कॉलेज गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई

है, मैं कानू फिर से एक नयी कहानी के साथ और मैं आशा करता हूँ की मेरी पहली दो कहानियों की तरह आपको मेरी ये कहानी भी पसंद आएगी, प्लीज़ कॉमेंट ज़रूर करना मुझे आपके कॉमेंट्स का इंतज़ार रहेगा, अब ज़्यादा बोर ना करते हुए मैं सीधे कहानी पे आता हूँ, ये बात तब की है जब मैं कॉलेज मे था और अपनी ग्रॅजुयेशन कर रहा था दिखने मे मैं काफ़ी हॅंडसम हूँ रेग्युलर्ली जिम जाता हूँ मेरे बिल्ड देख कर कोई भी लड़की आसानी से फ्लॅट हो जाएगी, शुरू-शुरू मे जब कॉलेज मे थे तब तो लड़कियों मे ज़्यादा इंटरॅक्षन नही था, लेकिन जैसे-जैसे सीनियर ईयर मे पहुचते गये काफ़ी इंटरॅक्षन हो गया था, मेरी क्लास मे एक लड़की थी जिसका नाम कामिनी (नेम चेंज्ड) था, वो मेरे साथ फर्स्ट ईयर से थी और मेरे ही ब्रांच की थी इस वजह से काफ़ी इंटरॅक्षन हो गया था पहले से ही हमारा, जब हम सेकेंड ईयर मे पहुचे तो हमे फ्रेशर्ज़ ऑर्गनाइज़ करनी थी जो डिपार्टमेंट मुझे लेना था,

पता नही जानबूझ कर या फिर इतएफ्फक से कामिनी ने भी वही डिपार्टमेंट ले लिया और वो दिखने मे काफ़ी सुंदर थी बिल्कुल एक डॉल की तरह उसका फिगर 32,26,34 था, मेरे मन मे उसको लेकर पहले से ही फीलिंग्स थी लेकिन क्यूंकी हमारा इतना कोई खास इनटरेक्षन नही था तो मेरी कभी हिम्मत नही हुई उसे बताने की, लेकिन जब फ्रेशर्ज़ का टाइम आया तो हमे एक दूसरे को जानने का मौका मिला और हमारा इंटरॅक्षन बढ़ने लगा और धीरे-धीरे हमारी अछी ख़ासी फ्रेंडशिप हो गयी थी और उसने मुझे फ़ेसबुक पे रिक्वेस्ट भेजी फिर हम डेली ऑनलाइन बात किया करते थे और एक बार एक असाइनमेंट मे उसे मुझसे कुछ हेल्प चाहिए थी तो हमारे नंबर एक्सचेंज हुए, धीरे-धीरे हमारी फ्रेंडशिप काफ़ी बढ़ गयी थी हम एक दूसरे से सारी बाते शेर किया करते थे और फिर 14 फेब. का दिन आया, कॉलेज मे पार्टी थी और वाहा पे मोस्ट्ली सब कपल्स थे.

और उस दिन मैने सोचा की क्यो ना आज प्रपोज़ करू तो मेरे दोस्तो ने मुझे थोड़ी सी पीला दी जिसकी वजा मेरे मे थोड़ी हिम्मत आ गये, मैं उसके पास गया और उससे कहा की मुझे कुछ बात करनी है और मैं उसको साइड मे ले गया और उसको प्रपोज़ किया तो उसने मेरा प्रपोज़ल आक्सेप्ट कर लिया और फिर हम कमिटेड हो गये, हम रोज़ रात को फोन पे बात किया करते थे और एक दिन जब हम साथ मे बैठे थे तब उसके पेट मे दर्द हो रहा था तो मैने पूछा की क्या बात है, तो वो बोली की मुझे नही बता सकती तो मैं समझ गया की उसके पीरियड्स चल रहे है, मैने उसको समझाया की मुझसे नही शेर करोगी तो और किससे शेर करोगी तो थोड़ा हिचकिचाते हुए उसने मुझे बताया, अब हम एक दूसरे से पूरी तरह से सारी बाते शेर करने लगे और एक दिन मैने ऐसे ही उसे पूछ लिया की क्या तुमने कभी पॉर्न मूवी देखी है.

More Sexy Stories  ट्रेन मे मिले दो लंड

तो उसने कहा की बस एक दो बार ही देखी है और कभी ढंग से देखने को नही मिली तो मैने कहा की देखना चाहोगी, तो वो बोली हान लेकिन यहा हॉस्टिल मे नही देख सकती क्योकि उसकी रूम-मेट भी उसके साथ रहती थी, जल्द ही हमारे एग्ज़ॅम्स ख़तम होने वाले थे और हम सबको अपने-अपने घर जाना था तो मैने एक प्लॅन बनाया और मैने कामिनी को कहा की वो अपने घर पे कहे की उसके एग्ज़ॅम्स 4 दिन के लिए आगे बढ़ गये है, तो वो बोली ऐसा क्यू तो मैने पूछा की क्या तुम मेरे साथ थोड़ा अकेले मे टाइम स्पेंड नही करना चाहती तो उसने कहा की करना तो चाहती हूँ लेकिन कुछ गड़बड़ ना हो जाए, तो मैने कहा तुम बस हान करो बाकी मैं सब संभाल लूँगा तुम चिंता मत करो और उसने वैसा ही किया जैसा मैने उसे करने को कहा था, उसने अपने घर पे ये बताया की वो 4 दिन बाद आएगी और हम कॉलेज से एक साथ निकले मैने एक होटेल मे बुकिंग पहले से ही करा रखी थी.

वो मेरे दोस्त का होटेल था तो रूम मे पहुच कर वो फ्रेश होने चली गयी और मैने जब तक अपने लॅपटॉप पे पॉर्न वीडियो चालू कर दी और जब वो आई तो वो भी मेरे साथ देखने लगी, मैने पूछा क्या तुमने कभी सेक्स किया है तो वो बोली नही तो फिर मैने कहा करना चाहोगी बहोत मज़ा आएगा, उसने कहा देखा जाएगा बाद मे लेकिन जैसे-जैसे पॉर्न मे सेक्स बढ़ रहा था मुझे उसके चहरे पे एक चमक सी आती लग रही थी, मुझे लग रहा था की वो भी फील मे आ रही है तो मैने अपना हाथ धीरे-धीरे उसकी जांगो पे फिरना शुरू किया और धीमे से, वो शायद पूरी तरह से खो चुकी थी पॉर्न मे और मैं इसका फ़ायदा उठा के उसकी चुत तक पहुचा और मुझे कुछ गिल्ला सा महसूस हुआ तो मैं समझ गया की वो अब पूरी तरह फील मे आ चुकी है, तो मैने उसका मूह अपनी तरफ मोड़ा और उसे किस करने लगा पहले तो वो रेस्पॉंड नही कर रही थी.

More Sexy Stories  तीनो छेद में लौड़ा डालने का मजा मिला

लेकिन फिर तो वो जैसे पागल सी हो गयी और मेरा साथ देने लगी, मैं एक हाथ से उसके बूब्स दबा रहा था और उसे किस किए जा रहा था और मैने उसका टॉप निकाल दिया और उसके चुचे मुझे बुलावा दे रहे थे, मैं इनपर टूट पड़ा और उनको उसकी ब्रा से आज़ाद कर दिया और मैने उसे लिटा दिया और उसके उपर आ गया और उसके चुचे ज़ोर से दबा रहा था और चूस रहा था, वो तो जैसे पागल से होती जा रही थी और इसकी बीच मैने उसकी जीन्स का बटन खोला और अपना हाथ अंदर डाला तो उसकी पैंटी पूरी तरह से गीली हो चुकी थी, मैने उसकी जीन्स और पैंटी भी उतार दी और उसकी चुत से पानी टपाक रहा था, थोड़े-थोड़े छोटे-छोटे बाल थे शायद उसने कुछ दिन पहले ही शेव की थी और मैं उसकी चुत पे टूट पड़ा और ज़ोर से उसकी चुत चाटने, वो सिसकर्या ले रही थी और मैने अपने जीब जैसे ही उसकी चुत मे डाली वो मचल उठी और कहने लगी की अब मत तड़पाव और डाल दो.

Pages: 1 2