कज़िन निशा की चुदाई

Indian Sex Story In Hindi Behan Cousin Nisha Ki Chudai हेलो एवेरिवन, मेरा नाम नवाब है और मैं 21 साल का हू. मैं इस साइट का रेग्युलर रीडर हू मुझे बहोत इंडियन सेक्स स्टोरी इन हिन्दी बेहन की चुदाई पसंद भी आई है.

तो सोचा मैं भी अपनी स्टोरी शेयर करू, जिसने मेरी लाइफ ही बदल डाली.

लास्ट ईयर मेरे मामा की लड़की शादी थी जिसका नाम निशा है और उसका फिगर 32-30-34 है

ह्मारे रीलेशन फ्रेंड्ली वाले थे

तो आपको ज़्यादा बोर ना करते हुए मैं टॉपिक पर आता हू

तो निशा की शादी थी मैं भी शादी के एक दिन पहले ही गया था. तो निशा घर पर अकेली ही थी. सब मंदिर गये थे कोई पूजा करने के लिए. निशा उस टाइम घर पर पोछा मार रही थी और मैने उसको देखा क्या लग रही थी उसकी पीठ मेरी तरफ थी और वो गॅंड आगे पीछे कर के पोछा मार रही थी.

तभी मैं पीछे से गया और उसको पकड़ लिया उसने बोला कौन पहले तो वो डर गयी फिर मुझे देखा तो नॉर्मल हो गयी उसने फिर सब हाल चाल लिया और वो बोली तुम बैठो मैं नहा कर आती हू और बोली सभी लोग मंदिर गये है शाम को आएँगे फिर वो चली गयी.

और मेरे दिमाग़ मे उसकी वो गॅंड की शेप बार-2 आ रही थी तो मैने भी सोचा क्यू ना कुछ एंजॉय ही किया जाए.

और वो ग़लती से अपनी पैंटी और ब्रा लेजाना ही भूल गयी और मैने भी मौका देख कर उसको छुपा दिया.

कुछ देर बाद निशा बाहर निकली वो भी तौलिए मे और मैं तो उसको देखता ही रह गया मोटी मोटी , गोरी गोरी जाँघ थी और वो शायद अपनी पैंटी और ब्रा खोजने लगी तभी मैने पूछा- क्या खोज रही हो.

वो बोली – कुछ नही मेरे कपड़े यही रखे थे तो मैं भी खोजने का दिखावा करने लगा और मेरी निगाहे उसकी जाँघो पर थी जब वो झुकती फिर तो और भी खुल जाती.

More Sexy Stories  बस मे चाचा के साथ चुदाई

फिर अचानक वाहा पर रखे कुछ फर्निचर से उसके हांतो मे चोट लग गयी.

और वो चिल्लाने लगी और उसके हाथो से खून निकलने लगा फिर मैने उसके हाथो को सॉफ करके पट्टी लगाई और वो चुप चाप बैठ गयी और बोली- शायद आज मैं कपड़े निकालना ही भूल गयी.

फिर मैने बोला तुम यहा बैठो मैं लेकर आता हू और मैं गया और जान बुझ कर उसके अल्मारी से कपड़े लेकर आया तो वो बोली ये नही और थोड़ा शरमाते हुए -मेरे अंडरगार्मेंट्स.

फिर मैं गया और ब्लॅक कलर की पैंटी और ब्रा ले आया और उसको दे दिया तब वो बोली मैं पहनूँगी कैसे मेरे हाथ मे चोट लगी है तो वो अपनी फ्रेंड को कॉल करने लगी अपनी हेल्प के लिए तो मैने भी सोचा मौका अछा है.

कुछ कर दिखाने का मैने बोला- तुम्हे कोई प्राब्लम ना हो तो मैं हेल्प कर दू तो वो थोड़ा हिचकिचाते हुए बोली -ठीक है पर तुम आँख बंद रखोगे मैने हंसते हुए बोला ठीक….

उस टाइम मेरी बॉडी एक दम गरम हो गयी थी मैने उसकी पैंटी उठाई और उसके टाँगो मे डालने लगा आँख बंद करने का नाटक करते हुए और उसने तौलिया धीरे-2 उपर कर दिया और अचानक तौलिया खूल कर नीचे गिर गया फिर बोली- ओ तेरी.

फिर मैने आँख खोली और देखता ही रह गया मेरे सामने शेव की हुई फूली हुई चूत क्यूकी मैं घुटने के बल बैठा था और वो मेरे सामने खड़ी थी कुछ देर बाद मैं उपर देखा तो उसके गोरे गोरे बूब्स बाइ गॉड क्या लग रही थी और वो दोनो हाथो से अपना चेहरा छुपा रही थी. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मेरा दिमाग़ काम करना बंद कर दिया और उसकी पैंटी घुटनो पर ही थी अभी और मेरे मुँह मे पानी आ गया मैने झट से अपने दोनो हाथो से उसकी गॅंड पकड़ी और अपना मुँह उसकी फूली हुई चूत पर रखा और खूब ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा और बोली ये क्या कर रहे हो तुम छोड़ो मुझे ये ग़लत है मेरी कल शादी है प्लीज़ नवाब रहने दो..

More Sexy Stories  एक बूढ़े ने मेरी बहन की चुदाई की

पर मैं चुप चाप उसकी चूत चूसने मे लगा हुआ हू और वो हटा भी नही पा रही क्यूकी उसके हाथो मे चोट लगी हुई थी बस अपने पैर इधर उधर कर रही थी पर मैने उसकी गॅंड ज़ोर से पकड़ी हुई थी तो कोई असर नही हुआ.

फिर 5 मिनट के बाद मैने चूत से मुँह हटाया और उसको देखा वो पूरे गुस्से मे थी पर मैने देखा उसकी चुत से पानी निकल रहा था इसका मतलब वो भी अब गरम हो चुकी थी.

फिर मैने बोला डियर किसी को पता नही चलेगा अब कल के बाद तुम्हे डेली यही करना है तो वो थोड़ा मुस्कराई और फिर मैने उसको उठाकर सोफे पर बिठाया अब वो मेरे सामने पूरी न्यूड थी फिर मैं उसको किस करने लगा और अपने एक हाथ से उसकी चुत मे उंगली करने लगा जिससे वो पूरी तरह से रेडी हो जाए.

अब मैं धीरे-2 उसके बूब्स से खेलने लगा और अब वो भी पूरा मज़ा ले रही थी कुछ देर तक उसके बूब्स, लिप्स को चूसने के बाद मैं फिर से उसकी चूत पर लग गया और वो आँख बंद करके अफ आह ष्ह.

कर रही थी मैं आपको बता दू मुझे पुसी लीक , आस लीक बहोत पसंद है और मैं 10 मिनट तक उसके चूत को लीक करता रहा फिर उसके बाद मैं उसकी गॅंड को दबाने लगा क्या गॅंड थी साली एक दम सॉफ्ट गोरी गोरी हाँ गॅंड और चूत की शेप थोड़ी सी कम गोरी थी जो की सबकी होती है.
फिर कुछ देर बाद जैसेही मैने उसकी गॅंड के होल पर अपनी जीभ लगाई वो उछल पड़ी और बोली ये क्या कर रहे हो वाहा कुछ मत करो वो कितनी गंदी जगह है पर शायद निशा ने आज ही शेव की थी.

Pages: 1 2