मैने कैसे आंटी को चोदा

हाय फ्रेंड्स, आज में अपनी कहानी लिख रहा हूँ.मेरा नाम सिंघानिया है . ये कहानी करीब 4 महिनी पुरानी है. मेरे घर के पड़ोस मे एक अंकल अकेले रहते थे, उमर होगी कोई 35-36. उनकी वाइफ का आक्सिडेंट हो गया था और वो मर गई थी पर उनका एक 4 साल का बेटा था. करीब 1.5 साल पहले की बात हैं वो दूसरी शादी करके एक नयी आंटी को ले आए. सच बताओं दोस्तो पहले दिन से ही मैं उसका दीवाना हो गया. क्या रंग था! पूरी गोरी. फिगर 38-30-40(बाद में पता चला). उसके बड़े बड़े चुचे और गॅंड देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया. मुझे शांत होने के लिए अंदर बात्रोम में जाकर मूठ मारना पड़ा. मैं दिन रात उसकी चुदाई के सपने देखने लगा. मैं छत पर अपने अलग रूम में रहता था और अंकल आंटी भी उपर रहते थे क्यूंकी नीचे उन्होने रेंट पर दे रखा था.

करीब एक साल पहले की बात है, अंकल की उमर की वजह से डेत हो गई. और फिर वो आंटी पता नही कहा चली गई. करीब 2 महीने बाद वो लौट कर आईं. वो अब थोड़ी शांत रहती थी. अंकल ना होने की वजह से मम्मी मुझे उनकी हेल्प करने के लिए कहती रहती थी जैसे बाजार से समान लाना या घर का कोई हेवी काम करना.

मैं भी इसी बहाने उनकी मोटी और गोल गॅंड देख लेता !! मन करता अभी सलवार उतार के चोद दूं. पर कंट्रोल करना पड़ता. वो अब मुझसे फ्रॅंक होती जा रही थी. मैं और वो टेरेस पे रहते थे तो शाम के वक़्त वो अपनी छत पे मेरी साइड आकर बातें करने लगती. वो दीवाल पर झुक कर मुजसे बात करती जिसकी वजह से उनके चूचे दिखते थे ! वाह क्या चुचे थे गोल गोल और मोटे!! बीच में दीवार होने की वजह से वो मेरी साइड नही आ पाती थी. क्यूंकी उनका कमरा उपर था तो जब वो नहा कर आती थी तो सीधी नज़र उन्ही पर पड़ती थी. गीली सलवार कमीज़ में उनकी ब्रा पैंटी दिखते थे और मेरा लंड खड़ा हो जाता था. उनके फ्रॅंक होने की वजह से मैं टेरेस की दीवार(4फिट) पर चढ़कर उनके घर चला जाता और हेल्प कर के वापस आ जाता.

More Sexy Stories  Meri sexy classmate Srushti ki chudai

एक दिन मम्मा ने मुझे कहा की आंटी से जाकर पूछ लूँ की बाज़ार से कुछ मंगाना है या नही. मैं दीवार कूदकर उनके साइड चला गया. घर में टीवी की आवाज़ सुनकर मैं बिना आवाज़ दिए अंदर चला गया. पर लॉबी में कोई नही था तो मैं बेडरूम की तरफ गया तो बेडरूम का शीशा जो की वॉशरूम के ओपॉझिट है उसमें देखा की आंटी अपनी चुत में केला डाले जा रही है. उसे अंदर बाहर अंदर बाहर करे जा रही हैं. मैने अपना मोबाइल फोन निकाला और शीशे से ही उसकी वीडियो बनाने लगा. उसकी गुलाबी चूत देखकर मेरा लंड उछलने लगा. मैने बड़ी मुश्किल से कंट्रोल किया और उसकी वीडियो बनाता रहा. क्या चुत थी उसकी गुलाबी और फूली हुई. उसका छेद मुझे सॉफ दिख रहा था.

अब उसने केला निकाला उसमे थूक लगाया थोड़ा सा अपनी चुत पे थूका और फिर से केला अंदर करने लगी. करीब 5 मिनट तक ये चलता रहा और फिर वो झड़ गयी. मैं जल्दी से वापस लौट आया और फिर से कुछ ना जान ने का नाटक करते हुए उनके घर गया. वो कुछ देर में आईं और थोड़ी हाफ़ रही थी. मैने बाजार का पूछा उन्हेने मना कर दिया.

थोड़ी देर बाद शाम को वो टेरेस पर रोज की तरह आईं. मुझसे बातें करने लगीं. बात बात में उन्होने मुझसे पूछ लिया की मेरी लाइफ कैसी चल रही है. कोई जीएफ़ है? मैने कहा है, तो उन्होने हस्ते हुए कहा फिर तो तुम्हारे मज़े हैं. मैने सॅड सा चेहरा बनाते हुए कहा- कहाँ आंटी!!

आंटी ने कहा क्यूँ जीएफ़ खुश नही रखती. मैने कहा नही आंटी. तो उन्होने पूछा खुश होने के लिए क्या चाहिए जो तुम्हे नही देती. मैने मोबाइल में उनकी ब्लू फिल्म उन्हें दिखाते हुए और चूत पर इशारा करते हुए कहा ये चाहिए. वो चौकते हुए अपने रूम की तरफ चली गयीं. मौका देखते हुए मैं भी पीछे चला गया. अंदर जाते ही किचन में काम करते हुए उन्होने कहा ये सही नही है. मैने पीछे से जाकर उनको पकड़ कर कहा आंटी सब सही है, अब तो मैं आपके बारे में सब जानता हूँ. उन्होने छुड़ते हुए कहा नही सिंघानिया हटो और मुझ पर चिल्लाइन. इस बार मैने उन्हे सामने से पकड़ा और लिप्स पर किस करने लगा, उन्होने थोड़ी देर तो विरोध किया पर फिर बाद में साथ देने लगीं.

More Sexy Stories  दिव्या मेडम के साथ होली मे

मैं किस करते हुए उनके चुचे दबाने लगा.वो आ की आवाज़ निकालने लगीं. इसके बाद मैने सलवार में ही उनकी गॅंड के छेद में उंगली डाल दी, वो मदहोश हो गई और मेरी उंगली पकड़ कर खुद अंदर बाहर करने लगीं. मैने गॅंड के छेद से ही सलवार को फाड़ दिया और उन्हें किचन की स्लिप पे लिटा दिया. तभी मैने वाहा पर रखा तेल उठाया और उनकी गॅंड पर लगा दिया. उन्होने कहा नही दर्द होगा. मैने ना सुनते हुए वाहा रखा बेलन उनकी गॅंड में घुसा दिया! वो चिल्ला उठी तो मेने चुत में उंगली करी और किस किया वो दर्द भूलकर मदहोश हो गई और आ ऊवू की आवाज़ निकालने लगीं. धीरे धीरे गॅंड का छेद खुल गया. अब मैने अपने कपड़े उतार दिए और उसकी कमीज़ भी. मेरा 7 इंच लंबा और 2 इंच मोटा लंड देखकर उसकी आँखें खिल गयीं. उसने तुरंत मूह में ले लिया और पागलों की तरह चाटने लगी.

Pages: 1 2