छोकरी की नोकारी लगी मेरी लॉटरी

हेलो फ्रेंड्स, मेरा नाम राज है और मेरी उम्र अभी 22 साल है. मैं बहुत ही हॅंडसम हूँ और ये बात आप भी कहानी पढ़ कर समझ जाओगे की मैने ऐसा क्यू कहा है. खैर छोड़ो अब बस ये मैं बताना चाहता हूँ की आज जो कहानी आपको मैं बताने जा रहा हूँ वो सच्ची है.

जिसको पढ़ कर आपको बहुत मज़ा आने वाला है. पर कहानी इतनी जल्दी शुरू करके भी क्या फ़ायदा है. इसलिए पहले थोड़ा बहुत मेरे बारे मे भी जान लीजिए फिर मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलूँगा.

तो दोस्तो, जेसा की मैं हॅंडसम हूँ तो उसी तरह मुझ पर काफ़ी लड़कियाँ भी मरती है. पर मैं सच कहु तो मैने किसी के साथ भी कोई ऐसी वेसी बात नही करी है और ना ही इतनी गहरी दोस्ती पाई है.

तो दोस्तो अब मैं अपनी कहानी पर आपको ले कर चलता हूँ.

मेरी ये कहानी तब की है जब मैं एक कंपनी मे जॉब किया करता था. पर तब मेरी उस जॉब मे भी कुछ ना कुछ हो जया करता था. यानी की कभी किसी से लड़ाई हो जाया करती थी तो कभी कुछ हो जया करता था.

तो बस उसी की वजह से मेरी जॉब भी मुझसे छूट गयी थी. जिस टाइम मुझ से जॉब छूटी थी तो मैं बहुत उदास हो गया था और होता भी क्यू ना क्योकि मेरे पास कुछ नही था. मैं एक दम फ्री हो गया था. और बस इसी वजह से मैं सारा दिन परेशान ही रहता था.

मुझे कुछ समझ नही आता था की मैं करू तो क्या करू. बस फिर एक दिन मैं ऐसे ही बस स्टॉप पर बैठा हुआ था. अकेला बैठा हुआ था और परेशान भी हो रहा था की आख़िरकार ये क्या हो रा है.

तभी मेरी नज़र एक लड़की पर पड़ी जो की साथ वाले बेंच पर बैठी हुई थी और वो मुझे घूर रही थी. मैने भी उसे 10 सेकेंड तक देखा पर फिर अपनी नज़रे हटा ली क्योकि मुझे शर्म आने लग गयी थी.

More Sexy Stories  गाँव से शहर तक का सफ़र

तभी उस लड़की ने एक कागज मेरी तरफ फेंका. मैने उस कागज को उठाया और उसे खोल कर देखा तो उस पर उसका नाम लिखा हुआ था. उस पर लिखा हुआ था मेरा नाम आरती है और मेरा ये मोबाइल नंबर है और मैं तुमसे फ्रेंडशिप करना चाहती हूँ तो मेरे इस नंबर पर मेसेज करो.

मैने ये सब पढ़ कर उसको हेलो लिख कर अपना नाम बता दिया. फिर उसने मुझसे पूछा की तुम करते क्या हो.

मैं – कुछ नही बस अब मैं फ्री हूँ पहले जॉब किया करता था.

आरती- तो तुम न्यू जॉब की तलाश मे हो.

मैं – हाँ हूँ तो सही.

आरती – तो तुम मेरे लिए काम करोगे.

मैं उसकी ये बात सुन कर शॉक हो गया की आख़िरकार ये क्या कह रही है.

मैं – क्या मतलब. और आप मुझे कैसे जॉब दिलाओगे.

आरती – तुम्हे वो सब करना होगा जो मैं कहूँगी.

मैं धीरे धीरे उसको बात समझ रहा था की वो आख़िरकार चाहती क्या है.

मैं – ठीक है पर काम क्या है मुझे ये तो बताओ

आरती – तुम्हे बस मुझे खुश रखना होगा.

मैं उसके मूह से ये सब सुन कर पागल हो गया की आख़िरकार ये क्या कह रही है.

मैं – हाँ ठीक है मैं तुम्हे खुश करने को तयार हूँ. पर तुम बताओ की करना क्या है.

आरती – तुम बस आज रत को मेरे घर पर आजाना.

और फिर ये कह कर उसने अपने घर का अड्रेस्स मुझे सेंड कर दिया और फिर उसके बाद मैने भी उसके दिए हुए टाइम पर ठीक 9 बजे उसके घर के बाहर पहुच गया. वो गेट पर खड़ी हुई थी और ऐसे ही खड़ी थी जेसे की मेरा इंतेज़ार कर रही हो.

बस फिर उसके बाद मैं उससे मिला और उसने मुझे घर के अंदर चलने को कहा. और फिर मैं उसके साथ उसके घर के अंदर आ गया. अंदर आ कर उसने मुझे अपनी दादी से मिलवाया और उन्हे ये बताया की मैं उसका स्कूल फ्रेंड हूँ और हम एक साथ स्टडी करते थे. और अब फिर से परीक्षा आ गयी है तो फिर से एक साथ पढ़ेंगे.

More Sexy Stories  Dost Ne Maa Ko Jabardasti Choda

आरती ने ये सब अपनी दादी को बताया और मैने भी उनको नमस्कार करके आरती के साथ उसके कमरे मे चला आया. उसके इतने बड़े बंगलो से पता चल रहा था की वो काफ़ी रिच फॅमिली से बिलॉंग करती है.

फिर उसके बाद ऐसे ही बैठ कर ड्रिंक बनाना शुरू कर दिया और तब उसने बताया की उसके मा बाप यूएस मे रहते है और वो यहा पर अपनी दादी के पास रहती है. और उसे इंडिया बहुत पसंद है इसलिए वो यही पर ही रहना चाहती है.

फिर धीरे धीरे उसने ये भी बताया की उसके बॅंक अकाउंट मे 2 करोड़ पड़े है. जो की कभी ख़तम नही हो सकते है. फिर उसकी तो ये बाते चल रही थी. तो मैने भी तब अपना काम शुरू कर दिया. वो हमारे लिए ड्रिंक बना रही थी तो मैने उसे पीछे से पकड़ लिया.

उसे पीछे से पकड़ कर मैने उसके बूब्स को अपने हाथो मे ले लिया. मेरे ऐसे करने से वो कुछ नही बोली और फिर ऐसे ही उसने मेरी बाहो ने टूटना शुरू कर दिया. वो तो बस चाहती की मैं उसे वो खुशी दू जो की उसे चाहिए थी जो किसी और से मिल नही सकती थी.

तो बस फिर उसके साथ मैं ऐसे ही करने लग गया. अब मैं ऐसे ही उसके बूब्स को दबाने लग गया और साथ साथ उसका बना हुआ पेग पीने लग गया और उसे भी पिलाने लग गया. मेरे ऐसे करने से वो गरम हो रही थी और मुझे भी पागल कर रही थी.

Pages: 1 2