मम्मी के साथ लेस्बियन सेक्स

कभी भाई मुझे किस करता तो कभी मम्मी को….धीरे धीरे हम सब पर नाच का खुमार चढ़ने लगा…..इतने में अचानक यश ने मेरा कुर्ता फाड़ दिया…अब मैं सफ़ेद ब्रा में थी…उधर भाई ने मम्मी का ब्लाउज फाड़ के मम्मी की चुचियों को आजाद कर दिया….और डांस करते करते मम्मी को किस करने लगा…इतने में भाई ने मम्मी को छोड़ा तो मेरे करीब आ गया और मैंने अपने भाई की कमीज़ फाड़ के ऊपर से उसे नंगा कर दिया….उधर यश मम्मी ने यश की टी-शर्ट फाड़ दी. और यश को किस करने लग गयी…अब हम सब आधे नंगे होके डांस करने लग गये…बहुत मजा आ रहा था हम सबको….अब भाई ने मुझे गोदी में उठा के नाचने लगा

और मैंने गोदी में से ही उसे किस करने लगी….उधर यश ने मम्मी के पेटीकोट एक ही झटके में ऊपर उठा के चूत चाटने लगा.. इधर मैंने भी एक ही झटके में भाई का लंड अपनी मुह में दे के चूसने लगी….उधर अबकी बार यश ने खड़े खड़े मम्मी की चूत में लंड घुसेड दिया और दो झटके मार के लंड बहार निकाल के मुझे पकड लिया फिर भाई ने मम्मी को पकड़ के उसकी चूत में खड़े खड़े लंड डाल के पेलने लगा….ऐसे ही कुछ देर हमने खूब मजा लूटा…फिर बैठे के चुदाई का प्लान बनाने लग गये….

मम्मी ने कहा आरती बेटा तूने कभी एक साथ दो लंड लिए…मैंने कहा नही मम्मी क्या तुमने लिए…तो मम्मी हसने लग गयी और कहा एक साथ तीन तीन लिए मैंने…डॉन चूत में और एक गांड में….मैं सोच में पड़ गयी एक साथ तीन तीन…मम्मी ने कहा ज्यादा सोच मत आज दो लंड एक साथ ले के देख ले….मेरी मासूम सी चूत में दो लंड एक साथ…सोच के कांपने लगी फिर सोचा की ज्यादा से ज्यादा क्या होगा दर्द ही तो होगा…और और बॉयफ्रेंड के लंड से ही तो दर्द होगा….फिर मैंने हामी भर दी…फिर मम्मी ने यश से कहा तुम नीचे लेटो आरती तुम्हारी ऊपर आएगी….यश निचे लेट गया और मैं उसके ऊपर उलटी खड़ी होके उसके लंड को अपनी चूत में ले लिया…

More Sexy Stories  गर्लफ्रेंड और उसकी सेक्सी भाभी की कामुकता

अब इधर से भाई मेरे ऊपर आके मेरी चूत में अपना लंड पेलने लगा मगर गया नही क्यूंकि यश का लंड पहले से ही मेरी चूत में था…तो मम्मी किचन में गयी और फ्रिज से क्रीम लेके आई और भाई के लंड पे लगा दिया और पहले भाई का लंड खूब चाटा ..फिर कहा अब डाल अपनी दीदी की चूत में फिर भाई ने अपना लंड मेरी चूत में लगा के एक ही झटके में अंदर घुसेड दिया…मेरी जोर से चीख निकली….मुझे बहुत दर्द हो रहा था…मगर बेरहम भाई कहाँ मानने वाला था…और धक्के मरने लगा…अब यश और भाई एक साथ धक्के मारके मेरी मासूम सी चूत के चीथड़े उड़ाने लगे….अब मुझे भी मजा आने लग गया था….

मैं अपनी चूत में दो दो लंड लेके आनन्द के सागर में गोते लगाने लगी….मुझे पहले इतना आनंद कभी नही आया…मेरा मुह भाई के मुह के सामने था मैं उसके ओंठ चूसने लग गयी..मम्मी मेरे दूधू पीने लगी अब मेरी मुह से सिकारियाँ निकलने लग गयी…aahhhhhhh ohhhhhh ohhhhh mmaaaa…..मार डाला रे…..oyeeee yeeee aaahhhhh पूरा कमरा मेरी आवाज़ से गूंजने लगा….मैं झट चुकी थी….मगर वो दोनों जालिम लगे हुवे थे धक्के पर धक्के मारने में….वो दोनों भी झड़ने वाले थे मैंने कहा तुम दोनों अपने लंड का माल मेरी चूत में ही छोड़ देना..मुझे तुम दोनों के बच्चे की माँ बनना है….फिर दोनों ने आखिर शॉट लगाया और अपने गर्म गर्म वीर्य मेरी चूत में छोड़ दिया….हम तीनों तृप्त हो गये थे….भाई और यश ने कुछ

देर अपना लंड मेरी चूत में ऐसे ही फंसाए रखे जैसे कुत्ते रखते हैं….फिर हम तीनों अलग हुवे…मैंने भाई को गले लगाया और उसे खूब चूमा…और कहा thnx भाई तूने मुझे आज चुदाई का परम सुख दिया है…फिर मैंने यश को गले लगाया….अब हम चारों एक साथ बिस्तर पे लेटे हुवे थे मम्मी की एक टांग यश के ऊपर थी और सर सीने पे और लंड पकड के उसे हिला रही थी ताकि फिर से खड़ा हो सके चुदाई के लिए…और मैं भाई के ऊपर लेट गयी और उसे किस करने लगी…..कुछ देर बाद हम चारों फिर से चुदाई के तयार हो गये…फिर मम्मी यश से और मैं भाई से चुदाने लगे….करीब आधा घंटा तक खूब जमके चुदाई हुवी….फिर यश ने मुझे और भाई ने मम्मी को चोदा….पूरा कमरा हम चारों की सिसकारियों और आवाजों से गूंजने लगा…

More Sexy Stories  सन्डे के दिन कामवाली की जमकर ठुकाई

मैंने यश से कहा की अब की बार अपने लंड का माल मेरे मुह में डालना…फिर यश ने सारा माल मेरे मुह में डाल दिया…उधर भाई ने अपने लंड का माल मम्मी की चूची और मुह में डाल दिया फिर मम्मी ने भाई का लंड मुह से चाट चाट के साफ कर दिया और मैंने यश ला लंड…..उस पूरी रात हम सोये नही बस बारी बारी चुदाई का आनंद लिया….सुबह के पांच बजे तक हम चुदाई करते रहे और फिर ऐसे ही एक साथ नंगे सो गये ….जब उठे तो दिन के दो बज चुके थे…फिर हम चारों उठ गये बाथरूम गये और नंगे ही नहाए…फिर हमने प्लान किया बाज़ार का बाज़ार गये शोपिंग की और खाया लिया….यश ने मेरे और मम्मी के लिए एक एक नाईटी ली जाली दार …फिर हम सब घर आये रात को खाना बनाया एक बार फिर से चुदाई की और सो गये…..दोस्तों ये कोई फेक कहानी नही है बल्कि एक सच्ची कहानी है……धन्यवाद…..आप सबकी चहेती आरती

Pages: 1 2