एक अंजान आंटी के घर पर

डियर ऑल, मेरा नाम समीर ख़ान हैं मैं देल्ही मे रहता हू, मैने देसी कहानी पे अपनी लास्ट 2 इंडियन सेक्स स्टोरीस (चुदाई की प्यासी एक चुदक्कड आंटी) और (मौसी की लड़की मेरी बाहो मे) डाली थी जिसपे मुझे कुछ लाइक आए और मैल भी, उनमे से एक मैल एक आंटी का भी था, जिसने लिखा था (वाना प्ले वित मी).

मैं-हाँ! जी मेडम

(मुझे तुमसे मिलना हैं)

मैं- हाँ! बोलिए क्यो मिलना हैं

(ज़्यादा सीधे क्यो बनते हो)

मैं वही तो जानना चाह रहा हू की क्यो.

(तो मैं तुम्हारे क्यो का जवाब हू डाइट्स माय नं.####कॉल मी)

फिर नं. एक्सचेंज हुए बहुत बाते हुई बहुत और ऑलमोस्ट एक वीक बाद मैं गया तब जब उसका हज़्बेंड ऑफीस था, अब मैं पहुच तो गया लेकिन हाथ पाओ काप रहे थे की क्या होगा अब मतलब कही उल्टा सीधा कुछ ना हो जाए बट कोई नि डर के आगे जीत हैं यहा डर के आगे चुत थी अब मैने गार्ड से बोला वंधाना मॅम से मिलना हैं फ्लॅट नंबर इतना हैं.

उसने मेडम को कॉल की और मुझे गेट तक छोड़ आया, अब मैने रिंग करी तो उसने गेट खोला तो ओएमजी, , गीले बालो मे सलवार और टी-शर्ट मे कमाल लग रही थी आंटी, उसने अंदर आने को कहा मैं जाके बैठ गया और पानी लेके आई और बोली की यार तुम इतने एक्सपीरियेन्स तो नही लगते और आंटी को ऐसे चोद दिया की मुझे तुम्हारी स्टोरी पढ़ते ही जोश सा आ गया सुनते ही मैं अजीब सा हो गया की ये तो सीधी बात कर रही हैं.

खैर अब मैं भी खुल गया और बोला की मॅम मैं वो, उसने मुझे बोला मॅम नि कॉल मी वंददु, ये सुनते ही मैं पास मे गया और उसके बंब मे हाथ फिराने लगा तो उसने कहा की पहले कुछ बात कर लेते हैं, मैने कहा ठीक हैं उसने पूछा की तुम्हारा साइज़ क्या हैं क्योकि साइज़ मॅटर करता हैं.

More Sexy Stories  Akash Fucking New Neighbour Akanksha

मैने कहा 6 इंच लंबा और 2.5 मोटा कहने लगी वाउ. फिर कहने लगी की तुम झड़ कितनी जल्दी जाते हो तो मैं सोचने लगा की क्या चुतियाप्पा हैं ये, फिर वो बोली क्या सोच रहे हो मैने कहा आंटी कुछ नही, कहने लगी कॉल मी वंद्धू प्लीज़.

मैने कहा मॅम क्या करना हैं बोलिए कहने लगी जो करने आए हो वो करते हैं, वो गयी कमरे मे और हाफ पैंट और संडो टाइप बनयान पहन के आई और बोली की सब भूल जाओ और मुझे खुश करदो ये कहते ही मैने उसे दीवाल से चेपका कर और एक हाथ से बाल पकड़ कर उसे किस करने लगा गर्दन पर गाल पर लिप्स पर कंधो पर और फिर एक हाथ से उसकी चुत को सहला रहा था दूसरे से दूध दबा रहा था और पी भी रहा था.

ये मैने लगभग 25 मिनट तक करा बाद मे उसकी आँख देखी तो वो ऐसे घूर रही थी की जैसे मुझे खा ही जाएगी और उसने करा भी कुछ ऐसा ही वो मेरी बेल्ट पकड़ कर रूम ले गयी और मेरे उपर चढ़ गयी और जैसे मैने किया था वैसेही करने लगी एक से मेरे लॅंड हिला रही थी और मेरे दूध भी जीभ से चाट रही थी की मैं पागल हो गया था.

क्योकि मेरा लॅंड खड़ा हो गया था ऐसे की लाइक नेवेर बिफोर वो श्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ऊऊऊऊऊओ येस्स्स्स्स्स कमाल हो यार तुम फिर मैने कहा मूह! मे लोना प्लीज़, कहने लगी नही जान, और इतने मे ही वो मेरे लंड पर बैठ गयी और उउचल्ने लगी भैया मैने तो आँखे बंद करली और दोनो हाथो से उसके दूध मसल रहा था आराम से उस पल का मज़ा ले रहा था.

मैं ह्म्म्म्म और वो श्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ईईईईई ईसस्स्सस्स एस बेबी ऊऊऊओह याआआ अछा लग रहा है ह्म्म्म्ममम ये एस एस करो करो और वो ऐसे अपनी गॅंड हिला रही थी जैसे पॉर्न मूवी मे हिलाते हैं करते करते वो झड़ गयी अब मैने कहा घोड़ी बनोंगी कहने लगी.

More Sexy Stories  गर्लफ्रेंड के साथ ग्रूप सेक्स का मज़ा

चल मेरी जान आज तू जैसे कहे वैसे ही उसे मैने घोड़ी बनाया और जो सूटे मारे हैं वा! जी वा! दोनो हाथो से उसके गॅंड पकड़ रखी थी और लगा पढ़ा था और चिल्ला रही थी की बस करो जल्दी करो मैं की लगा पड़ा था कुछ टाइम बाद मैं हल्का हो गया.

फिर उसने मुझे दूसरे बाथरूम फ्रेश होने को कहा और वो अलग गयी बाद मे हमने खूब बात करी उसने बताया की सेक्स की प्यास और शोक दोनो अलग चीज़ हैं मैं सोच रहा था की यार ये तो मेरी टाइप की हैं जैसा मैं सोचता हू वही ये सोच रही हैं फिर मैने कहा हाँ जी वंद्धू शोकक बड़ी चीज़ हैं उसने कहा की मेरे हज़्बेंड मेरी प्यास भुजा देते हैं.

लेकिन मेरे शोकक का उन्हे पता ही नही हैं फिर मैं सोच रहा था की साला ये तो रंडी हैं कहने लगी की फिर सोच रहे हो ज़्यादा मत सोचा करो और हाँ मैं वैसी नही हू जैसा तुम समझने की कोशिश कर रहे हो.

फिर उसने बताया की उसका एक बेटा हैं जो की आउट ऑफ इंडिया हैं स्टडी के लिए 8 साल का हैं अपने अंकल आंटी के पास ही रहता है मैने कहा एक लड़का और वो भी 8 साल का और इतनी दूर क्यो कहने लगी ये उसकी लाइफ का मामला हैं.

खैर मैने उसकी बहुत तारीफ करी, अरे हाँ उसके बारे मे तो मैने आपको ज़्यादा बताया ही नही वो थी 35 साल के आस पास वो लग रही थी कोई 26 या 28 की क्योकि उसने अपने आप को इतना अछा बना के रखा था.

Pages: 1 2