देसी मम्मी की देसी चुदाई

Desi Mummy Ki Desi Chudai हाय दोस्तो, मेरा नाम है मानव, मैं एक 24 साल का लड़का हू. मैं एक कॉलेज स्टूडेंट हू. मेरे पापा की देअथ हो चुकी है. मेरी मम्मी का नाम है रजनी जो एक 43 साल की औरत है, लेकिन इस उमर मे भी उसका बदन बहुतमास्त है. मा की चुदाई वित मा बेटा

जब मम्मी चलती है तो मोहल्ले के सारे मर्द मम्मी की गॅंड को घुरते है, मम्मी की गॅंड बहुत मस्त है, मैं अपनी मम्मी को काफ़ी शरीफ समझता था, क्यू की उनका रहनसहन एक दम साधा है,लेकिन जब मुज़े सच्चाई का पता चला तो मैं दंग रह गया.

एक दिन मेरे एक दोस्त ने मुझे बताया की तेरे चाचा का तेरी मम्मी के साथ अफ़ायर है,पर मुझे उसकी बातो पर यकीन नही हुवा, क्यू की मैं जब तक सच को अपनी आँखो से नही देख लेता मैं उस पर यकीन नही करता. एक दिन जब चाचा घर पर आए हुए थे तो मैने मम्मी से कहा की मैं बाहर अपने दोस्त के घर जा रहा हू.

मम्मी बोली “ठीक है जा”.मैं बाहर आया फिर घरके पीछेसे दीवार लंगकर, पीचेके दरवाजे से अंदर अपने रूम मे चला गया, किसी को पताही भी चला की मैं घर मे छुप गया हू, मेरी रूम और मम्मी की रूम बगल मे ही है, मेरे और मम्मी के रूम के बीच की दीवार मे एक हॉल है, जिसके बारे मे मम्मी को पता नही था, मैं उस होल्ल से चुपकेसे मम्मी को कपड़े बदलते हुए देखता था.

पहले मम्मी रूम मे आई, मम्मी खिड़कियो को बंद करा रही थी, चाचा पीछेसे आए और मम्मी को पीछेसे पकड़ लिया, मम्मी ने पीछे देखा चाचा मम्मी को किस करने लगे, चाचा किस करते हुए मम्मी के बूब्स को दबा रहे थे,बादमे उनका एक हाथ मम्मी के पेट को सहलाते हुए सीधे उनके पेटिकोट मे घुस गया, दोनो के होट अलग हो गये थे.

More Sexy Stories  रंडी मॉं की चुदाई ताउ जी ने की

मम्मी सिसकारिया भर रही थी, “आआअहह उऊहह”, अपने होटो को अपने दांतो तले दबा रहिति, ये देखकर मेरा भी लॅंड खड़ा हो गया था, मैं अपने लंड को बाहर निकाल कर उसे सहला रहा था. फिर चाचा ने मम्मी का ब्लाउस के बटन खोले, मम्मी ने अंदर ब्रा भी नही पहनी थी, बटन के खुलते ही उसके गोरे मोटे बूब्स उछल के बाहर आ गये.

फिर चाचा सामने से मम्मी के बूब्स को चूसने लगे, मम्मी मदहोश हो रही थी, “आआआहह उुउऊहह”, फिर चाचा धीरे-धीरे नीचे जाने लगे, हू मम्मी के पेट को चाटने लगे, अपनी जीभ को मम्मी की नाभि मे डालने लगे.

फिर उन्होने नीचे खिच कर मम्मी की साड़ी और पेटिकोट निकाल दिए, मम्मी ने अंदर पैंटी भी नही पहनी थी, साली पूरी तैयारी करके बैठी थी.

फिर चाचा मम्मी की चुत चाटने लगे,मम्मी पूरे जोश मे थी, उसने चाचा के बालो मे हाथ डालकर, उनके सिर को पकड़ कर अपनी चुत पे दबाने लगी , उसे बहुत मज़ा आ रहा था,” हाा जाआअनुउऊ, और्र्रर बहोत मज़ा आआ रहा है”, साली पक्की रंडी बन गयी थी. मम्मी चाचा के मूह मे ही झड़ गई.

चाचा मम्मी का पूरा रस पी गये. अब मम्मी बैठ गई और चाचा खड़े हो गये, मम्मी ने चाचा की पैंट और अंडरपैंट दोनो निकाली, चाचा का काला लॅंड पूरा खड़ा था, मम्मी ने उसे हाथ मे पकड़ लिया, हातसे हिलाने लगी.

फिर हिलाते-हिलाते सीधा मूह मे ले लिया, और रंडी की तरह चूसने लगी, मम्मी का ये रूप देखकर मैं हैरान था लेकिन मुझे मज़ा भी बहुत आ रहा था, चाचा कह रहे थे “आआहह मेरी जान, और बहुत मज़ा आ रहा है”, चाचा मम्मी के मूह मे ही झड़ गये, साली सारा माल पी गयी.

फिर चाचा मम्मी को गोद मे उठाके बेड पर ले गये, चाचा ने मम्मी को बेड पर डाला, और वो खड़े थे, चाचाने मम्मी की टाँगो को अपने कंधो पर रखा, एक हाथ पर थूक कर मम्मी की चुत पर लगाई.

More Sexy Stories  सोते समय मॉं की हॉट चुदाई

फिर मम्मी की चुत पर अपना मोटा काला लॅंड रखा और एक जोरदार झटका मारा, “अहह माआअ मार गैिईईईई” मम्मी की चीख निकल पड़ी “ ज़रा धीरे से डालो, मेरी जान लोगे क्या”.

फिर चाचा बोले “ चुप साली इतने दिनोसे चुद रही है फिर भी नखरे करती है” ये कहके चाचा ने स्पीड बढ़ा दी, चाचा जोरोसे झटके मारने लगे. मम्मी “ आआआआ अहह उूुुुुउउ ऊऊऊओ माआअ” कर रही थी, मम्मी की आवाज़े सुनकर मैं भी मूठ मार रहा था. थोड़ी देर बाद मम्मी भी मज़ा लेने लगी.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

“ आआआअ और्र्ररर ज़ोर सीई, और्र्र्ररर अंदार्ररर डालो” , “ मेरे राजा आज मेरी चुत का भोसड़ा बना दो” मम्मी पूरी तरह से मदहोश हो चुकी थी, दोनो चुदाई का पूरा मज़ा ले रहे थे, फिर चाचा की स्पीड और भी बढ़ गई , मम्मी भी गॅंड उछाल-उछाल के उनको दाद दे रही थी.

मम्मी की सिसकारिया गूँज रही थी, साथमे चाचा की सांसो की आवाज़ भी, दोनो की साँसे तेज हो रही थी. आब चाचा झड़ने वाले थे. “ आआआआ मैं छूटने वाला हू एयाया ब्ब्ब्ब”मम्मी “ आअहह उूुुउउइईई माआआअ” चाचा अपनी चरम सीमा पर पहुचे और मम्मी की चुत मे ही झड़ गये, और मम्मी भी झड़ गई.

इधर मैं भी झड़ गया. वो दोनो कुछ देर तक वही पड़े रहे नंगे, पहले मम्मी उठी बाथरूम जाके उसने खुद को साफ किया और साड़ी पहनी, बादमे चाचा उठे उन्होने भी बाथरूम मे जाके खुदको साफ किया और कपड़े पहने. चाचाने मम्मी को किस किया, मम्मी ने चाचा को दूर करते हुए कहा “ बोहोत हुवा आज के लिए, जल्दी जाओ मानव आता ही होगा” . फिर वो चले गये. मा की चुदाई वित मा बेटा

Pages: 1 2