मेरी प्यारी दीदी विद्या

हमारे घर मे हम 4 लोग रहते है, मम्मी, पापा, बड़ी दीदी विद्या और मैं, तो अब इंडियन सेक्स स्टोरीस का मज़ा लीजिए.

मेरा नाम राज है मैं 11 स्टॅंडर्ड मे पढ़ता हू और मेरी दीदी बीएससी मे है, मेरी दीदी बहुत खूबसूरत है क्योंकि मेरी दीदी हमेशा सेक्सी स्टाइल मे ही रहती है, मेरी दीदी हमेशा जीन्स पैंट पहनती है एसलिए मेरी दीदी की बॉडी बहुत ही मस्त लगती है.

मेरी दीदी की चुचिया भी थोड़ी मोटी है तो दीदी जब टॉप पहनती है तो लगता है की उनकी चुचिया बाहर निकल ने का प्रयास कर रही हो, दीदी की चुचियों का साइज़ 32 का है, दीदी की चुचीय मस्त गोल गोल है और दीदी का कमर तो पूछिए ही मत मन को घायल कर देता है, क्योंकि कमर की साइज़ 28 की है एसा लगता है की अभी उनकी कमर को पकड़ कर उनकी नाभि को चूस्ता रहू, और दीदी की गॅंड की साइज़ 33 की है.

इतनी कमाल की साइज़ है दीदी की गॅंड की ,की बूढ़ा भी कहेगा की अभी इसकी गॅंड मारलू, दीदी की गॅंड पीछे से बहुत ही बाहर मे है और दीदी जब जीन्स पहन कर चलती है तो दीदी की गॅंड पूरी हिलती है

मैं और दीदी दोनो एक ही रूम मे और एक ही बेड पर सोते है तो एकदिन हुवा ऐसा की रात के 12 बज रहे थे मैं बहुत ही गहरी नींद मे सो रहा था की तभी अचानक मुझे मेरे लॅंड पर 220 डिग्री का ज़ोर का झटका लगा क्योंकि कोई मेरे लॅंड पर हात फेर रहा था तो मैं जाग गया और धीरे से आँखे खोल कर देखने लगा.

तो मेरे सामने दीदी पूरी नंगी मेरे उपर बैठकर अपने हातो से मेरे लॅंड को पैंट के उपर से सहला रही थी पर मैने कुछ नही कहा और सोने का नाटक करता रहा फिर दीदी ने धीरे धीरे मेरी पैंट की ज़िप खोली और लॅंड को अंडरवेर से बाहर निकाला, मेरा लॅंड तो दीदी के हात लगाने से ही 9 इंच का बन गया था और दीदी बोल पड़ी वाह इतना बड़ा एस्को चूसने मे तो बहुत ही मज़ा आएगा और दीदी ने मेरे लॅंड को मूह मे भर लिया और चूसने लगी.

More Sexy Stories  Uncle aur Aunty ko Exercise Sikhayi

इधर मेरा तो बहुत बुरा हाल हो रहा था और दीदी ज़ोर ज़ोर से चूस रही थी, लॅंड चूसने के बाद दीदी ने मेरे लॅंड को अपनी चुत पर सेट किया और मेरे मूह मे मूह डालकर मेरे होटो को चूसने लगी.

थोड़ी देर तक होट चूसने के बाद दीदी बोली राज मैं जानती हू तू जाग गया है और तू इस सब का मन से आनंद ले रहा है पर अब मुझसे और इंतजार नही होता जल्दी से डाल अपनी बहन के अंदर फाड़ दे आज अपनी बहन की चुत को बनाले आज मुझे तेरी रांड़ चोद राज मुझे चोद तो मुझे भी दीदी की इस तरह की बाते सुनकर जोश आ गया और मैं भी बहुत गरम होने लगा और मैने एक ज़ोर का झटका लगाया तो मुझे और दीदी दोनो को बहुत दर्द हुवा और दीदी तो बहुत ज़ोर से चिल्लाए भी.

दीदी- उूऊउईईव माआआआअ कितनाआआ बड़ााअ हैन्न्न्न्न्न्न रीई राअज्जजज तेराा आआहह.

मैं- आह दीदी आपकी तो बहुत ही कड़क है.

दीदी- अपनी बहन की चुत अछी लगी क्या तुझे.

मैं- बहुत ही अछी है दीदी बहुत मज़ा आ रहा है.

दीदी- तो ज़ोर ज़ोर से धक्के मार ना बेटे.

मैं – हा दीदी आज तो मैं आपकी फाड़ ही डालूँगा.

दीदी- इस दिन का तो मैं बेसब्री से एंतजार कर रही थी मेरे राज अह.

मैं -ज़ोर ज़ोर से धक्का मारता और दीदी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाति रही.

दीदी- आहहा फाड़ डाल आज अपनी बहन की चुत को आअहह उउउंम्मईए.

मैं – दीदी के बूब्स को मूह मे लेकर चूस्ता और दीदी को चोदता भी रहा.

More Sexy Stories  देल्ही वाली आंटी की चुदाई

दीदी- बहुत तरसी हू मेरे राजा तेरे इस लॅंड को मेरी बिल मे लेने के लिए बहुत तरसाया है तूने अपनी इस बहन को.

मैं- अब से मैं आपको रोज चोदुन्गा दीदी.

दीदी- हा मेरे राजा मैं भी तेरे इस लॅंड को हमेशा अपने होल मे लेती रहूंगी और मेरी प्यास को तुझसे हमेशा बुझाति रहूंगी.

बहुत देर तक मैं दीदी को चोदता रहा फिर मेरा निकलने वाला था तो मैं बोला दीदी मेरा गिरनेवाला है तो दीदी बोली बाहर निकाल नही तो मैं प्रेग्नेंट हो जाउन्गि तो मैने लॅंड जैसे ही बाहर निकाला तो दीदी ने झट से लॅंड को अपने मूह मे भर लिया.

तभी मेरा पूरा माल दीदी के मूह मे चला गया तो दीदी सारा माल मूह मे लेकर पीने लगी और बोलने लगी वाह तुम्हारा पानी तो बहोत ही मीठा है मेरी तो इस जनम की प्यास ही बुझ गई.

मेरा पूरा माल दीदी के मूह मे गिरने के बाद मेरा लॅंड ढीला पड़ा और छोटा हो गया तब तक सुबह के 5 भी बज गये थे तो मुझे भी नींद लग गई और दीदी को भी और जब मैं सुबह उठा तो दीदी मेरे पास नही थी दीदी कॉलेज को निकल गई थी.

फिर मैं भी उठकर कॉलेज चला गया और शाम को घर आया फिर रात को खाना खाने के बाद मैं और दीदी जल्दी अपने रूम मे चले आए आते ही हमने रूम का लॉक लगाया और दीदी को पीछे से पकड़ लिया तो दीदी बोली अरे राज बेटा थोड़ा रुक तो सही अब तो पूरी रात ही तेरी है थोड़ा इंतजार तो कर.

मैं- नही दीदी आपके बिना पूरा दिन कैसे कटा ये मैं ही जनता हू अब मुझसे सबर नही होता.

Pages: 1 2