दोस्त की सासू मा की कामुकता शांत की

Sasu Maa ki Chudai : सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। हेलो दोस्तो मेरा नाम हर्ष पाटिल है, मैं नवी मुंबई से हूँ. आज मैं आप सभी को एक नयी कहानी सुनाने जा रहा हूँ जो सिक्स मंत पहले घटी है. उसके पहले अपना परिचय देता हूँ जो नये रीडर है उनके लिए. मेरा नाम हर्ष है. मेरी एज 26 यियर्ज़ है.

तो दोस्तो आप सभी को ज़्यादा बोर ना करते हुए सीधा स्टोरी पे आता हूँ. मेरा एक दोस्त है अवी उसकी बेहन की शादी थी और उसने मुझे इन्वाइट किया था. शादी का प्रोग्राम उसके गाँव मे था. वो और उसकी फॅमिली दस दिन पहले ही जानेवाले थे. और मैं शादी के 2 दिन पहले जाने वाला था. सो उसने मुझे रिक्वेस्ट की के आते वक़्त उसके सास को लेकर आना क्यूंकी वो अकेली आने वाली है.

तो दोस्तो ये स्टोरी की हेरोइन है माया आंटी एज 49 यियर्ज़ विडो साइज़ 34-32-38, यानी के अवी की सास. उनको मैने पहले अवी के शादी मे देखा था वो बेहद खूबसूरत लग रही थी. और उसी समय मैं उनका दीवाना हो गया था. लेकिन उस समय और उसके बाद कुछ हो ना पाया. और उसके बाद अवी के घर पे कुछ ना कुछ प्रोग्राम मे मिल जाती थी. वैसे थोड़ी बोहुत जान पहचान थी मेरी उनके साथ.

फिर मैने उनसे बात की और फिर अवी के गाँव जानेवाली सेमी स्लीपर लक्सरी का टिकेट बुक कर दी. उसके बाद हम लोग सीधा बस स्टॅंड पे मिले थे. उनको उनका बेटा आया था छोड़ने. उसके बाद हम दोनो बस मे आग्ये. फिर बस रात को 9 बजे निकली डेपो से और वो सुबह 6 बजे हमे अवी के गाँव पहुँचाने वाली थी.

आंटी विंडो के साइड मे बैठ गयी और मैं उनके बाजू मे बैठ गया. और हमारे बाजू के सीट पर एक कपल बैठे थे. वो थोड़े नॉटी टाइप के लग रहे थे बिल्कुल एक दूसरे से चिपक कर बैठे थे. बस मे डिम लाइट चालू थी.

More Sexy Stories  Meri Saaliyon Ka Javab Nahi

फिर मैं और आंटी ने थोड़ी देर इधर उधर की बातें कर रहे थे और मैने नोटीस किया आंटी बार बार बाजू वाले सीट पर देख रही थी. तो एकबार मैने भी वो साइड देखा तब पता चला के वो दोनो एक दूसरे को किस कर रहे थे और एकदूसरे को सहला रहे थे.

फिर मैने आंटी के तरफ देखा वो मूज़े ही देख रही थी, और मंद मंद मुस्कुरा रही थी, मैं भी समझ गया फिर मैं भी मुस्कुरा दिया. और उन्होने धीरे से कहा

आंटी: क्या जमाना आया है.

मैं: ह्म्म अब ये सब तो नॉर्मल है शायद अभी अभी शादी हुई है.

आंटी: हा मुझे भी ऐसी ही लगता है.

अब मैं जानबूझकर उसी टॉपिक पर बात करने लगा.

मैं: उसके लिए इतने उतावला हो रहे है, वैसे तो शादी के बाद हर कोई ऐसी ही बिहेव करता होगा. हाहाहा

आंटी: अब क्या पता कौन कैसे बिहेव करता है.

मैं: क्यूँ आंटी आप की जब नयी नयी शादी हुई थी तब आपने भी ऐसे ही मज्जे किए होंगे ना.

आंटी: अरे नही बेटा तुम्हारे अंकल तो ज़्यादा तर काम मे ही बिज़ी रहते थे. उन्हे ये सब ज़्यादा पसंद नही था. और अब तो वो नही रहे…

इतना कहने के बाद आंटी के आँखे थोड़ी नम हो गयी. फिर मैने उनका हाथ अपने हाथों मे लिया और उनके जाँघ पे रख दिया और उन्हे दिलासा देने लगा.

मैं: ओह सॉरी आंटी. मेरा मतलब आपका दिल दुखाने का नही था.

आंटी: नही बेटा ठीक है अब जो हो गया सो हो गया.

मैं: लेकिन एक बात कहूँ आंटी. अगर आप बुरा ना माने तो…

More Sexy Stories  बॉस के बेटे से पहली चुदाई

आंटी: ह्म्म

मैं: अगर आप मेरी वाइफ होती ना तो मैं आपके साथ बहुत मज्जे करता.

अब आंटी ने मेरी तरफ एक बार देखा और कहा

आंटी: तुम तो इतने हॅंडसम हो तुम्हे तो कोई भी मिल जाएगी फिर मैं ही क्यूँ.

मैं: सच कहु, लेकिन प्लीज़ बुरा मत मानना

आंटी: ह्म्म बोलो.

मैं: आप सच मे बेहद खूबसूरत हो, जब मैने आपको पहली बार देखा था तभी से मैं आपका दीवाना हो गया था. आइ लाइक यू आंटी सो मच.

और मैने उनके हाथ को चूम लिया, वो भी थोड़ा शर्मा गयी. लेकिन कुछ कहा नही उन्होने.

उसके बाद थोड़ी देर मे बस एक जगह खाना खाने के लिए रुक गयी. तब तक मेरे मन उथल पुथल हो रहा था. फिर हम दोनो खाना खाकर वापस बस मे आकर बैठ गये. उसके बाद बस फिर से चालू हो गयी. अब सभी लोग सोने लगे थे बस मे. ड्राइवर ने सभी लाइट्स ऑफ कर दी थी.

फिर थोड़ी देर बाद मैं भी आंटी के और करीब गया और उनका हाथ अपने हाथ मे लिया और आंटी ने अपना सिर मेरे कंधे पर रख कर कहा.

आंटी: क्या सच मे तुम्हे मैं अच्छी लगती हूँ??.

मैं: सच मे अगर मैं आपके एज का होता ना तो आपसे शादी कर लेता.

और मैने उनके सिर पर किस किया उम्म्म.

आंटी: और क्या करते.

मैं: और….

मैं समाज गया अब आंटी भी पूरी मूड मे आई है. फिर मैने उनके चिन को पकड़कर अपने हाथ से उठाया और उनकी आँखों मे देखकर उनके लिप्स को किस किया, वो भी मस्त रेस्पॉन्स कर रही थी. अब मैने अपने एक हाथ से उनका बोबा दबाने लगा था ब्लाउस के उपर से ही. और वो और भी ज़्यादा पॅशनेट्ली किस कर रही थी. थोड़ी देर हम दोनो यूँही कपड़ों के उपर से एकदुसरे को सहला रहे थे.

Pages: 1 2