Chudai Sex Story Nisha Ka Nashila Badan

Desi Chudai Indian Sex Story Nisha Ki hot chudai हाय दोस्तों. मेरा नाम रोहन है. उमर 26. मैं मुंबई का रहने वाला हूँ. देसी कहानी मे ये मेरी पहली देसी चुदाई इंडियन सेक्स स्टोरी है. उम्मीद करता हूँ की ये स्टोरी आप सभी को बेहत पसंद आएगी. सेक्स मे मेरी बेहत ही ज़्यादा रूचि है.

अब तक मैं ने 4 लड़कियों के साथ सेक्स कर चुका हूँ. आज मैं अपनी ज़िंदगी की सबसे हसीन चुदाई के बारे मे बताने जराहा हूँ जो की एक 18 साल की लड़की के साथ की थी.

तो बात कुछ 1 साल पहली की है. मेरा एक दोस्त विशाल मुंबई पोलीस मे सब इनस्पेक्टर है. उसदीन मैं किसी काम से उसकी जीप्सी लेकर गया था. ग़लती से उसका आइडेंटिटी कार्ड उसमे रह गया था. तो मैंने उसको फोन करके बता दिया. उस्दीन वापस लौटते समय करीब रात हो रही थी.

रास्ते मे आते वक़्त एक सुनसान जंगल पड़ा. जब मैं जंगल क्रॉस कर रहा था तो मैने कुछ लोगों की हँसने की आवाज़े सुनी. तो मैने जानने के लिए अपनी गाड़ी उस गली की तरफ लेगया. वहाँ पे देखा एक छोटीसी कुठिया है. उस कुठिया से एक बल्ब की रोशनी आ रही है तो मैने उस कुठिया के खिड़की से झाँकके देखा तो मेरे होश उड़ गये.

उस कुठिया के अंदर 4 लड़के जिनकी उम्र 24 से 18 के बीच मे है और वो सभी नंगे थे और एक लड़की उम्र 18 साल की होगी. लड़की बिल्कुल नंगी लेटी हुई रो रही थी. उस लड़की का फिगर 34 26 34 होगा. ये देख के मेरा लंड खड़ा हो गया. मैने देखा एक लड़का उसका बूब्स चूस रहा है दूसरा उसके मूह मे अपना लंड घुसा रहा था तीसरा उसके चुत मे लॅंड डाल रहा था चौथा शराब पी रहा था. ये सब देख के मेरे मूह मे पानी आ गया.

तभी मैने आइडिया लगाया. मैं फ़ौरन जीप्सी के पास गया और विशाल(मेरा दोस्त जिसकी ए जीप्सी है)उसका आइडेंटिटी कार्ड निकाला. उसमे उसका फोटो निकालके मेरा लगा दिया. फिर मैं दरवाजे को धक्का देते हुए अंदर घुस गया. वो लोग सभी नशे मे टल्ली थे. मुझे देखते ही सभी चौंक गये. मैं बोला.. .

More Sexy Stories  फ्रेंड की मॉं को रंडी बनाया

मैं-मैं सब इनस्पेक्टर विशाल हूँ. ए क्या होरहा है. ए लड़की कौन है. कहाँ से लाए इसे. लगता है किडनॅप करके रेप की है तुम लोगों ने. अभी सभी को अरेस्ट करता हूँ फिर अकल ठिकाने आएगी. तो उनगों का नशा उतर गया. वो सभी मेरे पैरोंमे गिर गये बोलने लगे साहब हमने किडनॅप नही की. एक दलाल से 5000 मे खरीद के लाए है. प्लीज़ हमे छोड़ दो.

आइन्दा ऐसी ग़लती नही करेंगे. तभी मैंने बोला देखो भी सेक्स करना कोई बुरी बात नही लेकिन इस बच्ची को तो देखो 15 साल की मासूम बच्ची है तुम लोग दरिंदे की तरहा इसको नोच रहे थे. आइन्दा अगर सेक्स करना होतो कमसे कम 20 साल की उपर वाली लड़की को ही लाना. उन्होने बोला ठीक है साहब.

मैंने बोला ठीक है. मैं उस लड़की के पास गया. वो सहमाई हुई एक कोने मे नंगी बैठी थी. मैंने बोला इसका कपड़ा कहाँ हैं तो उन्होने कहा साहब जोश जोश मे फाड़ दिया. तो मैंने सभी को गाली दी और उन सबसे 10000 रुपया लिए और मेरे पास एक लोंग कोट गाउन था उसको लेके जब पहनाया तब वो खड़ी नही हो पा रही थी.

तो मैने अपने गोद मे उठा के जीप्सी मे बैठाया. और गाड़ी स्टार्ट कर चालदिया अपने घर के और. रास्ते मे रुका उसके लिए कुछ कपड़े लिए और कुछ खाने का भी. घर पौचे तो मैने कहा तुम्हारा नाम क्या हैं उसने अपना नाम निशा बताया और वो पूरा डरी हुई थी. मैने कहाँ डरने की कोई ज़रूरत नही इसे अपना घर समझो. उसने कहा ठीक है और तोड़ा मुस्कुराइ. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

जब वो नहाने के लिए उठी तो उठ नही पाई तो मैने अपने गोद मे उठाया और बाथरूम लेगया वहाँ पड़ी एक स्टूल पर बिठाया और उसका गाउन निकालने लगा तो उसने थोड़ा शरमाया. मैने बोला शरमाओ मत मुझे अपना समझो. जब मैने उसके गाउन उतारी मेरा लंड एक दम से बड़ा गया शायद उसने भी नोटीस किया.

More Sexy Stories  मेरी भाभी लंड की प्यासी

उसके बाद मैने उसे नहलाया. उसके चुत को हल्के हल्के से सहलाते हुए सॉफ किया. उसके बाद उसके गॅंड और बूब्स भी सॉफ किया. उस वक़्त उसकी आँखे बंद हो रही थी. वो पूरे मज़े ले रही थी. मन कर रहा था साली को अभी चोद दूं लेकिन फिर मैने सोचा थोडा और सबर करलेता हूँ. सब्र का फल मीठा जो होता है. उसके बाद मैं उसे टॉवेल से पोछा और उसको नंगा ही बाथरूम से बेडरूम तक लाया.

फिर मैने उसके चुत के सुझन मिटाने वाली लोशन लगाया. मैने जो रेड ब्रा पैंटी लाई थी उसको पहनाया क्या गजब लगरहि थी निशा. शॉट्स एंड टॉप जो मैं उसके लिए लाया था वो भी पहना. फिर हम लोग साथ मे खाना खाए और आराम से मैने निशा को बेड मे लेटाया और खुद सोफे मे सोगया.

करीब रात के 12 बजे निशा चीख के उठी. मैं भागते हुए उसके पास गया. मैने पूछा क्या हुआ उसने कहा की मुझे डर लग रहा है आप मेरे पास सोइए. मैं बोला ठीक है. फिर बेड के एक साइड मे मैं सोया दूसरी साइड मे वो. मैने देखा वो डरके मारे कांप रही है. तो मैने उसको अपने पास बुलाया और बाहों मे जाकड के बोला सोजाओ. जब मैने उसको अपने बाहोंमे जकड़ा तब ऐसा लगा की इसको अभी ही चोद दूं लेकिन अपने आप को कंट्रोल किया.
जब की मैने इसके पहले 5 लड़कियों को चोद चुका था लेकिन पहले कभी ऐसी फीलिंग नही आया. रात बढ़ रही थी उसको नींद नही आरही थी डरके मारे मुझे नींद नही आ रही थी क्यों की मुझे चुदाई की ज़रूरत थी. तो मैने उसको पीछले जिंदगी के बारे मे पूछा तो उसने अपनी कहानी बताई.

Pages: 1 2