दोस्त की गर्लफ्रेंड के साथ मस्ती

new sex jodi free hindi sex story dost ki girlfriend ke saath masti हाय दोस्तों मेरा नाम राकेश है और मैं आपको अपनी ज़िंदगी की एक न्यू सेक्स जोड़ी फ्री हिन्दी सेक्स स्टोरी जो की पिछले साल गर्मिो मे हुई थी उसके बारे मे बताने जा रहा हू, लास्ट टाइम मैने अपनी कज़िन अंजलि को चोदा था, हम खूब चुदाई करते थे बट उसके बाद वो देल्ही चली गयी और मैं पटना मे शिफ्ट हो गया.

पटना मे मैं मेरे दो दोस्त रोहित और विकास के साथ शिफ्ट हो गया, हमारा फ्लॅट तीन रूम का था, वाहा उनके साथ विकास की दीदी प्रिया और रोहित की जीएफ़ शिवानी भी रहीती थी.

एक रूम मे दीदी सोती थी एक मे रोहित और शिवानी और एक मे मैं और विकास, प्रिया दी और शिवानी हम सब से काफ़ी फ्रॅंक थी, मैं एक अथलेटिक लड़का हू और काफ़ी फिट बॉडी है दिखने मे भी हॅंडसम हू मेरा लंड 6.5″ लंबा है और करीब 3″ मोटा, और ये काफ़ी है किसी लड़की को सॅटिस्फाइ करने के लिए

अब मैं आपको ज़्यादा बोर ना करते हुए कहानी पे आता हू, मैने जब पहली बार शिवानी को देखा तो उसे देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया उसका फिगर 32-28-32 का होगा उसकी उभरी हुई गॅंड गोरा बदन देख के किसी का भी लंड खड़ा हो जाए और प्रिया दीदी भी कम नही थी उनके भी बूब्स काफ़ी बड़े और गोरे थे, उनकी मसल जांघे और बड़ी गॅंड देख के मेरा मन उनकी गॅंड मे लंड डालने को करने लगा पर मैने बस मूठ मार के खुद को शांत कर लिया.

मैं अक्सर ही बातो बातो मे शिवानी को टच कर देता और वो बस मुस्करा देती इससे मेरी हिम्मत और बढ़ जाती, हम अक्सर साथ मे बैठ के मॉवीज देखा करते कई बार तो हॉट सीन्स भी हमारे बीच ये सब कॉमन हो गया था.

मुझे चुत चोदे हुए करीब सिक्स मंथ से ज़्यादा हो गये थे और मेरा लंड चुत मे जाने को मचल रहा था, मैं किसी भी तरह शिवानी को चोदना चाहता था पर मुझे नही पता था की मेरी ये मुराद जल्दी ही पूरी होने वाली है, दरसल रोहित को देल्ही जाना था अपने भाई को लाने के लिए और उसके बाद वो गाओ चला जाता.

More Sexy Stories  इल्मा की प्यारी चूत चुदाई कहानी

वो करीब 10-12 दिन बाद वापिस आता, तो मैने प्लान बनाने लगा की इसको चोदा कैसे जाए, मेरे लिए सबसे अच्छा समय दो तीन बजे था क्यूकी उस वक़्त दीदी क्लास चली जाती थी, दीदी का क्लास 1पीयेम से 6पीयेम तक चलता था, वो रूम से निकलने के बाद सीधे 7.30 बजे आती थी, इस वक़्त हमे काफ़ी समय मिल जाता, बस प्राब्लम था तो विकास, जब रोहित चला गया तो शाम को शिवानी किचन मे थी.

हमारा किचन ज़्यादा बड़ा नही था वो खाना बना रही थी, मैं भी किचन मे चला गया कुछ चिप्स लेने के लिए, उस समय वो प्याज काट रही थी तभी उसके हाथ से चाकू नीचे गिर गया उसे उठाने के लिए वो झुकी और मुझे उसके बूब्स के दर्शन हो गये क्या बड़े बड़े बूब्स थे मेरा लंड खड़ा हो गया.

उस समय मैने हाफ पैंट पहना हुआ था नीचे तो एकदम टेंट बन चुका था, मैं बाहर जाने लगा की तभी वो पीछे हुई और मेरा लंड उसके गॅंड मे चुभ गया वो पीछे मूडी और मुस्करा दी, पहले मैं तो डर ही गया था बट फिर मुझे भी लगा की ये कुछ नही बोलेगी.

फिर मैं बाहर चला गया और पास वाले मेडिकल स्टोर पे जा के वायग्रा के टॅब्लेट्स ले आया, खाना बनाने के बाद शिवानी नहाने चली गयी तो उसने मुझे बोला की राकेश मैने दूध बोइल करने के लिए गॅस पे डाल दिया है जब उबल जाए तो बंद कर देना, वाहा दूध सिर्फ शिवानी ही पीती थी तो मैने उबाल जाने के बाद उसे ग्लास मे डाल दिया ठंडा होने के लिए फिर मैने उसमे वायग्रा की टॅबलेट तो टुक के करीब एक चौथाई मिला दी.

More Sexy Stories  कैसे अपनी मॉं को मैने रंडी बनाया

मैं जल्दबाज़ी नही करना चाहता था, मैं बस इतना चाहता था की उसे चुदने का मन भी करे पर इतना नही की वो अपने आप को फिंगर से शांत कर ले, फिर वो नहा के आई और दूध पी लिया.

मैं तो बस मौके की तलाश मे था, दिन मे हम अक्सर सत्तू घोल के पिया करते थे और अक्सर मैं ही घोला करता था, नेक्स्ट डे जब दीदी क्लास जाने को हुई तो उन्होने मुझे कहा की सत्तू घोल लो मैं पी के जाउन्गि, तो मैं किचन मे चला गया सत्तू घोलने के लिए.

इस बार मैने एक टॅबलेट का पाउडर बना के सबके ग्लास मे डाल दिया , उसके बाद दीदी क्लास चली गयी और मैं विकास और शिवानी मूवी देखने लगे, जब मूवी मे किस्सिंग सीन चल रहा था तो मैने नोटीस किया की शिवानी अपने होंठ काट रही थी वो गरम हो रही थी.

नेक्स्ट डे विकास अपने कुछ दोस्तो के साथ मूवी देखने चला गया और बोला की शाम को आएगा और दीदी भी क्लास चली गयी, मैने देखा की मौका अच्छा है मैने शिवानी से पूछा की सत्तू पिओगी तो उसने कहा की हा बना दो, इस बार मैने एक पूरा टॅबलेट मिला दिया उसके ग्लास मे, वो पूरा पी गई और फिर मूवी देखने लगी.

मैं अक्सर लॅपटॉप मे पॉर्न मूवीस रखता था बट हाइड कर के पर इस बार मैने उसे उसी फोल्डर मे कुछ और फोल्डर बनाके अंदर डाल दिया ताकि वो शिवानी को आसहनि से मिल जाए, शिवानी ने मुझसे कहा की वो कल वाली मूवी देखेगी उसमे करीब 30 मीं बचा हुआ है, मैने वो मूवी देखी हुई थी सो मैं दूसरे रूम मे जा के गेम खेलने लग गया.

Pages: 1 2 3