दोस्त की गरम पत्नी की अंतर्वसना शांत की

Hindi Sexy Stories Desi Chudai Dost Ki Garam Patni ki Antarvasna हेलो दोस्तो मैं रमेश आज मैं अपनी पहली हिन्दी सेक्सी स्टोरीस देसी चुदाई लिखने जा रहा हूँ मुझे उम्मीद है आप को मेरी ये पहली कहानी पसंद आएगी. ये कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है और ये घटना मेरे साथ ही घटी थी इस लिए ये कहानी बिल्कुल सच्ची है.

दोस्तो उस टाइम मेरी उमर करीब 26 साल थी और मेरी शादी को अभी 1 साल होने वाला था. मैं अपनी वाइफ से बिल्कुल भी खुश नही था क्योकि उसमे सेक्स करने की इछा ही नही थी. वो कभी भी गरम नही होती थी. मैं शादी से पहले चूत मारने के लिए बहोत ज़्यादा तड़पता था पर मैं आज तक किसी की चूत नही मारी थी सोचा था की एक बार शादी हो जाए फिर जी भर कर अपनी वाइफ को चोदा करूँगा.

पर ऐसा नही हुआ मेरी शादी तो हो गई पर सेक्स करने मे रद्दी भर मज़ा नही आता क्योकि मेरी वाइफ बिल्कुल भी गरम नही थी. इस लिए मैं बहोत परेशान होने लग गया. मैने सोचा की अब किसी बाहर वाली लड़की से चक्कर चला लेता हूँ पर फिर डर भी लगता था क्योकि अब मेरी शादी हो गई है. अगर किसी को पता चल गया तो लोग क्या कहेंगे.

मैं दिन रात भगवान को कहता था की अब तूने शादी भी करा दी कम से कम एक गरम चूत तो उसे दे देता भगवान मुझे नही पता ये लंड भी तेरा ही दिया हुआ है अब तूने ही इसे शांत करना है. मेरा लंड 7 इंच का मोटा सा है वो चूत के लिए दिन रात तड़पता है. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

इतना मुझे अपने लंड और अपने उपर विश्वास है की अगर कोई गरम लड़की या औरत एक बार मेरे नीचे आ गई ना तो मेरे लंड की दीवानी हो जाएगी. क्योकि मेरे अंदर अब 26 साल की गर्मी भरी हुई है. मुझे उस टाइम एक दमदार चूत की सक्त ज़रूरत थी.

More Sexy Stories  Vidhwa Bhabhi Ki Chudai

आख़िर भगवान ने मेरी सुन ली और मेरे पास मेरे एक बहोत आछे और पुराने दोस्त का फोन आया उसने मुझे अपने घर हिमाचल मे इन्वाइट किया क्योकि वो अपनी बेटी का बिर्थडे की पार्टी दे रहा था. मैने उसकी बात सुनते ही उसे हान कर दी की मैं पक्का आउन्गा.

मैं पहले ही अपने घर मे बहोत परेशन रहता था मैने सोचा इस बहाने से थोड़ा घूमना फिरना हो जाएगा और मेरा माइंड भी थोड़ा सेट हो जाएगा. आख़िर मैं अपने दोस्त विक्रम के पास पहोच गया उसकी वाइफ बहोत ही सेक्सी और गोरी थी उसकी वाइफ का नाम सविता था. मैं तो उसे देखते ही उसका हो गया. क्या कमाल के गुलाबी गुलाबी होंठ और मोटी मोटी आँखें उसका फिगर 36-34-38 का होगा करीब साली की गॅंड क्या कमाल की थी.

मैं मन ही मन विक्रम से जल रहा था की कहासे साले लोड्े को इतना पटाका मिल गई और मुझे क्या मिला बुझा हुआ पटाका. चलो जो होना था सो हो गया फिर मैने पार्टी जोइन करी और पार्टी मे खूब डॅन्स और मस्ती करी. पार्टी के बाद मैं विक्रम और उसकी वाइफ सविता हम तीनो उसके बेडरूम मे बैठ कर बातें करने लग गये.

ऐसे ही हम काफ़ी देर बातें करते रहे और फिर वही एक ही बेड पर सो गये. मुझे पता नही कब नींद आई पर मैं गहरी नींद मे सो चुका था. रात को करीब 1 बजे मेरी आँख खुली मैने सुना की किसी लड़की की आह्ह्ह आह्ह की मस्ती वाली आवाज़ें आ रही है. मैने जैसे ही अपनी साइड मे देखा तो अंधेरे मे सविता पूरी नंगी होकर विक्रम के लंड के उपर बैठकर उसका लंड अपनी चूत मे ले रही थी.

ओह हो क्या मस्त सीन चल रहा था साली सविता का गोरा बदन अंधेरे मे ऐसे चमक रहा था मानो अंधेरे मे जुगनू चमक रहा हो. सविता पूरी मस्ती मे अपने पति के लंड के उपर उछाल रही थी तभी विक्रम का लंड जवाब देगया और उसकी चूत मे से निकल गया. सविता अभी भी बहोत गरम थी वो लंड के लिए तड़पते हुए बोली – आज भी कभी तो मेरी चूत को शांत कर दिया करो तुम, एक तो तुम्हारा 3 इंच का लंड उपर से वो 3 मिनिट भी नही खड़ा रहता क्या करू मैं अब तुम ही बताओ.

More Sexy Stories  लॅंड और चूत की कहानी इन न्यू स्टाइल

और ये कहते ही वो अपने पति के उपर लेट गई. मैं समझ गया विक्रम अपनी वाइफ को सेक्स की खुशी नही दे पा रहा है. मेरा लंड तो पहले से ही फटने वाला हो रहा था. मैं उनके पास हो गया और सविता का हाथ पकड़ कर अपना लंड उसके हाथ मे दे दिया. जैसे ही मेरा लंड उसके हाथ मे गया तभी वो एक दम चिल्ला कर बोली – आआआ इतना बड़ा और मोटा.

सविता की आवाज़ सुन कर विक्रम ने झट से लाइट जला दी. अब उन दोनो की नज़रे मेरे नंगे लंड पर थी.

मैं बोला – क्या हुआ भाभी ये आप को खुश करने के लिए बाहर आया है मेरे पैजामे से.

विक्रम मेरे लंड को देख कर बोला – ये साली देख मेरे दोस्त का लंड अब ये तेरी चूत को फाड़ेंगा.

मैं विक्रम की बात सुनकर् हैरान था की वो खुद अपनी वाइफ को कह रहा था की तू मेरे दोस्त से चुद. मैं कुछ नही बोला क्योकि मुझे तो फ्री मे बिना कुछ करे इतनी मस्त चूत मिल रही थी चुद्ने को.
मैने सविता को खींच कर अपनी बाहों मे ले लिया और उसके गुलाबी होंठ चूसने लग गया. क्या मस्त मुलायम होंठ थे साली के, फिर मैने उसके गोरे गोरे बूब्स चूसे और आख़िर मे अपना मूह उसकी चूत के उपर रखकर उसकी चूत को आछे से चूसा.

Pages: 1 2