डॉक्टर की कची काली

आप सभी लोगों को मेरा सलाम, मेरी ये पहेली सेक्स स्टोरी हैं आज तक मैने कभी भी कोई साइट्स पर अपनी कहानी नही लिखा हू, अगर कोई ग़लती होगी तो माफ़ करना.

मेरा नाम अलमास ख़ान पुणे का रहने वाला हूँ मेरी एज 35 की हैं मुझे सेक्स बहुत पसंद हैं खाना नही मिलेगा पर सेक्स मुझे रोज़ चाहिए, ये डिसेंबर का वाकीया हैं मैं अपने गाव गया था.

एक दिन ऐसे ही सवेरे गाओं से चाय की दुकान पर जा रा था रास्ते मे एक डॉक्टर का घर पड़ता था मेरी नज़र अचानक उस घर मे पड़ी मैने देखा एक लड़की पेट के बल लेटी हैं और अपने दोनो पैर उठाई हैं मेरी नज़र वही पर रुक गई उसकी गोरी गोरी दूध जैसे टाँगे देखकर मैं एकदम से हैरान हो गया और वही फ़ैसला किया की इसको ज़रूर पाटकर चोदुन्गा.

मैने उसका पता लगाया वो अपने घर से बाहर नही निकलती थी, अब मुझे नींद मे भी उसकी गोरी गोरी टाँगे नज़र आने लगी, जब मैने मेरे एक करीब दोस्त से पता लगाया तो पता चला की वो एक 18 साल की लड़की हैं.

मैने दोस्त से अपने कहा की तेरी आइटम से बोलकर मेरी बात उससे करवा वो बाहर नही निकलती हैं इससे बहुत परेशानी हैं मैने एक मोबाइल खरीदा और दोस्त को दिया बोला उसको दे अपना नं.उसमे डाइयल करके दे दिया.

पर उसका फोन नही आरहा था मैं दोस्त पे बहुत गुस्सा किया दिया की नही दिया दोस्त बोला आज बोलता हूँ उसको मैने कहा की नही करना तो बोल फोन वापस दे दे मैं किसी दूसरे को दे दूँगा.

फिर 3 दिन बाद उसका मिस कॉल आया मैने कॉल किया हेलो बोली और फोन कट की फिर मैने लगाया बोली क्यू फोन दिए और किस लिए कॉल करने बोले मैने आप के बारे मे कभी सपने मे भी नही सोच सकती.

मैने कहा मैने जबसे आपको देखा मुझे दिन रात तुम्ही नज़र आती हो बोली बीवी हैं इतनी सुंदर आपकी मैने कहा आपसे सुंदर नही हैं.

More Sexy Stories  मेरे पति के भाई ने मेरी चुत की चुदाई करके प्यास बुझाई

ये सिलसिला रोज़ चलता राहा जैसे ही मैं कुछ सेक्स वग़ैरा की बातें करता फोन कट कर देती थी, जिस दिन मुझे पुणे आना रात को उसने कहा मिलती हूँ पर नही आई फिर मैं पुणे गुस्से मे वापस .आगया जब मैं पुणे आगया उससे बहुत बुरा लगा मुझसे माफी माँगी और रोने लगी बोली मुझसे बहुत बड़ी ग़लती होगई हैं आप आजओ ठंडी का दिन हैं और कोई नही देखेगा सब जल्दी सो जाते हैं मैं नही गया बहुत बुलाया उसने रोज़ मुझसे कहती थी आजाओ मुझे नींद नही आती हैं.

फिर हमरी आहिस्ते आहिस्ते सेक्स चॅट चालू हो गई मैने बोला क्या क्या कोरोंगी आउन्गा तो बोली पहेले आओ तो सही फिर देखो मैं क्या करूँगी फिर भी मैने बोला बताओ तो शर्मा गई.

फिर मैं मार्च मे गाओं गया रात को 11 बजे उसको कॉल किया उसने बोली घर मे आजाओ मैने पुछा कैसे आउ मुझे कुछ पता नही था फिर बोली घर के पीछे से मेरे छत पर आजाओ मैं लूँगी और बनियाइन पहना और अंडरवेर सब निकाल कर गया उसके छत से उसके घर मे गया इतनी गोरी थी की अंधेरे मे भी नज़र आती थी.

मैं उसके पास गया और खिच कर अपने सीने से लगा लिया और लिप्स लॉक करने लगा वो भी साथ देने लगी मैं शॉक होगया इतनी छोटी और ये सब इसको आता हैं घर से भी बाहर नही निकलती बोली बीपी देखी हैं मैने उसकी सलवार का नाडा खिचने लगा.

वो बोली नही इसे मत खोलो मेरा लंड आसमान छू रा था मुझे कुछ दिखाई नही दे रा था.

मैं तुरंत खोल दिया वो कहने लगी नही मानोंगे उसको गोद मे उठाकर उसकी पलंग पर पटक दिया उसके बूब्स को दबाने लगा वो सिसकारिया भरने लगी उसकी ड्रेस उप्पर उठाया और ब्रा हुकवाला नही था उप्पर किया मूह मे भर लिया उसने मेरा सर ज़ोर से दबाने लगी.

More Sexy Stories  सुप्रिया की चुदाई की दास्तान हिंदी में

मैने उसका निपल्स अपने मूह मे भर लिया और चूसने लगा वो सिसकिया लेने लगी खुउब चूसना चालू किया मेरे समज मे नही आरहा था कभी बुब्स कभी लिप्स चूसने लगा वो साथ देने लगी मुझसे बर्दास्त नही हो रा था.

मैने अपनी लूँगी खोल कर अलग करदिया और उसकी छोटी चिकनी चुत पर अपना लंड रखा पर बहुत कोशिश किया जाहि नही रा था बहुत परेशान होगया पसीने से भीग गया 20-25 मीं परेशान होगया थूक लगा लगा कर थक गया अंदर जा ही नही रा था और वो चिल्ला रही थी.

फिर मैने खूब थूक जमा किया उसकी चुत पर उसको चाट चाट कर फिर अपने लंड पर लगाया और ज़ोर से धक्का मारा मेरा लंड थोड़ा घुस गया ज़ोर से चिल्लाई उसकी मा उठगयइ मैने और वो मुझे धक्का दिया मररररर गईिई आहह आआआहह मैं डर गया उसके दूसरे रूम मे छुप गया.

उसकी मा आई बोली क्या हुआ बोली बिल्ली थी डर गई फिर मैं आया तो वो सलवार पहेनली और बोली नही अब नही मैं बोला आहिस्ते आहिस्ते करता हूँ बोली नही मैं मर जाउंगी तो मैने बोला गुस्से मे की इसलिए बुलाया था मैं जा रा वो मुझपे जंप करके लिप्स लॉक करने लगी और रोने लगी बहुत दर्द होरहा हैं मैं बोला आहिस्ते आहिस्ते करता हूँ बोली ठीक हैं.
फिर मैने उसकी सलवार खोली और अपना लंड आहिस्ते से डाला फिर चिल्लाने लगी मैने उसके मूह पर अपना मूह रख दिया वो छटपटाने लगी मुझमे तो शैतान सवार था मैने थोड़ा डाला और रुक गया किस्सस करने लगा.

फिर थोड़ी वो ठीक हुई तो फिर एक झटका मारा फिर चिल्लाई तीसरी बार मे गया अंदर बोली हिलाओ मत नही तो मैं मर जाउंगी फिर मैं उसके उप्पर लेट गया और किस करने लगा मैं डरा हुआ था उसकी सील टूट गई थी और खून निकलने लगा था और वो बोलना बंद कर दी थी.

Pages: 1 2