मेरी गर्लफ्रेंड की हॉट चुदाई

हेलो फ्रेंड्स होव्स यू ऑल, मैं डीके का बहुत पुराना रीडर हू, तकरीबन सारी सेक्स स्टोरीस मैं पड़ता हू डीके पे, तब मैने सोचा क्यू ना मैं भी आपना पहली बार का सेक्स आप सब से शेयर करू, बड़ी मस्त स्टोरी हैं सब भाइयों अपने लंड और बहनो आपनी चूत में फिंगर डाल के एंजाय करो स्टोरी को..

अब आपका और टाइम ना वेस्ट करते हुए मैं सीधा स्टोरी पे आता हू.

मेरी जीएफ़ का नाम सोना हैं और वो हरयाणा की रहने वाली हैं और उसकी एज अब 25 हैं पीछे 4 ईयर से मैं उसके साथ रीलेशन में हू वो एलएलबी स्टूडेंट हैं, उसके बड़े बड़े हिप्स मेरी जान निकालते हैं.

उसका फिगर 34 28 34 हैं उसकी गॅंड देख के बूढ़ो के लंड भी सलामी देने लग जाए और मैं उसको4 साल से चोद रहा हू मेरे दोस्त भी उसको चोद चुके हैं उसकी मर्ज़ी से और एक बार एक होटेल मॅनेजर से उसने खुद चुदाई करवाई.

अगर कोई भी आंटी, लड़की, हाउसवाइफ चुदवाना चाहती हो प्राइवसी से फुल सॅटिस्फॅक्षन दूँगा याद करोंगे रोज़ एक बार सेवा का मौका दे के देखो.., मुझे आप सेम आईडी पे एफबी पे भी मेसेज कर सकते हो एम वेटिंग यू गर्ल्स, कम ऑन

बात तब की हैं जब हम पहली बार मिले तब हम कार में मिले थे तब मैने कार में ही उसके लिप्स चुसे और 10 मिनट तक उसके लिप्स चूस्ता रहा वो अहहे भरने लग गई तब उसकी एज 21 थी नाउ अब उसकी एज 25 हैं.

और उसके बाद मैने उसकी नेक पे किस्सिंग करने लगा आप सबको पता होगा जो चुदना नि चाहती अगर उसको आप एक बार नेक पे किस करने लगॉगे तो वो खुद चुदाने को तैयार हो जाएगी, मैं उसको किस्सिंग करता रहा उसके बूब्स दबाता रहा टॉप के उपर से ही..

और धीरे धीरे मैने उसका टॉप निकाल दिया उसने पिंक कलर की ब्रा डाली थी बहुत सेक्सी लग रही थी मेने ब्रा के उपर से ही बूब्स दबाता रहा और चूस्ता रहा अब उसको भी मज़ा आ रहा था उसने खुद आपनी ब्रा की हुक्स खोल दी वूओ ब्राउन ब्राउन निपल्स मौऔओ देन मैं उसके निप्पल्स चूसने लगा और वो भी मेरा लंड दबाने लगी बहुत मज़ा आ रहा था..

More Sexy Stories  मौसा मौसी के साथ ग्रूप चुदाई

यार वो जिंदगी का पल मैं कभी नही भूल सकुगा यार और देन 2 घंटे हम यही करते रहे और मैने उसको लंड दिया उसके हाथ में वो हाथ से हिलाती रही थोड़ी देर तक मैने उसको मूह में लेने को कहा वो मना करने लगी जब वो नही मानी मैने बूब्स के निप्पल्स पे काटने लगा और वो मेरा सिर ज़ोर ज़ोर से बूब्स पे दबा रही थी वॉवववव

और अब मैने उसको कहा जीन्स निकाल दो तब उसने जीन्स निकाली मैने अब उसकी ब्लॅक पैंटी को देखा और भी हैवान बन गया लंड डबल होने लगा फुल गया अब मैने उसकी पैंटी के उपर से चुत को लीक करने लगा और धीरे धीरे पैंटी के साइड से फिंगर डालने लगा वो और गर्म होने लगी.

मैने जब उसे अच्छी तरह से गर्म कर दिया फिर उसको लंड चूसने को कहा देन उसने बड़े आराम से लंड मूह में लिया और लोलीपोप की तरह चूसने लग गई वो ऐसे चूस रही थी लंड को जैसे पहले रोज़ चुस्ती हो कभी टॉप लंड का कभी टंग फेरना यार मैं तो पागल हो गया.

देन मेरा लंड चूस्ते चूस्ते उसकी मोम का कॉल आय, उसने पिक नही किया उधर मैं भी फिंगर कर रहा था उसने फिंगर करते करते पानी छोड दिया अब मेरा भी होने वाला था और वो बाहर निकालना चाहती थी मैने उसके सिर को ज़ोर से लंड पे दबा दिया और उसके मूह में पानी निकाल दिया और वो नेल्स मारने लगी मेरे को थोड़ा बहुत अंदर ले गई..

More Sexy Stories  अनजानी जवान लड़कियों की कामुकता भरी गुलामी-2

बाकी वही निकाल दिया और अब मैने उसकी चूत चूसना चाहता था मैने कार की पीछे की सीट पे उसको लेटा दिया और उसकी चुत को थोड़ा रब्ब करने लगा और अब मैने अपनी फिंगर डाली तो चीखने लगी वो और फिर मैने फिंगर निकाल के उसकी चूत पे टंग फेरा और फिर उसकी चुत में चूसने लगा.

उसको बहुत मज़ा आ रहा था चूत चूसने में और मेरे सिर को चुत पे दबाने लगी और मैं पूरे जोश में था और वो भी जंगली बिल्ली बन गई चुत उपर उठाने लगी और मैं उसकी चुत चूस्ता रहा उसका पानी निकल गया अब और मैने उसका सारा रस्स पी लिया वॉववव क्या टेस्ट था यार मस्त टेस्ट था इक भी बूँद मैने वेस्ट नही की सारा पी गया वॉववव मस्त था..

उसकी चुत का रस्स स्मेल मज़ा आ गया मेको पहले लगता था ए कैसे कोई रस्स पीता हैं कैसे लोग चुत लंड चूस्ते हैं बट वॉववव यत चुत चोदने से ज़्यादा मज़ा तो चूसने में हैं और अब वो तक गई उसका पानी दो बार निकल चुका था और बोलने लगी.
अब नेक्स्ट के लिए भी कुछ छोड़ दो सब कुछ पहले दिन ही करोंगे और बोली मेरी मोम की कॉल भी आई थी मोम को भी शक होगा मुझे प्लीज़ अब घर जाने दो वरना नेक्स्ट टाइम आने में प्राब्लम ना हो और मैने उसकी सुनी और उसको दुबारा लंड चूसाया 20 मिनट बाद मेरे पानी निकला एंड पानी अब उसको बोला था बाहर नही आना चाहिए और उसने भी वेस्ट नही किया सारा पी गई कहती वॉववव मस्त टेस्ट हैं.

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट सेक्षन मे ज़रूर लिखे, ताकि देसीकाहानी पर कहानियों का ये दौर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

Pages: 1 2