दीदी के साथ सेक्स की आंतर्वसना

हेलो फ्रेंड्स, यह मेरी फर्स्ट स्टोरी. सीधा स्टोरी पे चलते है. मई हू पर्थ और ये स्टोरी मेरे और मेरे दीदी क साथ हुई है. मेरे घर मई हम 6 लोग है. मा पापा मेरी 3 बड़ी दीदी ओर मे. बात मेरी और मेरे सबसे छोटी दीदी की है जिनका नाम सुरभि है.

बात उस टाइम की है जब मई बहोत छोटा था ** क्लास मई. और दीदी ** क्लास मे. मई यू ही खेल रहा था. खेलते खेलते मे घर के पीछे बने कची कमरे के बाजू मई चला गया वाहा मैने देखा क मेरी परिवार की ही एक दीदी (प्रीति) उस कमरे मे ह और सुरभि दीदी भी वाहा है मैने अंदर देखा तो देख क हैरान हो गया.

गर्मी का टाइम था सब सो रहे थे सुन सान था सारा घर और वो दोनो पीछे क कची कमरे मे थे. मैने गेट क पास जाकर देखा तो पता चला प्रीति दीदी अपना नाडा खोल रही है और सुरभि दीदी टॉप लेस है और अपनी स्कर्ट उतार रही है. देखते ही देखते दोनो नंगे हो गये.

प्रीति दीदी ने फिर एक चादर बिछाई फर्श प और लेट गयी उनके उपर सुरभि दीदी लेट गयी. दोनो नंगे थे एक दूसरे से चिपके हुए. प्रीति दीदी क बूब्स बड़े बड़े थे क्योंकि की उमर उनकी ज़यादा थी सुरभि दीदी क छोटे छोटे. फिर दोनो ने एक दूसरे के होठ चूसना चालू कर दिया दोनो पसीने से लथपथ हो गये थे.
मुझे इन सब की समझ तो थी नही बट बाहौत मज़ा आ रहा था. फिर प्रीति दीदी ने सुरभि दीदी की नीचे लिटा दिया और उनकी चूत को देखने लगी फिर झुक कर अपनी जीभ उनकी चूत प रख दी और सुरभि दीदी ने अपनी टांगे लॉक करदी उनक सिर पर

More Sexy Stories  भाई बहन की रोमांटिक सेक्स स्टोरी

प्रीति दीदी उनकी चूत चाटने लगी थी कुछ देर बाद प्रीति दीदी लेट गयी और सुरभि दीदी उनकी चूत क पास आई और मैने गौर किया की उनकी चूत पे बाहौत बाल ह. इतने मे सुरभि दीदी बोली की बाहौत बाल आ गये है चूत पे बना लिया करो और उनकी चूत चाटना चालू कर दिया गर्मी मे दोनो का बुरा हाल था मे भी खड़ा ख़ड़ा पसीने मे भींग चुका था.

फिर कुछ देर चाटने क बाद प्रीति दीदी ने सुरभि दीदी का सिर चूत मई दबा दिया और पानी छोड दिया इतने मे उन्होने मुझे जाख़्ते हुए देख लिया और मुझे आवाज़ लगाई और सुरभि दीदी को गेट खोल क अंदर लाने को कहा मई भागना चाहा पर जब तक सुरभि दीदी नंगी ही भाग के पकड़ ली और अंदर ले आई अंदर जाकर उन्होने गेट बंद कर लिया.

फिर प्रीति दीदी ने कहा हमने जो किया सब देखा क्या तूने ?? मैने हा कहा फिर दीदी ने प्यार से मुझे बुला के बोला के किसी को नही बताना. मे उनसे डरता था तो बताने का सवाल तो था ही नही इसीलिए उन्होने कहा कैसा लगा मैने कहा के क्या कर रहे थे आप दोनो तो बोली की सेक्स.मैने कहा क ये क्या होता है तो बोली क एक ऐसी चीज़ जिसमे दुनिया का सबसे अछा मज़ा है मैने कहा सिर्फ़ लड़किया करती है तो बोली की नही लड़की और लड़का करते है वो तो हम ऐसे ही लगे थे इतने मई मैने पीछे देखा तो सुरभि दीदी नंगी चूत मे उंगली कर रही थी.

More Sexy Stories  कज़िन साली की दिल्ली मे चुदाई

इतने मे प्रीति दीदी बोली की तुझे करना है क्या मैने हा मे सिर हिलाया तो वो बोली की नंगा हो जा मे तुरंत हो गया मेरा लंड सुखदा बिल्कुल छोटा सा था तो बोली की बचा ही है तू और हस के मेरे लंड को किस किया और बोली की लेट जा मे लेट गया और उपर आकर मेरे होठ चूसने लगी और सुरभि दीदी उनकी चूत चाटने लगी..

फिर वो पीछे हुई और सुरभि दीदी को बोली की रुक जा मईमे पीछे हो जाो तो कुत्तो की तरह चाटना और इतना कह कर वो मेरे लंड को मूह मे ले ली और सुरभि दीदी पीछे से उनकी चुत चाटने लगी में छोटा था तो लंड खड़ा नही होता था बस जो भी हो रा था मज़ा आ रा था फिर उन्होने कहा क सुरभि एक अछा लंड तैयार करना है अपने को.

फिर सुरभि दीदी मेरे मूह पे बैट गयी और बोली की चॅट मेरी चूत. में चूत चाटने लगा और प्रीति दीदी मेरा लंड चुस्ती रही बोली की होने लगेगा खड़ा. मे चूत चॅट रहा था इतने मे दीदी बोली की मेरा पानी निकलेगा चॅट पी लेना और कहते ही उनका पानी निकला और मैने पी लिया..

और फिर प्रीति दीदी आ गयी मेरे मूह पे चूत रख दी और सुरभि दीदी मेरा लंड चूसने लगी और थोड़े टाइम बाद वो झाड़ गयी मेरे मूह मै.. और फिर तीनो स्मूच कर के कपड़े पहेन ने लगे इतनी मई प्रीति दीदी बोली की मे छुट्टिया यही मनओगी तो रोज़ करेगे मै बोला ठीक है. खुस हो गया मै और दीदी भी.

Pages: 1 2