पापा ने देखी हम बहन भाई की चुदाई

मैने अपनी छोटी बहन रिया को कैसे प्रिप्लन्निंग करके चोदा ये पहले की सेक्स स्टोरी मे मैं बता चुका हूँ अब उसी के आगे का यह एक भाग है अगर पहले की स्टोरी आपने नही पढ़ी तो पहले आप वो पढ़ ले तब आपको ज़्यादा मज़ा आएगा ये पढ़ने मे तो आगे चलते है स्टोरी की शुरुआत करते है

मुझे अपनी बहन रिया की चुत का चस्का लग चुका था और उसे मेरे लॅंड का हम दोनो मौका देखकर चौका मार देते थे.

ऐसे ही एकदिन हुआ ये जून 2015 मामा के यहाँ कुछ फक्षन था तो हम दोनो भाई बहन ने पहले से जाने से मना कर दिया… वजह पता ही है चुदाई चुदाई बस चुदाई.

मा चली गयी अब दादा दादी हम दोनो और पापा बचे. दादा दादी का घर मे आना कम ही होता था.

उस दिन संडे था रिया खाना बना के सबको खिला चुकी थी पापा बोले मैं मार्केट से आता और निकल गये फिर क्या था

मैने आव देखा ना ताव जैसे पापा घर से बाहर हुए रिया को आँगन मे ही दबोच लिया, हम किस्सिंग करने लगे रिया ने कहा दरवाजा खुला है मैने कहा कोई नही आने वाला ज़रा किस कर लेने दो बंद कर लूँगा.

तभी मुझे आइडिया आया मैने लॅंड निकालकर रिया के मूह मे दे दिया, आज एक वीक बाद हो रहा था ये सब बड़ा मज़ा आ रहा था और मज़े लेने के चक्कर मे भूल गया दरवाजा खुला छोड़ दिया था.

अब होना क्या था वही हुआ जो नही होना चाहिए था, पापा मोबाइल भूल गये थे और वो लेने आए थे.

पर गॅलरी मे खड़े होकर आँगन मे ही रहे लॅंड चूसा कार्यक्रम का टेलीकास्ट देखने लगे, मैं नीचे रिया के बालो को सहला रहा था रिया बैठकर लॅंड चूस रही थी तभी मुझे किसी के गॅलरी मे खड़े होने का अहसास हुआ.

मेरी तो गॅंड फट गयी पापा थे.

More Sexy Stories  18 साल की बहन की चुदाई

मैने झट से अपना लॅंड रिया के मुँह से खिछा और बगल मे अपने कमरे मे घुस गया रिया को भी शायद अहसास हो गया उसने पीछे देखा पापा को देखकर वो भी पीछे पीछे मेरे ही कमरे मे आ गयी मुँह छुपाने की गरज से, पापा ने क्या किया कुछ पता नही पर कुछ समय मे ही शायद अपना मोबाइल लेकर चले गये (मोबाइल लेने आए थे ये बाद मे उन्होने रिया को बताया)

बाद मे मैने रिया को भेजा उसने देखा पापा जा चुके थे.

रिया ने देखकर आकर बताया मुझे..

गॅंड फट गयी थी पर लॅंड भी खड़ा था उसका भी कुछ जुगाड़ करना था मैने कहा जो होना था हो ही गया अब देखकर गये ही है मैने रिया को उठकर बेड पर बैठा दिया और किस्सिंग करने लगा साथ मे सूट के उपर से ही बूब मसल रहा था.

और धीरे धीरे दोनो ने सारे कपड़े निकाल दिए, अब मैं रिया की चुत चाट रहा था हालाँकि पापा के देखने की वजह से रिया का मूड नही था पर वो भी धीरे धीरे मज़ा लेने लगी मुझे रिया के साथ सबसे मज़ेदार पल लगता है जब मैं उसकी पुसी चाटता हूँ और वो ज़ोर से दबाती है और नीचे से उछालती है चूतड़ को.

मैं धीरे धीरे रिया के पूरे शरीर को सक कर रहा था और वो मचल रही थी, मैने रिया की चुत पर हाथ रखा वो गीली हो चुकी थी रिया ने कहा जल्दी करो या पापा का फिर से आने का इंतजार कर रहे, मैने भी देर ना करते हुए रिया की चुत मे लॅंड घुसा दिया.

अब धीरे धीरे मैं आगे पीछे कर रहा था मेरे हर धक्के के जबाब मे रिया भी अपना चूतड़ उछाल रही थी.

रिया – तेज़ तेज़ करो ना

मैं – तेज तो कर रहा क्या मशीन हो जाउ क्या.

More Sexy Stories  अपनी मम्मी की चुदाई

रिया – नही और तेज़ करो.

और तभी मैने अपना लॅंड चुत मे से निकाल लिया..

रिया – क्या हुआ निकाल क्यू लिया हो गया क्या तुम्हारा

मैं – नही

रिया – तो ????

मैं बेड के नीचे आ गया.

और उसकी भी दोनो टाँगे पकड़ कर कॉर्नर पर ले लिया..

अब उसकी दोनो टाँगे मेरे कंधे पर थी मैं बेड के नीचे खड़ा और मेरा लॅंड उसकी चुत मे फिर से, ऐसा करके एक फ़ायदा ये हुआ मेरा पानी जो निकलने वाला था थोड़ा और वक़्त मिल गया.

और फिर मैं धक्के लगाने लगा.

हर धक्के के साथ स्पीड बढ़ रही थी..

मैं – बस या और स्पीड मे चोदना है बोलो

रिया – करो ना जितनी स्पीड से कर सकते हो पुंछ क्या रहे हो…

मैं – साली तेरी चुत कभी जलती भी है की नही इतना तेज़ कर रहा अभी कम ही है…

रिया – तो करो ना बोलने लगते हो तो स्पीड कम कर देते हो इसीलिए अभी सिर्फ़ करो बात बाद मे करना.

तभी मैने एक बार लॅंड फिर चुत से खिच लिया, बिकाउझ ऩही तो मैं झड़ जाता

रिया – अब क्या हुआ

चल बेड पर ही करता हूँ..

और फिर से बेड पर आ गया और रिया की बूब चूसने चाटने लगा जिससे मुझे थोड़ा मौका मिल जाए..

रिया – करो ना पहले भैया.

बाद मे ये भी कर लेना

मैं – बहुत चुदासि है, रुक बताता हूँ

मैं उपर आ गया चुत और लॅंड दोनो गीले थे एक बार मे ही अंदर चला गया…

रिया- अब करो जल्दी से

रिया अभी भी मेरे सामने अडल्ट शब्द नही यूज़ करती जैसे लॅंड चुत चुदाई आदि शब्द वो संकेतिक भाषा मे ही बोलती है

एक बार फिर गाड़ी स्पीड पकड़ने लगी थी रिया चूतड़ उछाल उछाल कर हेल्प कर रही थी इसीलिए मुझे और मज़ा आ रहा था चुदाई मे

Pages: 1 2