देसी चूत और सामूहिक चुदाई का सुख

हैल्लो दोस्तों पहले मैं आप सभी को अपना परिचय दे दूँ.. मेरा नाम मोना है और मैं 21 साल की हूँ और मैं बहुत सेक्सी लड़की हूँ और मैं एक इंजिनियरिंग स्टूडेंट भी हूँ। मेरा फिगर 32-30-36 और 5.4 इंच हाईट और गोरा कलर, सिल्की बाल, और मैं बहुत सुंदर दिखती हूँ और मेरा एक बॉयफ्रेंड भी है.. जिसका नाम पंकज है। पंकज की हाईट 5’11 इंच, लंड 8 इंच.. अच्छी खासी बॉडी है.. उसने कई बार मेरी चुदाई भी की है जिससे मुझे पता चलता है कि उसका लंड हर किसी की चूत को एक बार मैं ही फाड़ देगा और उसके लंड को झेलने की ताकत हर किसी की चूत मैं नहीं वो बस एक बार मैं ही पसीने ला देता है।

तो दोस्तों मैं जो स्टोरी यहाँ पर आप सभी को बता रही हूँ वो 100% सच है। मैं और पंकज बहुत खुलकर एक दूसरे के साथ रहते है। हमने बहुत बार सेक्स भी किया है और मैं 18 साल की थी जब मैंने अपने भाई के दोस्तों से अपनी सील तुड़वाई थी।

मैं और पंकज साथ मैं ब्लूमूवी देखते थे और हम ज्यादातर ग्रूप सेक्स या नये नये तरीके की चुदाई की ब्लू मूवी देखते थे। इसके बाद एक दिन हमने कॉलेज से बंक मारकर मूवी देखने का प्लान बनाया। फिर हम सभी लोग एक फ्लॉप मूवी देखने गये। थियेटर पूरा करीब करीब खाली ही था। फिर जैसे ही मूवी स्टार्ट हुई.. फिर पंकज भी अपना काम करने मैं स्टार्ट हो गया। उस दिन मैंने सफेद शर्ट और शॉर्ट मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी। फिर उसने शर्ट के सारे बटन खोल दिए। इसके बाद पंकज मेरे बूब्स मेरी ब्रा के ऊपर से चूस रहा था। फिर मैंने उसे अपनी ब्रा खोलकर अपने निप्पल उसके मुहं मैं डाल दिए। अब वो एक छोटे बच्चे की तरह मेरे बूब्स दबाकर चूस रहा था। फिर उसने मेरी शर्ट पूरी तरह निकाल दी और मैं ऊपर से पूरी नंगी हो गयी थी। फिर वो कभी मेरे सीधे बूब्स को दबाता तो कभी उल्टे बूब्स को। अब उसने चूस चूस कर मेरे दोनों बूब्स लाल कर दिए थे।

More Sexy Stories  कज़िन भाई से जी भर के चुदाई करी

फिर मैंने उसकी पेंट की ज़िप खोलकर उसका 8 इंच मोटे लम्बे लंड को बाहर निकालकर सहलाने लगी और अब उसे अपने मुहं मैं लेकर चूसने लगी और इसके बाद मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। मैंने बहुत लोगो का लंड कई बार चूसा है इसलिए मुझे बहुत अनुभव है.. लंड चुसाई में और चूस चूसकर खड़ा करने मैं। फिर पंकज ने मेरा सर पकड़ा और ज़ोर जोर से मेरे मुहं को चोदने लगा। लेकिन उसने मेरी आज हालत बहुत खराब कर दी क्योंकि उसे आज बहुत दिनों के बाद मौका मिला था और वो आज पूरा हिसाब चुकाना चाहता था। फिर उसकी इस चुदाई ने मेरी आँखों से आंसू तक ला दिये थे और पूरा का पूरा मुहं लाल कर दिया। इसके बाद करीब थोड़ी देर बाद उसने मेरे मुहं मैं ही अपना सारा वीर्य निकाल दिया और अब मैं उसका सारा वीर्यपान कर गयी।

फिर पंकज मूवी देखते देखते मेरी देसी चूत मैं उंगली कर रहा था। फिर वहाँ पर दो लड़के और एक औरत हमारे आगे आकर बैठ गए। फिर मैंने तुरंत मेरी शर्ट लेकर मेरे बूब्स छुपा लिए लेकिन उन्होने शायद मेरे बूब्स देख लिए थे। अब थोड़ी देर बाद मैं चौक गयी.. मैंने देखा कि वो दो लड़के उस औरत के मज़े ले रहे थे। एक लड़के उसके बूब्स दबा रहा था और दूसरा उसके होंठो को किस कर रहा था। फिर मेरे और पंकज के सामने ग्रुप सेक्स चल रहा था। फिर मेरी चूत गीली हो गई और फिर पंकज भी अब मुझे जमकर किस करने लगा और फिर मैंने भी अपनी शर्ट उतार कर अब से साईड मैं रख दी। मेरी स्कर्ट भी ऊपर आ गई थी और अब मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं नंगी बैठी हूँ।

More Sexy Stories  पड़ोसन लड़की की कामुकता शांत की

फिर मैंने देखा कि उनमे से एक लड़का पीछे मुड़कर हम लोगो को देख रहा था। इसके बाद इस बार मैंने जान बूझकर मेरे बूब्स उसको दिखाए और अपने दोनों हाथों से अपने बूब्स दबाने लगी। फिर पंकज ने देखा कि मैं उसको बूब्स दबाकर दिखा रही हूँ और फिर उस लड़के ने सामने देखा और कहा कि क्या आप दोनों हमारे साथ मैं मिलकर यह सब करना चाहोगे? उस लड़के ने पंकज से पूछा। अब पंकज ने बिना मुझे पूछे हाँ कह दी क्योंकि वो दो लड़के जिस औरत के साथ सेक्स कर रहे थे वो 40 साल की होगी और बहुत बड़े बड़े बूब्स वाली थी। फिर जैसे ही पंकज ने हाँ कहा फिर वो तीनों लोग हमारे पीछे आ गये। मैं ज़रा सी डरी हुई थी।

फिर हमने एक दूसरे का नाम पूछा.. एक का नाम राज था.. उसकी उम्र 21 साल और दूसरे लड़के का नाम सागर था.. उसकी उम्र 23 साल थी और उस औरत का नाम शिल्पा था। फिर पहले राज ने शुरुआत करते हुए मेरे हाथ सहलाने शुरू किए और मेरा मुहं उसकी तरफ करके किस करने लगा। अब सागर भी मेरे दूसरी तरफ आकर मेरे बूब्स दबाने लगा। पंकज शिल्पा की बाहों मैं चला गया था और दोनों प्यार कर रहे थे। इसके बाद मैं पंकज को भूलकर उनके साथ सेक्स करने लगी। अब मैं राज को किस करने मैं साथ देने लगी और अपने एक हाथ से सागर का सर पकड़ कर मेरे बूब्स पर दबा रही थी। फिर थोड़ी देर बाद सागर मेरी चूत चाटने लगा और राज मेरे बूब्स चूसने लगा। मुझे ऐसे लग रहा था जैसे मैं जन्नत मैं पहुँच गयी। फिर सागर अपनी पूरी जीभ मेरी चूत मैं डाल रहा था और जीभ से चूत चाट चाटकर चुदाई कर रहा था और मजे ले रहा था। फिर मैं ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी।

Pages: 1 2 3