मॉं बेहन की ट्रेन मे चुदाई

हेलो, ई’म सन्नी फ्रॉम वडोडरा, गुजरात. मेरी आगे 22. मूज़े पॉर्न देखने मे खूब मज़ा आता है और मे रोज पॉर्न देख क मूठ मरता हू. सेक्स स्टोरी पढ़ा भी अछा लगता है ज़्यादा तार मे रिश्तो वाली स्टोरी ही ज़्यादा पढ़ता हू.

ये चुदाई स्टोरी मेरी माँ और मेरी बेहन की है. मेरी मों टीचर है स्कूल मे. उनका नाम नीता है और वो 44 साल की है. वो दिखने मे इतनी खूबसूरत न्ही है फिर भी औरत तो है यही काफ़ी है. उनका फिगर 34-28-36 है अंदाज़ा लगा सकते है आप की फिगर केसा होगा. वो हमेशा सारी पहनती है बिकॉज़ हम गुजराती है. मेरे दाद का ट्रांसफर हो गया है देल्ही इसी लिए अब वो वाहा रहते है और घर मे अब हम टीन लोग ही रह गये है मे मेरी मों और मेरी सिस्टर.

मेरी सिस्टर उसका नाम जिया है वो 20 साल की है. वो कॉलेज क 2न्ड एअर मे है. दिखने मे ठीक तक है उसका फिगर 34-30-36 है मेरी माँ जेसा ही फिगर है हा लेकिन उसकी कमर ज़्यादा बड़ी है मों से.चोदने वाले ये सब कहा सेखते है उनको तो चूत और गॅंड से मतलब होता है जो हर किसी औरत क पास होती है चाहे वो छोटी हो या बड़ी.

ये बात तब की है जब हम सम्मर वाकेशन ख़तम होने वाला था तब हम लोगोने कन्याकुमारी घूमने जाने का प्लान बनाया था. हम घर क 4 लोग मे, मों, पापा, सिस्टर. हम जब जाने वेल थे उसके एक दिन पहले ही पापा को ऑफीस के ज़रूरी काम से देल्ही जाना पड़ा जिस वजे से हमारा टूर कॅन्सल होने वाला था बत पापा ने बताया की मे देल्ही से सीधा कन्याकुमारी आ जा उँगा तब जा के टूर हम तौर पे जा सके.

More Sexy Stories  कामुकता कहानी मॉं के साथ बस का सफ़र

हम ट्रेन से जाने वेल थे हॉलिडे स्पेशियल ट्रेन थी. एसी मे टिकेट्स नही मिली इसी लिए स्लीपर कॉचे मे जाना पड़ रहा था. अब पापा तो थे नही इसी लिए मॉं,सिस्टर,मे रेलवे स्टेशन चले गये. वडोडरा से हम बैठने वेल थे वाहा से कन्याकुमारी का रास्ता 36 घंटे का था. वैसे टिकेट्स तो बुक थी इसी लिए हमे कोई परेसानी नही हुई.

मॉं ने ड्रेस पहना हुआ था क्यू की हम टूर पे जाने वेल थे और बहन ने टी शर्ट और स्लाक्ष. हम गये तो वाहा पर ट्रेन पहले से ही आई हुई थी. हम जा के अपनी सीट पे बैठ गये हमारी सीट डब्बे क बराबर बिछे मै थी हम सब खुस थे.

थोड़ी देर मे ट्रेन चालू हो गई डिब्बे मे ज़्यादा लोग भी नही थे. फिर थोड़ी देर बाद हम बैठे हुए थे और टी सी आया टी सी ने टिकेट दिखाने को बोला मेने टिकेट निकल के दिखाई उसके बाद उसने ई डी कार्ड दिखाने को बोला तो मेने मेरा और मॉं का ई डी कार्ड दिखा दिया और जब मेरी बेहन का ई डी कार्ड माँगा तब वो ढूँढने लगी और उसको नही मिला कार्ड तब वो टी सी बोलने लगा की ऐसे नही चलेगा ई डी कार्ड तो चाहिए..

मे और मों उसको समझने लगे की ईद है सिर्फ़ एक का नही है तो क्या हो गया उसमे टिकेट तो है तीनो की फिर भी वो साला मान ही नही रहा था और अगले स्टॉप पे उतार जाने को बोला तब मे उसके साथ बहेस करने लगा और मॉं के मूह से निकल गया की कुछ पैसे लेलो तब जा क हम पूरी तरह से फस गये..

More Sexy Stories  दोस्त की सेक्सी मॉं की चुदाई

और वो बोला की एक गवर्नमेंट सर्वेंट को रिस्वत दे रही हो आप ठहरो आप पोलीस को बुलाता हू मॉं बहुत ज़्यादा दर गई और उससे हाथ जोड़ के मुझे माफ़ करदो ऐसे बोलने लगी तब भी वो मान ही नही रहा था उसने पोलीस को बुला लिए 2 पोलीस आए और टी सी ने उसको बता दिया की ये मेडम मुझे रिसवत दे रही है.

तो वो पोलीस वालो ने मॉं को कहा की आप चलिए हमारे साथ मॉं उनसे हाथ जोड़ क विनती करने लगी लेकिन वो दोनो भी मान नही रहे थे बोल रहे थे के मेडम आप चलिए यहा पर तमाशा होने से अच्छा है की हमारे डिब्बे मे जा क बात करे आप डरिए मत.

हम सब चलने लगे और पहले वो पोलीस वाला पीछे मे मॉं,सिस्टर,मे और हमारे पीछे भी पोलिसेवला. टी सी दूसरे लोगो की टिकेट चेक करने मे लग गया. फिर हम 3 डिब्बा चले और फिर जा क आखरी डिब्बा आया जिसमे हम गये तो वाहा पे दो आमने सामने सीट थी और बाथरूम और टाय्लेट था डिब्बे मे दो गार्ड भी थे.

वो पूछने लगा क क्या हुआ तो वो पोलिसेवालो ने बताया की ये मेडम रिसवत दे रही थी टी सी को. वो लोग हंसने लगे की क्या मेडम इतने अच्छे घर की हो फिर भी आप को पता नही है की रिसवत देना गुनाह है.

Pages: 1 2 3