गांड मे अंकल का मोटा लंड लिया

हाय फ्रेंड्स , मेरा नाम मनीष है आज फिर मैं अपनी एक रियल स्टोरी शेर करने जा रहा हू वैसे मैं पहले आप लोगो को बता दू की मै एक प्राइवेट कंपनी मे जॉब करता हू ओर मैं शादी शुदा हू अब सीधे स्टोरी पे आते है …

मैं इन्दोर का रहने वाला हू मेरी बीवी भी जॉब करती है वो एक टीचर है मेरी ओर वाइफ की लाइफ सही चल रही है पर हमारे बीच अब सेक्स बहुत कम होता है, बात अभी से 3 वीक पहले की है मैं जॉब करके वापस लौट रहा था.
उस दिन मैं जल्दी फ्री हो गया था तो मैं एक पार्क है जवाहर पार्क वाहा जाकर बैठ गया ओर फोन मे कुछ कुछ करने लगा करीब शाम के 7 बाज रहे थे तो वाहा पर बहुत सारे लोग ईव्निंग वॉक कर रहे थे.

तभी एक अंकल जो की बहुत देर से वाहा वॉक कर रहे थे मेरे पास आकर बैठ गये ओर उन्होने पूछा बेटा पढ़ाई करते हो मैने उनको बताया नही अंकल मे जॉब करता हू.

फिर उन्होने मेरी जॉब के बारे पूछा बातो बातो मे ही मैने उनसे शेर किया की मुझे कंप्यूटर का थोड़ा बहुत नॉलॅड्ज है तो वो बोले बेटा मेरा घर सामने ही है ओर मेरे पास एक लॅपटॉप है जो की कल से स्टार्ट नही हो रहा है क्या तुम चेक कर लोगे उसको क्यूकी मेरी बेटी बाहर रहती है ओर मुझे उससे वेदीओ कॉल पर बात करनी होती है.
मैं लॅपटॉप को ठीक करवाने नही लेकर जा पाया उन्होने रिक्वेस्ट की तो मै मान गया तो मै उनके साथ उनके घर तक गया तो वो एक बहुत बड़े घर मे रहते है फिर उन्होने मुझे बताया की वो आर्मी मे थे जॉब के टाइम पर उन्होने मुझे घर मे अंदर ले गये मुझे बैठने को कहा..

वाहा काम वाली एक लड़की थी उसने मुझे पानी दिया ओर फिर टी के लिए पूछा मैने मना कर दिया तो अंकल मुझे बोले आओ लॅपटॉप उपर रूम मे है तो मै उनके साथ चलने लगा जब मे सीडिहीयो से उपर जा रहा था तब अंकल ने मेरे बॅक मे हाथ रखा मुझे लगा धोखे से हुआ होगा.
फिर रूम मे पहुच कर अंकल ने मुझे लॅपटॉप दिखाया मैने उसको ऑन करके देखा तो वो स्टार्ट होते ही बीप की आवाज़ आ रही थी मैने 2 से 3 बार ट्राइ किया ओर बोला अंकल इसको तो खोलना पड़ेगा तो आप इसको सर्विस सेंटर मे चेक करवा लीजिए तो अंकल बोले बेटा तुम ही देख लो खोल के मैने कहा अंकल मेरे पास कोई टूल कीट नही है..

More Sexy Stories  फर्स्ट टाइम सेक्स वित क्यूट गर्ल

अंकल तुरत टूल कीट ले आए ओर मेरे साइड मे बैठ गये मैं लॅपटॉप के स्क्रुए ओपन कर रहा था तभी अंकल ने एक हाथ मेरे जाँघ मे रख दिया मुझे लगा देख रहे है की मैं क्या कर रहा हू पर उसके तुरंत बाद उन्होने हाथ मेरे दोनो टॅंगो के बीच मे रख दिया ओर मुझे बोले की आर यू इंटरेसटेड मैं डर गया ओर उनसे दूर हट गया.
तो वो मुझे बोले बेटा डरो मत मुझे पता है तुमको ये सब पसंद है मैने बोला अंकल मुझे कुछ समझ नही आ रहा है आप क्या बोल रहे हो तब अंकल बोले बेटा जब तुम पार्क मैं बैठ कर अपने फोन मे गे स्टोरी पढ़ रहे थे ओर गे सेक्स की पिक देख रहे थे तभी मै साकझ गया था मैने अंकल से कहा अंकल वो तो मैं बस ऐसे ही देख रहा था.

तब अंकल ने मुझे बताया की बेटा गे स्टोरी मे वही इंटरेसटेड होता है जिसके मन मे वैसा कुछ करने का मन हो फिर वो बोले की यहा बैठो मुझे पता है की तुमको डर लग रहा होगा की किसी भी अन्जन पर्सन के साथ तो मुझे सिर्फ़ 5 मीं दो तुम कॉंफियर्ट फील करने लगोगे ऐसा सुन कर मुझे कुछ ठीक लगा ओर मैने सोचा की अगर अंकल बोल रहे है तो ट्राइ कर लेता हू मैं उनके पास बैठ गया.
अंकल ने मेरा हाथ पकड़ कर उनके पॅंट के उपेर रख दिया ओर अपने हाथ से मेरे पॅंट को सहलाने लगे मुश्किल से 1 मीं मे मैं खुद से कंट्रोल खो गया ओर मै सोफे से नीचे बैठ गया ओर अंकल के पॅंट का बेल्ट खोलने लगा अब अंकल को पता चल चुका था की उनका काम बन गया है अब वो रिलॅक्स होकर बैठ गये मैने उनका पॅंट उतरा ओर अंडरवेर के उपेर से ही उनके लंड को मूह से पकड़ने लगा..

More Sexy Stories  बुआ की बेटी अनु की चुदाई की

पर मुझे लगा की उनके लंड को इसमे ज़यादा मज़ा नही आ रहा था वो टाइट तो हुआ पर उतना नही फिर मैने उनके अंडरवेर भी फाड़ दी ओर अंकल के जाँघ मे किस करने लगा अंकल मुझसे बोले इससे पहले कभी किया है मैने उनको बोला की हां पर ज़यादा अच्छे से नही सिर्फ़ दो बार तो वो बोले जैसा जैसा बोल रहा हू वैसा वैसा करो मैने कहा ठीक है.
अंकल ने मुझे कहा 1 मीं रूको वो उठे ओर दारू की बॉटले लेकर आ गये मैं बोला की अंकल मै दारू नही पिता वो बोले बेटा मज़े करने है ना तो दारू पिलौँगा नही तो सिर्फ़ टेस्ट करौंगा, उन्होने एक पेग बनाया ओर मुझे कहा एक बार मे पी जाओ मैं पी गया.

फिर वो मेरे सामने बैठ गये मैने उनके लंड को हाथ मे पकड़ा तो उसमे अभी टाइट नेस नही थी तो मैं उसको किस करने लगा ओर धीरे धीरे उसको अपने मूह मे लेने गया जैसे जैसे मैं उसको अपने मूह मे ले रहा था उसका साइज़ बढ़ रहा था.
फिर मैने उनके अण्दो को भी मूह मे लिया ओर बहुत चूसा तब मैने अंकल से पूछा अगर मे अपनी जीभ से चॅटते हुए नीचे जाउ तो आपको प्राब्लम तो नही वो हंसने लगे तो मैने उनकी दोनो पैरो को मेरे कंधे पेर रख दिया ओर उनके अस्स होल को किस करने लगा जैसे ही फर्स्ट टाइम जीभ रखा तब अजीभ सा लगा पर उसके बाद अछा लगने लगा अब उसके बाद मे अंकल के लंड को अंदर बाहर करने लगा.
ऐसा मैं 5 से 7 मीं तक करता रहा उसके बाद मै थक गया पर मे ये भूल गया था की अंकल आर्मी मे थे उन्होने मुझे पैंट उतारने को कहा मैने मना किया तो बोले कुछ नही होगा मैने कहा नही बहुत दर्द होगा तो उन्होने एक पग बिना पानी के बनाया ओर मुझे कहा पियो ऐसा करके मुझे उन्होने 3 पग दिए.

Pages: 1 2