हॉट आंटी की चूत मारी

हिन्दी सेक्स कहानिया की सभी प्यारी दुलारी चुत वालियों मेरे लंड का सलाम, मैं आ गया हू फिर से आपकी चुत की खुजली मिटाने एक नयी तरो ताज़ा करने वाली हिन्दी सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी के साथ, रेणु आंटी के साथ सेक्स की पिछली दो कहानियों को आपने बहुत ज़्यादा प्यार दिया और सराहा है.

रेणु आंटी की चुदाई का तीसरा पार्ट मैं आपको फिर अभी सुनाउन्गा लेकिन आज मैं आपको फ्रेश एक्सपीरियेन्स बताता हू जो की इसी मंथ का है.

दरअसल मेरी एक भाभी है जो की पठानकोट मे रहती हैं और एक गवर्नमेंट टीचर है, उनका नाम नमन है, एक दिन उन्होने मुझे कॉल किया और कहा की तुझसे कोई बात करनी है तू घर आ जाना जब टाइम मिले.

मैं फ्राइडे को उनके घर चला गया, घर पर उनकी सासू यानी मेरी आंटी थी, चाय वगेरा पीने के बाद उन्होने मुझे उपर छत पर आने को कहा, मैं उनके पीछे पीछे उपर चला गया.

भाभी बोली आजकल क्या चल रा है?

मैने कहा कुछ नही बस पढ़ाई ख़तम हुई है अब कोई जॉब ढुड़ूँगा.

भाभी बोली शादी के बारे मैं क्या सोचा है?

मैने कहा भाभी शादी का क्या है सेट्ल हो जाउ वो भी कर लूँगा पर अभी तो कुछ नही सोचा.

भाभी एक दम से बोली हां हाँ शादी क्यू करनी है शादी के बाद का काम तो रेणु आंटी से चल रा था और अब वो कॅनडा चली गई हैं तो कोई और मिल गया होगा, ये सुनकर मेरे होश उड़ गये और मेरा पसीना छूटने लगा.

भाभी बोली कितनी बार सेक्स किया उसके साथ?

मैं तो जैसे सुन्न ही पड़ गया था.

मैने कहा भाभी क्या करता एक तो मेरी कोई जीएफ़ नही थी और वो भी चाहती थी तो इसमे बुरा ही क्या है, भाभी बोली बुरा नही तो इसका मतलब तुम ये सब करते रहोगे? अभी किसको ढूंडा है अपनी हवस भुजाने के लिए?

More Sexy Stories  Birthday Gift From My Sexy Bhabhi

मैने झूठ ही बोल दिया की कोई नही है, मुझे तो यकीन ही नही हो रा था की भाभी भी सेक्स स्टोरीस पढ़ती होगी.

फिर वो बोली क्या सच मे तुमने सेक्स किया है रेणु आंटी के साथ???

मैने कहा हान भाभी, तुम सच मे उन्हे इतना जबरदस्त्त सॅटिस्फॅक्षन देते थे या बस बकवास ही लिखा है?

मैने कहा भाभी अब आपको कैसे यकीन दीलाओ?? और आगे से जो रिप्लाइ मिला उसने मुझे खुश कर दिया.

भाभी बोली मुझे पता है कोई ना कोई तो तुमने ढूंड ही ली होगी बाहर अपने लिए, लेकिन अगर मुझे अछा लगा तो बाहर जाने की ज़रूरत नही है, मैं ही तुमसे चुदवा लिया करूँगी, तभी भाभी बोली नीचे चलते हैं थोड़ी देर मे मम्मी सो जायेंगी तब तुम्हे आज़मा के देखती हू.

हम नीचे गये और खाना खाने लगे, खाने के बाद आंटी अपने रूम मे सोने चली गयी, आंटी की भाभी के साथ बिल्कुल नही बनती इसलिए वो भाभी के बातों और काम मे कभी नही आती.

आंटी जब रूम मे जा रही थी तो मैने वापिस अपने घर जाने का ड्रामा किया और कहा की अच्छा आंटी मैं चलता हू, इस से आंटी को लगा के मैं शायद जा रा हू तब तक भाभी उपर चली गयी.

जब आंटी अपने रूम मे चली गई तो मैने अपने जूते उतार दिए और ऐसे ही दबे पैर हल्के हल्के कदमो से उपर चला गया, उपर भाभी गेस्ट रूम मे मेरा वेट कर रही थी, मैं रूम मे गया तो भाभी बोली जल्दी करना होगा मम्मी कभी भी उठ सकती हैं, मैं थोड़ा नर्वस फील कर रा था.

पर फिर भी नमन भाभी के सेक्सी बूब्स और गॅंड देख के मेरा लंड तो बेताब हो गया था, भाभी ने जल्दी से मुझे पैंट उतारने को कहा, मैने फटाफट अपनी पैंट और अंडरवेर उतार दिया.

More Sexy Stories  बचपन की फ्रेंड की अंतर्वसना

भाभी पहले तो पता नही क्यू थोड़ा सहम सा गई फिर उन्होने एकाएक लंड हाथ मे लिया और धीरे धीरे हिलाने लगी, भाभी बोली जब से तुम्हारे भाई अब्रॉड गये हैं लंड से चुदना तो दूर देखना भी नसीब नही हुआ, लंड के सिर्फ़ ख्वाब देखे हैं तुम्हारी कहणीयियाँ पढ़ पढ़ के, लंड हिलाते हिलाते वो मुझसे बातें कर रही थी.

भाभी ने बताया की अगर वो रेणु आंटी वाली कहानी नही पढ़ती तो शायद उन्हे पता भी ना चलता की मैं ही वो रॉबिन हू जिनकी वो अक्सर कहानियाँ पढ़ती हैं.

मेरा लंड तब तक अपने असली रूप मे आ चुका था, भाभी ने लंड मूह मे डाल लिया और अम्म्म्मम करके चूसने लग गई, फिर तो जैसे भाभी ने पीछे मूड के नही देखा और सारी शरम और हयाअ छोड़कर लंड चूसने मे लग गई.

भाभी बेड पर बैठी हुई थी और मैं उनके सामने खड़ा था, हल्के हल्के हाथो से हिलाते हुए भाभी पूरा लंड अम्म्म्मम अम्म्म्ममम बहुत मोट्टा है कह कह के चुस्स रही थी, फिर मैं उनको भी नंगा होने को कहा, उन्होने सिर्फ़ सलवार उतारी ताकी अगर जल्दी जल्दी मे कपड़े पहनने पढ़े तो प्राब्लम ना हो.
मैने उनको बेड पर लेटा दिया और उनका सिर बेड से थोड़ा सा नीचे कर के लंड उनके मूह मे डाल दिया और खुद उनके उपर लेट गया और उनकी चूत चाटने लगा.

हम सिक्स्टी नाइन वाले पोज़ मे थे, भाभी की चुत बिल्कुल सॉफ थी जैसे वो पहले ही चुदवाने का मन बना चुकी थी, मेरा लंड भाभी के गले तक पहुच रा था.

फिर उन्होने मुझे उठने को कहा और बोली चलो अब जल्दी से चोद डालो मुझे, भाभी बेड पर घोड़ी बन गई और मैं उनके पीछे आ गया, मैंने हल्का सा भाभी की चूत को गीला किया और मेरा लंड तो पहले से ही गील था.

Pages: 1 2