कज़िन की बालो वाली चूत चुदाई की

हाय फ्रेंड्स, मैं विवेक 20 साल का हूँ फ्रॉम आहेमदाबाद. मैं इंजिनियरिंग कॉलेज में पढ़ता हूँ और मेरा लंड 6.5 इंच लंबा और 4 इंच मोटा है कोई भी आंटी या लड़की मज़ा करना चाहती हो या सेक्स अड्वाइस चाहती हो तो मैल करे. बेहन की चुदाई सेक्स स्टोरी

यह स्टोरी आप पढ़ रहे हैं देसी कहानी पर ऐसी और कहानिया पढ़े यहा.

अब स्टोरी पर आता हूँ. मेरे फॅमिली में चार लोग है मेरे पापा मम्मी और मेरी बड़ी बहन प्रियंका. जिसकी चुदाई का किस्सा मैं आपको बाद में बताउन्गा.

यह किस्सा लास्ट ईयर का है जब मैं अपने कॉलेज के फॉर्म भर रहा था. तो मुझे एक प्राइवेट कॉलेज का फॉर्म भरने जाईपुर जाना था. जाईपुर में हमारे रिलेटिव मेरे मासा मासी और उनकी बेटी श्रेया. मैं सोचा था की वो लोग छुट्टियों में यहा आएँगे फिर जाएँगे तो उनके साथ ही चला जाउन्गा.

थोड़े दिन बाद अचानक घर की डोर बेल बजी मैने खोला तो देखा श्रेया खड़ी है. श्रेया के बारे में आपको बता दूं वो उसकी उमर 24 साल है और वो जाईपुर के एक क्लिनिक में डॉक्टर है. में उसे बहुत साल बाद देख रहा था उसका फिगर मस्त हो गया था उसने एक लाल कुरती और जीन्स पहनी थी. .

उसका फिगर 34-30-36 था (उसने बताया बाद में) उस कुरती मेसे उसके बूब्स बहुत मस्त लग रहे थे उसने आते ही मुझे गले लगाया और उसके सॉफ्ट बूब्स मेरे चेस्ट से टकराए और मेरे लंड में हलचल हुई. उसने बताया की मासा और मासी को काम से देल्ही जाना पड़ा तो वो आ गयी.

हमने साथ खाना खाया बातें की फिर रात को सोने के टाइम हमारे घर में 3 बेडरूम है उसमे से मेरे और गेस्ट रूम का बाथरूक़ कनेक्टेड है. रात को मुझे पॉर्न देखने के बाद मूठ मारने का मन हुआ और मैं बाथरूम में चला गया हाथ में लंड लिए. जैसे ही मैं अंदर घुसा तो देखा श्रेया कपड़े चेंज कर रही थी..

उसे पता नही था इसलिए उसने लॉक नही किया था मेरा डोर उसने एक पिंक कलर की ब्रा और ब्लॅक पैंटी पहनी थी और मुझे देखते ही वो शॉक हो गई और मैं तो उसे देखता रह गया मेरा लंड बहुत टाइट हो गया था मैं उसे अंदर डाल के निकाल रहा था लेकिन मोटा होने की वजह से वो अंडरवेर में जा नही रहा था.

More Sexy Stories  सेक्सी बॉस की बीवी की गंद चुदाई

मैं यह कर रहा था उस पूरे टाइम श्रेया मेरे लंड को घूर रही थी मैं अपने लंड को काफ़ी क्लीन रखता हूँ हेयर ट्रिम्म्ड रखता हूँ. फिर मैं अपने कमरे में जाकर वेट करने लगा उसके निकलने का लेकिन मेरे मन मे उसके वो भारी बूब्स और प्यारे नेवेल की तस्वीर घूम रही थी. वो निकली और लाइट बंद की मैं तुरंत अंदर के डोर लॉक किया और श्रेया के नाम की मूठ मारी.

दूसरे दिन मम्मी ने मुझे श्रेया को आहेमदाबाद घूमने को कहा . उसका बिहेवियर मेरे साथ नॉर्मल ही था . हम लोग बाहर जाने के लिए रेडी हुए उसने एक पिंक स्लीवलेस टॉप और कॅप्री पहनी उसकी टाइट ब्रा और स्ट्रॅप उसमे से दिख रहे थे और क्या गॅंड थी मैं देखता रह गया. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

फिर मैं उसे बाइक पे बैठा के घुमाने ले गया और आहेमदाबाद घुमाया मैं स्टोरी में पड़ी ट्रिक आज़माई और ब्रेक मार की उसे मेरे पास लाया और उसके बूब्स फील किए. फिर रात को हम लोग घर आए खाना खाया और सोने चले गये मैने बाथरूम में देखा तो लाइट जली हुई थी मुझे लगा श्रेया कपड़े बदल रही है यह अछा मौका है उसे नंगा देखने का मैं डोर क्रॅक में से झाका वो अपनी ब्रा और पैंटी में खड़ी थी..

और उसका हात अपनी पैंटी में था और उसके हाथ में फोन था मुझे पता चल गया की शायद वो बीएफ देख के मूठ मार रही है फिर अचानक से उसने अपनी ब्रा खोली और क्या बताउ आपको बड़े क्यूट पिंक निप्पल और मोटे बूब्स हवा में फिर मन किया इन्हे पूरा निचोड़ दू और कुत्तो की तरह निप्पल काटु लेकिन मेरे बदक़िस्मती उसने ब्रा और कुरती को उस डोर क्रॅक पे लटकाया मेरा व्यू ब्लॉक हो गया.

More Sexy Stories  हॉट आंटी की गांड मारकर लाल कर दी

दूसरे दिन मैं उसके रूम में गया वो सो रही थी मैने उसका फोन लिया बीएफ कौनसी देख रही थी यह जानने के लिए. मैने उसकी गॅलरी खोली उसमे उसके न्यूड्स थे उसके बड़े बूब्स मोटी गॅंड और एक बात की वो अपनी चुत कभी शेव नही करती थी क्यूंकी हर पिक मे उसके चुत के बाल दिख रहे थे वो भी बहुत आछे और उसमे एक पिंक टाइट चुत. मैने वो पिक अपने फोन मे ली और जाके मूठ मारी .

यह स्टोरी आप पढ़ रहे हैं देसी कहानी पर ऐसी और कहानिया पढ़े यहा.

श्रेया उठ गयी और हम लोग ने नाश्ता किया और फिर अचनाक उसे किसी का कॉल आया और उसने मम्मी से कहा उसे अर्जेंट्ली जाना होगा जाईपुर कुछ डॉक्युमेंट्स का काम है. मम्मी ने उसे मुझे ले जाने को कहा और वो मान गयी और बोला टिकिट करवा के आ.

मैने टिकेट करवाई लेकिन वेटिंग मिली और स्टेशन पहुँच के भी वो कन्फर्म नही हुई थी इसलिए हम जनरल मे चढ़ गये उसमे बहुत भीड़ थी हम दोनो डोर के पास अपना समान रख के खड़े होगये श्रेया मेरे बिल्कुल आगे खड़ी थी और भीड़ की वजह से मैं कई बार उसपे गिर रहा था थोड़ी देर बाद उसने माइंड नही किया.
मैने अब जान बुझ के अपना लंड उसकी लेगिंग के उपर घिसने लगा पहले तो उसने फिर के मुझे एक लुक दिया और बोली तेरे जेब में कुछ चुभ रहा है निकाल दे मैने कहा कुछ नही है वो घुस्सा हुई उन्हे लगा मैं मस्ती कर रहा था उन्होने मेरे जेब में हाथ डाला और उसका हात मेरे लंड को लगा वो घहबराई और हाथ निकाल के वापिस खड़ी हो गयी.

Pages: 1 2