सेक्सी औरत को दूधवाले ने अच्छे से चोदा

Milkman Sex Story: सभी लंड वाले मर्दों के मोटे लंड पर किस करते हुए और सभी खूबसूरत जवान चूत वाली रानियों की चूत को चाटते हुए सभी का मैं स्वागत करती हूँ। अपनी कहानी के माध्यम से आप सभी मित्रो तक भेज रही हूँ। ये मेरी पहली स्टोरी है। इसे पढकर आप लोगो को मजा जरुर आएगा।

मेरा नाम जान्हवी है। मैं कोलकाता की रहने वाली है। मेरी जवानी की कहानी बहुत ज्यादा पूरे मोहल्ले में फैली हुई थी। मै बहुत ही हसीन और जवान माल हूँ। देखने मे मै बहुत ही कट्टो सामान लगती हूँ। दूध की तरह गोरी बदन पर सब लोग अपनी जान छिड़कते हैं। मेरे को चोदने के लिए सारा मोहल्ला परेशान रहता है। मै जब भी मोहल्ले में गुजरती थी सब लोग अपनी आँखे फाड़ फाड़ कर देखने लगते थे। मेरे हसबैंड इसी वजह से मेरे से नाराज हो जाते थे। मै खूबसूरत मर्दो को देखकर लाइन दे देती थी। मेरे को हर दिन एक नया लंड खाने का मन करता रहता है। लेकिन हर रोज नया लंड कहाँ से लेकर आती। मैने अपनी चूत में मोहल्ले के लगभग सारे मर्दो का लंड खाया। मेरे को फिर से एक नए लंड को खाने की भूख लगी हुई थी। मेरे घर से लगभग दो किलोमीटर दूर एक गांव था। जिसमे बहुत से लोग दूध का धंधा करते थे। उस गांव में बहुत बडी डेयरी खुली हुई थी। काफी लोग शहर दूध बेचने आते थे।

मेरे पडोसी के घर एक बहुत ही जबरदस्त बॉडी का एक दूधवाला आता था। उसका नाम रमेश था। मै बहुत ही ज्यादा फ़िदा हो गयी। देखने में वो कोई बहुत ही रईस आदमी के घर से लगता था। लेकिन दूध बेचना ही उसका धंधा था। मेरे को उससे चुदने का मन कर रहा था। उसके लिए मेरे को अपना दूध वाला चेंज करना था। मेरे यहां उसी के यहाँ का दूसरा दूधवाला आता था। वो एक नंबर का कमीना था। हर दिन दूध में पानी भर लाता था। मेरे को दूधवाले को बदलने का बहाना मिल गया था। मै इसी मौके के तलाश में थी। मैंने अपने हसबैंड से कहकर दूधवाले को चेंज करा लिया। मेरे पडोसी के यहाँ आने वाला दूधवाला रमेश मेरे घर भी आने लगा। पहले दो दिन तक वो मेरे को दूध देकर चला जाता था। मै ही किसी तरह से उसके साथ में अपनी कहानीं को आगे बढ़ाना चाहती थी। एक दिन जब वो दूध लेकर आया तो मैंने उससे अपने घर में बुलाकर पर्दे को निकालने के लिए उसे अंदर बुला ली। मेरे से वो ज्यादा लंबा था। इसीलिये मै बहाने बनाकर अंदर ले के गयी हुई थी।

More Sexy Stories  मिसेज तिवारी के साथ पार्किंग लॉट में गुलछर्रे

इसी बहाने मेरे को उससे बात करने का मौका मिल गया था। उस दिन से धीरे धीरे मेरे से बात करने लगा। इस तरह मेरी कहानी बनने लगी। मै चुदने को बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो रही थी। वो अक्सर पैजामा कुर्ता पहन कर आता था। मै उसके लंड की एक झलक देखने को व्याकुल थी। धीरे धीरे उसे अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए उसे अपने लटके झटके दिखानी शुरू कर दी। एक दिन वो दूध नाप रहा था। तभी मैं नीचे झुकी और जान बूझकर अपनी साड़ी नीचे सरका दी। मै ब्लाउज में ही उसके सामने झुकी थी। उसकी नजर मेरे गोरे गोरे मम्मे पर पड़ी। मेरे मम्मे उस गहरे ब्लाउज में दिख रहे थे।रमेश की नजर मेरे मम्मे से हट ही नहीं रही थी। वो टक टकी लगाए मेरे मम्मे को ही घूरता रहा। उसी दिन से जब भी मेरे को दूध देता तो मेरे मम्मो को ही ताड़ता रहता था। एक दिन भाग्य से मेरे हसबैंड कही बाहर गए हुए थे।

सुबह सुबह जब रमेश दूध देने के लिए आया हुआ था। तो मेरे से बहुत ही रोमांटिक बाते करने के मूड में था। उसी दरमियां मेरे मोहल्ले की एक लड़की किसी लड़के के साथ में भाग गयी थी। उसी के बारे में वो खड़ा होकर मेरे से गेट पर बात कर रहा था।

“पता नहीं क्या खूबी देखी उस लड़के ने उस लड़की में की भगा ले गया” रमेश ने कहा

“कुछ बात तो रही होगी उसने ज्यादा हॉट सेक्सी रही होगी इसीलिए वो लड़का दीवाना होकर उसे भगा ले गया” मैंने कहा

More Sexy Stories  कॉलेज कपल्स की मस्ती सिनिमा हॉल मे

“वैसे तुम्हे किसी लड़की को ले के भागना होता तो कैसी लड़की ढूंढते” मैंने ये सवाल रमेश से किया

“अब आपकी तरह हो कोई लड़की तो आज ही लेकर उसे भाग जाऊं” उसने हसते हुए कहा

“आप बहुत ही ज्यादा हॉट लगती हो! और आपसे से भी ज्यादा हॉट कुछ और ही है” वो कहकर मुस्कुराने लगा

ये बात उसने मेरे मम्मो की तरफ देखते हुए कह रहा था। मै अपने दूध की तरफ देखकर उससे कहा

“मेरे को तुम्हारे उस हॉट चीज से खेलने का मौका मिल जाए तो मजा आ जाये” उसने कहा

“ठीक है मेरे को पता है! तुम किस चीज की बात कर रहे हो!” मैंने कहा

वो हर बात में मेरे से आप! आप! कहकर बात कर रहा था। ये मेरे को अच्छा नहीं लगता था। मैंने उसे आप कहने से रोक दिया। अब वो हर बात को तुम तुम करके बोल रहा था। उसकी इस तरह बात करने को मेरे को बड़ी अच्छी फीलिंग आती थीं। मेरे से रोमांटिक बाते कर कर के वो भी गर्म हो गया। मै उससे खुल के बात कर रही थी। बार बार वो मेरी चूंचियो को ही घूर रहा था।

“जब से तुम यहां खड़े हो तब से सिर्फ मेरी चूंचियो को ही ताड़े जा रहे हो!” मैंने मुस्कुराते हुए उससे कहा

Pages: 1 2 3