रंडी मा की दोस्तो ने ज़ोरदार चुदाई की

हेलो दोस्तों मेरा नाम अभी है. मैने आपको अपनी पिछली कहानी मे बताया था की कैसे मैने अपनी मा को नंगा करके चोदा. इस कहानी मे मैं आपको बताना चाहता हू की कैसे मेरे दोस्तों ने मेरी मा के साथ गॅंगबॅंग किया. मैं आपको अपने बारे मे बताता हू, मुझे सेक्स बोहोत पसंद है, मैं किसी से भी सेक्स कर सकता हू, अगर कोई लड़का या लड़की मुझसे सेक्स चॅट या बात करना चाहता है तो वो मुझे मैल कर सकते है ( आइडेंटिटी डिस्क्लोस नही होगी).

फॅमिली इंट्रोडक्षन:- मैं अभिचोदु – एज 22 ,पापा- एज 52 ,मेरी मा – प्रीति एज 46 ,मेरी बहन – शिल्पा एज 19 ,मेरी बहन – स्वीटी एज 17. मेरे पापा नौकरी के सिलसेले मे अक्सर बाहर ही रहेते है. मैं आपको पहले स्टोरी मे बताया था की मेरी मा प्रीति कितनी सेक्सी है. उसका रंग बिल्कुल सॉफ है दूध(मिल्क) जैसा. उसका फिगर 38-26-38 है. वो है तो 46 साल की पर लगती है 34-36 साल की. पापा घर से बाहर रहेते है इसलिए मैं ही अपनी मा की लंड का भूक मिटाता हूँ.

मेरे दोस्त रमेश, सन्नी, लकी, और अरुण रोज़ मेरे घर आते थे और मेरी मा को देखा करते थे. वो सब मेरे मा को देख के मुट्ठी मारा करते थे. मुझे सब पता था की वो मेरे मा को देख के मुट्ठी मारते है पर मैं उनको कुछ नही कहता था क्यों की वो मुझे पूरी ऐश करते थे. वो मुझे ब्रॅंडेड शराब पिलाते थे, रंडी चुदवाते थे और कभी कभी मूड बनने पर मैं उनसे गॅंड भी मरवाता था. मैं आपको बताना चाहता हूँ मुझे लड़कों के साथ भी सेक्स करने मे मज़ा आता है.

इक बार मैने *** मे सट्टा लगाया और मैं उसमे सारे पैसे हार गया. मेरे उपर 10,000/- रुपय का कर्ज़ा चढ़ गया. जिन लोगों से मैने सट्टा लगाने के लिए पैसे उधार लिए थे वो मुझे धमकी देने लगे. जब ये बात मैने अपने दोस्तों को बताई तो वो बोले की हम तुझे 10,000/- रुपय दे देंगे पर तुझे हमारे लिए कुछ करना होगा, तुझे अपनी मा की चुत दिलानी होगी. मेरे पास और कोई रास्ता नही था. मैने कहा ठीक है लेकिन मेरी मा इस काम के लिए मानेगी नही. तो उन्होने मुझे 1 गोली दी और बोले इसे अपनी मा को खिला देना. इससे उसको नशा चढ़ जाएगा और वो रांड़ कुछ नही कर पाएगी. मैने अगले दिन मा को चाय(टी) मे गोली मिलाकर दे दी. थोड़ी देर बाद मैने कमरे मे देखा तो मा सो रही थी. मैने मा को सोते हुए देखा तो अपने दोस्तों को फोन कर दिया. जब तक मेरे दोस्त आए तब तक मैने अपनी मा के बूब्स ज़ोर ज़ोर से दबाए. थोड़ी देर मे मेरे 4 दोस्त आ गये. आते ही रमेश ने पूछा कहा है वो छीनाल.

More Sexy Stories  पुणे मे जॉब देकर चुदाई की

मैने कहा कमरे मे. मेरी मा अपने बेड पे सोई हुई थी. वो पिंक नाइटी मे बोहोत सेक्सी लग रही थी. तो मेरा दोस्त सन्नी बोला बहन के लोड्‍े तेरी मा तो कमाल की है. जैसे ही सन्नी ने मा के चुचे(बूब्स) पकड़े मा को थोड़ा थोड़ा होश आ गया.तो रमेश बोला तू चिंता ना कर ये अभी भी नशे मे है. फिर उसने मा की नाइटी उतार दी. मा ने ब्लॅक कलर की ब्रा पैंटी पहनी हुई थी. वो बोहोत ही सेक्सी लग रही थी. फिर उन्होने मेरी मा को नंगा कर दिया, मेरी मा अब हमारे बीच मे बिल्कुल नंगी पड़ी थी. उसे ऐसा देख मुझे बोहोत शरम आ रही थी और साथ मे मज़ा भी. सन्नी मेरी मा के लेफ्ट बूब पे ब्लॅक तिल(मोल) देख के पागल हो गया और मेरी मा के चुचे(बूब्स) पकड़ के ज़ोर ज़ोर से मसलने और चूसने लगा. रमेश ने पीछे से मेरी मा की गॅंड पे थप्पड़ मार रहा था. थप्पड़ की आवाज़ पूरे रूम मे गूँज रही थी.

अरुण मा को लीप किस करने लगा और लकी मा की पुसी चाटने लगा. वो सारे पागलों की तरह मा को चाट चूस रहे थे जैसे कभी कोई नंगी लड़की ना देखी हो. फिर सब ने अपने कपड़े उतार दिए. उन सब के लंड 9-10 इंच लंबे थे . इतने बड़े लंड देख के मेरा भी गॅंड मरवाने का जी कर गया. लेकिन उनका ध्यान सारा मा पर था. उन्होने मा को बीच मे बैठाया और चारों अपना मोटे काले लंड लेके खड़े हो गये. फिर रमेश बोला चूस बहन की लूडी और मा ने फटा फट उनके लंड चूसने शुरू कर दिए. मैं ये देख कर हैरान था की मा नशे मे भी उनके लंड किसी प्रोफेशनल रांड़ की तरह चूस रही थी. मा ने बारी बारी सबका लंड चूसा. फिर सन्नी ने मा को पकड़ा और बोला “ऐसे नही छीनाल पूरा मूह मे ले”. फिर उसने अपना पूरा लंड मा के मूह मे दे दिया, उसका लंड मा के गले तक पहुच गया. मा को सांस भी नही आ रहा था.

More Sexy Stories  मैं बन गयी ऑफीस की रंडी

फिर अरुण ने मा का मूह खोला और मूह मे थूक दिया. फिर सब ने बारी बारी मा के मूह मे थुका. मा उनका सारा थूक पी गाइ. मैं भी ये देख के नंगा हो के मुट्ठी मारने लगा. फिर लकी ने मा को लेटाया और मा की बुर मे अपना 10 इंच का लंड दे दिया. लंड जाते ही मा की चीख निकल गई.

मा:- ह ह ओीईई.

लकी:- साली रंडी लगता है तेरी फुदी मे कभी इतना बड़ा लंड नही गया.

रमेश:- इस छीनाल की गॅंड तो देख एकदम मलाई जैसे पारी है.

फिर लकी ने अपना लंड मा की बुर मे डाल दिया. अरुण ने पीछे से मा की गॅंड मारने लगा. मा दर्द के मारे तड़प रही थी.

Pages: 1 2