ज़यादा टाईम बिताने लगा और मम्मी के काम में हाथ बटाने लगा। अब मम्मी उसे मना करती थी पर तेजस नहीं मानता और वो कहता कि वो उसकी मम्मी जैसी है इस लिये वो उनके काम में उनका हाथ बटाता है।

More Sexy Stories  बीवी की चुदाई की डॉन ने होटेल मे

तेजस के पास एक अच्छा मोबाइल था जिसमे कैमरा भी था और वो चुप चुप कर मम्मी के फोटो खींचता। तभी एक दिन में उसके रूम में गया, वो उस टाईम नहाने गया था तो में उसके लॅपटॉप को देखने लगा। उसमे काफ़ी ब्लू फिल्म थी और उसमे एक फोल्डर था जिसमे लिखा था स्पेशल। मैंने वो खोला तो देखा कि मम्मी की बहुत सारी फोटो थी और वीडियो भी थे। कुछ वीडियो में तो मम्मी के कपड़े बदलते हुए भी थे। तभी उसकी आने की आहट हुई तो मैंने फोल्डर क्लोज़ कर दिया और मूवी देखने लगा। फिर में बाहर आ गया तेजस और मम्मी के बारे में सोचने लगा। तभी मम्मी के कपड़े बदलते वीडियो और तेजस के मम्मी के साथ प्यार करने के बारे में सोच कर मेरा लंड कड़क हो गया।

अब में हमेशा तेजस के ऊपर नज़र रखने लगा। तेजस मम्मी को हमेशा घूरते हुए देखता और ऐसे टाईम वो नीचे आता कि मम्मी नहाकर आ रही हो। मम्मी हमेशा बाथरूम में सिर्फ़ ब्लाउज पेटिकोट लेकर जाती साड़ी बाहर आकर पहनती है। तेजस हमेशा मम्मी को इसी हालत में देखता था। पापा तो जॉब पर मॉर्निंग में चले जाते थे। मेरा स्कूल 12 बजे से शुरू होता है लेकिन एग्जाम होने की वजह से हमारी एक्स्ट्रा क्लासेज लगा दी गई जिसकी वजह से मुझे 10 बजे ही स्कूल जाना पड़ता।

तभी मैंने तेजस को यह बात बताई तो तेजस के फेस पर खुशी आ गई। मैंने कभी यह नहीं सोचा था की वो मम्मी को चोदने की हिम्मत कर सकता है। फिर बुधवार को में स्कूल जाने के लिए 9:30 बजे को घर से निकल गया लेकिन जब स्कूल पहुचा तो वहाँ पर छुट्टी का नोटीस लगा था। उस दिन में बहुत खुश होकर घर आ गया। घर पर आया तो देखा कि तेजस जल्दी से घर के अंदर जा रहा है और उसने दरवाजा बंद कर लिया है।

More Sexy Stories  डोली भाभी ने चुदाई का खूब मजा दिया

में भी जल्दी से घर गया देखने कि क्या हो रहा है और खिड़की में से मैंने देखा कि मम्मी बाथ लेने की तैयारी कर रही थी और बाथरूम में कपड़े रख रही थी। तभी उसी टाईम तेजस ने मम्मी को आवाज़ देकर कहा कि उसके सर में बहुत दर्द हो रहा है क्या वो उसे प्लीज कोई पेन किलर दे देगी? फिर मम्मी ने हाँ कहा और पेन किलर लेने चली गई। तभी तेजस बाथरूम गया और मम्मी का ब्लाउज और ब्रा उठाकर ले आया और उन्हे छुपा दिया।

Pages: 1 2 3 4