मेरी अम्मी का गोरा बदन

हाय, मेरा नाम सलमान हैं मेरी एज 20 साल हैं और मैं देल्ही मे अपनी छोटी सी फॅमिली के साथ रहता हू मेरे घर मे मैं मेरी अम्मी मेरा छोटा भाई और पापा हैं, पापा रेलवे मे लोको पाइलट हैं तो अक्सर घर के बाहर ही रहते हैं.सिर्फ़ फेस्टिवल्स मे ही आते हैं.

तो दोस्तो ज़्यादा टाइम खराब ना करते हुए अपनी सच्ची इंडियन सेक्स स्टोरीस पे आता हू.

बात उस समय की हैं जब मैं अपने 12थ का एग्ज़ॅम देके रिज़ल्ट का वेट कर रहा था गर्मियो के दिन चल रहे थे एक दिन अपने कमरे मे बैठा मूवी देख रहा था की बाहर से अम्मी की आवाज़ आई बेटा सलमान मैं नहाने जा रही हू अपने रूम से बाहर मत आना क्यूकी अम्मी हमेशा आँगन मे नल के पास ही नहाती थी क्यूकी मेरे घर का बाथरूम काफ़ी छोटा था इस के कारण अम्मी को उसमे उलझन होती थी वो बाथरूम मे तभी नहाती थी जब घर मे कोई गेस्ट आया हुआ हो.

तो अम्मी की आवाज़ सुनके मैने कहा जी अम्मी मैं यही रहूँगा कमरे मे फिर उसके बाद मेरे मन मे अजीब सा शैतान जाग उठा मैने सोचा क्यू ना अम्मी को आज नंगा देखा जाए जबकी उससे पहले अम्मी के लिए मेरे मन मे कोई गंदी सोच नही थी लेकिन उस दिन अम्मी का गोरा बदन सोच के मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं धीरे से एक स्टूल लेके अपने रूम की विंडो के पास खड़े होके बाहर की तरफ देखा तो मेरी आँखे खुली की खुली रह गई.

क्यूकी मेरी अम्मी कमर तक पूरी नंगी हो के पात्रे पे बैठी अपने पैरो के नेल्स को सॉफ कर रही थी और उनके दो खूबसूरत बूब्स दोनो तरफ झूल रहे थे ओह गॉड क्या गोरा बदन था अम्मी का उनके निप्पल के काले घेरे काफ़ी दूर तक फैले हुए थे जो की गोरे बदन की और खूबसूरती बढ़ा रहे थे.

नेल्स साफ करने के बाद अम्मी ने अपने हाथो मे ओइल लिया और उसे अपने चिकने बदन पे लगाने लगी ये सीन देख के मेरे पैंट मे लंड का बुरा हाल हो रहा था फिर अम्मी ने थोड़ा सा ओइल अपने हाथ पे लेके अपनी चूत के उपर रगड़ने लगी और उनकी चूत पे काले बाल पूरी तरह से फैले हुए थे.

More Sexy Stories  फुफफ़ी की चुदाई उनके घर पे

करीब 5 मिनट तक यही सीन चलता रहा उसके बाद अम्मी खड़ी हो गई ओह गॉड मैं बता नही सकता खड़ी होने के बाद उनका नंगा और गोरा बदन क्या लग रहा था उनके बूब्स और भी चमक रहे थे और निप्पल को देखकर लग ही नही रहा था की ये वही निप्पल हैं जिनको मैं बचपन मे चूस्ता था और हा बचपन से याद आया की मैने अम्मी का दूध काफ़ी बड़े हो जाने के बाद तक पिता रहा क्यूकी मैं अपनी अम्मी का एकलौता बेटा था.

काफ़ी दिन के बाद मेरे भाई का जनम हुआ था जो की मेरे से 2 साल छोटा हैं तो हा अम्मी टॉवेल लेने के लिए खड़ी हुई थी टॉवेल लेने के बाद वो फिरसे पत्रे पे बैठ गई और अपने गोरे गोरे बदन पे पानी डालने लगी और फिर साबुन लेके अपने बड़े बड़े बूब्स पे रग़ाद ही रही थी की अचानक फोन की घंटी बजाने लगी जोकि आँगन के पास ही एक टेबल पे रखा था.

फोन की बेल सुनने के बाद अम्मी ने मुझे आवाज़ दी सलमान सलमान मैं जानभुजाकार नही सुना फिर आवाज़ लगाई सलमान बेटा देखो किसका फोन आ रहा रिसीव करो आके फिर मैने कहा आप नहा रही हैं तो मैं आ सकता हू वो बोली आ जाओ कोई बात नही तू मेरा बेटा ही तो हैं कोई गैर मर्द तो हैं नही मैने ओके अम्मी और तेज़ी से अपने रूम से बाहर निकला मेरी नज़र अम्मी के बूब्स पे थी.

वो भी मेरी तरफ देख ही रही थी वो बोली देख बेटा किसका फोन हैं मैने फोन देखा तो पापा का था अम्मी से बोला पापा का हैं बोलो उठा के बात कर और बोल दे की मैं नहा रही हू मैने वैसा ही कहा पापा बोले कोई बात नही अम्मी को फोन दो कुछ ज़रूरी बात करनी हैं अम्मी से कहा पापा आपसे बात करना चाह रहे हैं बोलो ओके ला फोन मुझे दे और मैं उनके बिल्कुल पास जाके उनको मोबाइल दिया.

More Sexy Stories  सेक्सी भाभी की चुदाई देखी रात मे

वो ऐसे ही नंगी बैठी हुई थी अपने बेटे के सामने उनको नंगा देखकर मेरे लंड से धीरे धीरे पानी निकल रहा था अम्मी फोन पे बात कर रही थी और मैं उनके नंगे बदन पे नज़रे गड़ाए घूर रहा था क्यूकी ध्यान फोन पे था तो मैं उनके पास जाके नल से अपनी पीने के लिए गिलास मे भरने लगा.

तो मेरी उनकी डबल रोटी की तरह फूली हुई चूत का दीदार हो गया उफफफ्फ़ क्या चूत थी ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने केक को बीच से कट करके उनके जाँघो के बीच चिपका दिया हो मैं बता नही सकता उनकी गोरी चिकनी मोटी जांघे देखकर बुरा हाल हो रहा था इतने मे अम्मी की बात हो गई और उन्होने फोन कट कर दिया और मुझे फोन देके बोली ले बेटा रख दे अलमारी पे.

मैने उनके हाथ से फोन ले लिया और अपने रूम मे जाने लगा इतने मे अम्मी ने आवाज़ दी बेटा सुनो मैने कहा क्या हुआ अम्मी बोली बेटा मेरी पीठ पे मैल जम गई तेल लगाने की वजेह से तो अपने हाथ से थोड़ा रगड़ दे मेरा हाथ नही जा रहा हैं पीछे मैने कहा अम्मी मेरा हाथ तो पीछे चला जाता हैं तो आपका क्यू नही जाता वो बोली बेटा तुझमे और मुझमे काफ़ी फरक हैं मैने कहा क्या फरक हैं अम्मी तो वो बोली बेटा मेरे ये दो बड़े दूध हैं इनकी वजेह से नही जाता हाथ मैने कहा अछा अम्मी मुझे आपके दूध पिए हुए कितने दिन हो गये.

Pages: 1 2