दोस्त की शादी, मेरी चाँदी – पार्ट 3

पहले यह भाग पड़ ले आप लोग दोस्त की शादी, मेरी चाँदी 2

जैसा की अब तक आपने पढ़ा साहिबा भाभी ने मुझसे कैसे चुडवाया ओर मुझे सुबह खेतो का न्योता देकर चली गयी. रात को भाभी की चुदाई मै काफ़ी थक गया था ओर अगले दिन सुबह टाइम से उठ नही सका.

जिसके कारण अगली सुबह मे भाभी की मिठास चक नही पाया. ओर दोपहर को मुझे पता लगा की भाभी अपने घर मायके चली गयी है. जिससे मे काफ़ी उदास हो गया.

पूरा दिन मेरा इस कारण मूड कराब रा. पर मुझे नही पता था की मेरी किस्मत मे कुछ ओर ही लिखा है ओर शायद कुछ बहुत ही जयदा ओर अछा.
दिन मे मायने काफ़ी काम करवाए क्यूकी जस्सी के घर काफ़ी मेहमान आ गये थे. जस्सी की शादी को 2 ही दिन बचे थे. मे काफ़ी थक गया था तो रात को जल्दी सो गया.

सुबह मे जल्दी उठ गया तो फ्रेश होने खेतो मे चला गया. जस्सी क्यूकी बाहर नही जा सकता था तो मे अकेला ही था. अभी सुबा के 4 बजे का टाइम ही होगा. उपर से ठंड ओर ढूंड. मे गन्नों के खेतो मे पहुचा ओर फ्रेश होने बैठ गया.

मे फ्रेश होते हुए भाभी के बारे मे ही सोच रहा था . मेरा लंड सुबह सुबह खड़ा हुआ सलामी दे रहा था. सर्दी भी लग रही थी तभी मुझे किसी की झाड़ियो से आवाज़ सुनाई दी. मे जल्दी से खड़ा हुआ ओर धीरे धीरे आवाज़ की तरफ गया.

अंधेरा काफ़ी था ओर उपर से ढूंड तो कुछ सॉफ दिख नही रा था. मे चूपते हुए आराम से झाड़ियो के पास गया तो देखा कोई औरत ओर एक आदमी सुबह सुबह झाड़ियो मे लगे हुए थे. मेरा लंड एक दम से ओर बेचैन हो गया.

More Sexy Stories  मेरी मम्मी तो चुड़क्कड़ निकली

पर मायने अपने आप को समझाया की भाई चल तेरा कुछ नही होना. दो प्यार करने वाले है उन्हे क्यो डिस्टर्ब करे ओर मे जैसे ही वाहा से निकलने लगा. मुझे उनकी फिर से आवाज़ सुनाई दी. मे आवाज़ सुन के चोक गया.

ये आवाज़ मुझे जानी पहचानी लगी. मे फिर से नज़दीक गया ओर देखने की कोशिश की ओर अंधेरे मे कुछ दिख नही रहा था मे थोड़ा ओर नज़दीक गया तो देख कर हैरान हो गया. ये जस्सी की मॉं थी. ओर वो आदमी जस्सी के गाव का था. इस आदमी से मे मिल चुका था.

ये साहिबा भाभी का पति था जो की एक ट्रक ड्राइवर है. वो दोनो धीरे धीरे बात कर रहे थे. जस्सी की मॉं काफ़ी सेक्सी थी पर मैने आज तक कभी ये सोचा भी नही था की मे उन्हे इस हालत मे देखुगा.

वो मेरी मॉं जैसी ही थी ओर मे उन्हे कभी कभी मॉं ही बुलाता था. साहिबा भाभी का पति मेरे सामने जस्सी की मॉं को चोद रा था. मेरे मन मे मॉं के बारे मे पहली बात ग़लत ख़याल उठने लगे. साहिबा का पति मॉं को झुकाए हुए था ओर पीछे से उनकी चूत चोद रहा था.

मॉं की सलवार टाँगो मे नीचे पड़ी थी. ओर उनके सूट के अंदर भाभी के पति ने हाथ घुसा रखे थे ओर उनके बूब्स दबा रहा था. जस्सी की मॉं हर्मिट कॉयार 45 साल की है.

उनकी शादी उनसे काफ़ी बड़ी उमर के आदमी से हुई यानी की जस्सी के पिता तो शायद इस लिए ये सब हो रा था. मैने पहली बार मॉं को इस नज़रिए से देखा था. वो दिकने मे काफ़ी कामुक है. मोटे बूब्स ओर मोटी गांद. 45 की उमर मे भी उनकी जवानी जोरो पर है.

More Sexy Stories  माँ और ससुर की नंगी चुदाई देखी

मेरा लंड उन्हे देख आउट ऑफ कंट्रोल हो रहा था. मे वॉया झाड़ियो मे छिपा रहा ओर उनकी चुदाई लीला देखता रहा. उनकी बातो से पता लगा की साहिबा भाभी का पति आज ट्रक लेके काम पे जा रहा है ओर अब 15 दिन बाद ही लौटेगा. चुदाई के बाद उन्होने कपड़े पहने ओर चुप चाप वाहा से निकल गये.

मेरे दिमाग़ मे मॉं को चोदने के ख़याल आने लगे. मे ये सोचता सोचता घर आ गया. शादी के कारण घर मे काम बहुत थे तो पूरा दिन जल्दी निकल गया. आज रात को लॅडीस संगीत था.

तो शाम को घर मे डी जे वगेरा लगा. ओर सभी औरतो ने जम कर डॅन्स किया. पर मेरी नज़र तो मॉं पर थी. वो कैसे गांद हिला हिला कर डॅन्स कर रही थी. मुझसे ये सब देख कर सुबह का नज़ारा याद आ रा था. जहा पर औरते डॅन्स कर रही थी मे जस्सी वही उनके चारो तरफ खड़े थे मा डॅन्स करके आई तो मेरे सामने खड़ी हो गयी.

सब लोग डॅन्स देखने के लिए चारो तरफ खड़े हुए थे. काफ़ी भीड़ थी तो मेरे भी दिमाग़ मे शैतानी आ गयी. मे मा की तरफ थोड़ा आगे हो गया ओर उनके पीछे से आगे डॅन्स देखने का नाटक करने लगा. जिससे मेरा लंड उनकी गांद को छूने लगा.

मेरा ये सोचकर एक दम खड़ा हो रखा था. मा ने साड़ी पहन रखी थी ओर उनकी साड़ी का ब्लाउस पीछे से बिल्कुल डीप नेक वाला था जिस से उनकी नंगी कमर मुझे दिख रही थी.

Pages: 1 2 3