ट्यूशन पर पटाई और घर पर की चुदाई

Hindi sex stories Tution Par Patayi Aur Ghar Par Ki Chudai हेलो दोस्तो मेरा नाम सोनू हैं और मैं 20 साल का हू, मैं अभी फिलाल ग्रॅजुयेशन कर रहा हू देल्ही मे रहता हू, आज मैं अपनी एक सच्ची घटना लिखने जा रहा हू, आई होप आपको यह पसन्द आए.

तो चलिए शुरू करते हैं बात उस समय की थी जब मैं 11थ में था और एग्ज़ॅम्स में 2-3 महीने रह गये थे तब मैने एक टियूशन जोइन किया जहा पर एक से बढ़कर एक लड़किया थी तभी मेरी दोस्ती तानिया से हुई जो एक आकर्षक फिगर(34-26-34) की मालकिन थी उसे देखकर कोई भी लड़का उसे ज़रूर चोदना चाहता उनमेसे मैं भी एक था, जब मेरा वाहा धीरे धीरे टाइम बीतता गया तब मेरी सब से दोस्ती होने लगी.

आख़िरकार मेरी दोस्ती तानिया से करीब 1 मंथ बाद हुई और हमने एक दूसरे के बारे मे बताया, सो इसी तरह धीरे धीरे हमारी बातचीत बढ़ती गई और हम काफ़ी आचे दोस्त बन गये, जैसा की मैं पढ़ने में अछा था ही तो वो मुझसे कभी कभी अपने डाउट पूछ लेती और मैं उन्हे सॉल्व कर देता था.

एक दिन उसने मुझसे मेरे नोट्स माँगे तो मैने उसे नोट्स की फोटोकॉपी के बॅकसाइड पर अपना मो.,नं., लिख कर उसे दे दिया करीब उसका 3 दिन बाद थॅंक्स का मेसेज आया, बट मुझे पता नही था की वही तानिया ही हैं.

शाम को जब मैने उसे कॉल लगा के उसका इंट्रोडक्षन पूछा तो उसने अपना नाम तानिया बताया, उस दिन मैं खुशी से फूला ना समाया, उस दिन से हमारी बाते होने लगी, हम अक्सर मिलने लगे और घूमने जाने लगे, और एक दिन हम मेले मे घूमने गये वाहा मौका पाके उसे मेले मे प्रपोज़ कर दिया और उसने उस वक़्त हा में सिर हिलाया.

उस वक़्त मैं बहुत खुश था, फिर धीरे धीरे हममे प्यार बढ़ता गया और काफ़ी क्लोज़ आ गये और देखते ही देखते हमारे एग्ज़ॅम्स भी करीब आने लगे तो हमने डिसाइड किया की हम एक साथ स्टडी करेंगे.

तो मेरा एक हाउस जो की रेंट पर था वो खाली होने वाला था तो मैने उसे बोल दिया की मेरा घर खाली होने वाला हैं हम नेक्स्ट वीक से वाहा स्टडी करेंगे तो उसने अग्री कर लिया, देखते ही देखते वो दिन भी करीब आ गया उस दिन मैने सोच रखा था की इसे आज ज़रूर चोदुन्गा.

More Sexy Stories  हॉट इंडियन आंटी की ठुकाई

और वो उस दिन ब्लॅक टॉप और ब्लू डेनिम मे आई उस दिन कसम से क़यामत लग रही थी दिल तो कर रहा था की उसे वही पटक कर चोद दू पर मजबूर था क्यू की उसके साथ उसकी एक और फ्रेंड भी आई थी सो मैं कुछ भी नही कर सकता था उसके साथ, दिखने मे उसकी फ्रेंड आवरेज थी. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

हमरी स्टडी 12 से स्टार्ट हुई और हमने साइन्स के कुछ चॅप्टर्स स्टडी करे क्यू की वो साइन्स मे वीक थी बट उस समय पढ़ाई कम और मस्ती ज़्यादा हुई, देखते ही देखते 1 बज गये और कंप्यूटर क्लास का बहना कर के वो वाहा से चली गई और पूरे घर में हम अकेले थे मेरे अंदर हवस का कीड़ा जाग रहा था.

तब मैने उसे किस के लिए बोला बट उसने शर्मा कर मना कर दिया, मैं समझ गया की लड़की हसी तो फसि फिर उसे मैने अपनी गोद मे बैठ कर स्टडी के लिए बोला तो वो मान गई और नीचे से मेरा लंड फूँकार मार रहा था, उसे भी ये सब फील हो रहा था फिर मैने उसे अचानक से बहो में लेकर लीप किस स्टार्ट कर दी.

पर उसने कुछ रेस्पॉन्स नही दिया धीरे धीरे वो भी मेरा साथ देने लगी और उसके बूब्स मेरे चेस्ट से टच होने लगे, और किस्सिंग के साथ साथ मैं उसके बूब्स भी दबा रहा था दोस्तो बता नही सकता उस वक़्त मुझे कितना मज़ा आ रहा था, करीब 10 मिनट बाद हम अलग हुए और मैने उसकी टॉप निकालनी चाही पर उसने मना कर दिया.

फिर उसे स्मूच कर के दोबारा से उसकी टॉप निकलना चाहा पर उसने इस बार मना नही किया उसने ब्लॅक ब्रा पहन रखी थी कसम से वो उस वक़्त अप्सरा लग रही थी जब मैने उसकी ब्रा को बूब्स से हटाया तो वो अपने दोनो हाथो से अपने निप्पल छुपाने लगी.

More Sexy Stories  दोस्त की गर्लफ्रेंड के साथ मस्ती

फिर मैने उसका एक हाथ हटा कर लेफ्ट बूब को मूह में लेकर चूसने लगा और राइट वाला हाथो से मसलने लगा, उसके बूब्स बिल्कुल पिल्लो की तरह सॉफ्ट थे, वो खुद अपना हाथो से मेरा सिर अपने बूब्स से दबा रही थी, फिर बाद मे मैने उसका राइट निप्पल भी चूसा.

धीरे धीरे मैं उसकी स्टमक लीक कर के नाभि तक पहुचा और नाभि मे जीभ डाल कर चूसने लगा, हम मुझे कहने लगी राजा आराम से करो कही भागी थोड़ी ना जा रही हू और बाद मे सिसकिया लेने लगी, फिर धीरे धीरे मैने अपना एक हाथ उसकी चूत पर लेकर गया तो महसूस हुआ की उसकी चूत फूल चुकी हैं और वो झड़ चुकी थी.

फिर मैने उसका जीन्स निकालना चाहा तो उसने मुझे मना कर दिया और मैने उसे उसका रीज़न पूछा तो उसने बोला मुझे कुछ हो जाएगा तब मैने उसको विश्वास दिलाया की उसे कुछ नही होगा, फिर थोड़ी देर बाद और मेहनत करने के बाद मैं उसका जीन्स निकालने मे सफल रहा और उस वक़्त वो ब्लॅक पैंटी मे थी.

फिर बाद मे फिंगरिंग कर के उसकी चूत्त पर अपना जीभ लगा दिया और वो अपनी दोनो टाँगो से मेरा सर दबाए हुए थी, और कहने लगी और ज़ोर से चूसो और ज़ोर से चूसो, मैं भी उसकी चूत करीब 10 मिनट चूसने के बाद उसका सारा माल पी गया बड़ा नमकीन था, फिर कुछ देर बाद मैने भी अपने कपड़े निकालने शुरू किए और और उसके साथ जनवारो की तरह उसके पूरे शरीर पर चाटना और काटने लग गया और उसके निप्पल पर लव बाइट्स भी दी.
फिर उसके हाथ मे अपना लंड पकड़ा दिया और उसे चूसने के लिए कहा पर उसने मना कर दिया फिर मेरे ज़बरदस्ती करने से उसने मेरा लंड मूह में ले लिया और उसे उसे चूसने लगी.

Pages: 1 2