चाचियों की साथ ग्रूप सेक्स

हेलो दोस्तो, मैं मनीष आप सब के लिए अपनी पहली कहानी आज ले कर आया हूँ. मुझे उमीद है आप को मेरी ये कहानी पसंद आएगी. तो चलिए मैं टाइम खराब किए कहानी शुरू करता हूँ. दोस्तो मैं हारायना का रहने वाला हूँ. और मेरी फॅमिली एक जोनित फॅमिली है.

मेरी फॅमिली मे मेरे मम्मी पापा और दो चाचा चाची भी रहते है. दोनो के पास एक एक बचा भी है. मेरी बड़ी चाची नेहा के पास एक 15 साल का लड़का है. और छ्होटी चाची कोमल के पास 8 साल की एक लड़की है. मेरे दोनो चाचा पुंजब मे एक फॅक्टरी मे लगे हुए है. और वो दोनो 2 हफ्ते बाद ही घर आते है.

मैं दोस्तो कर्नल मे स्टडी करता हूँ इसलिए विन पर रहता हूँ. मैं घर मे तभी आता हूँ जब मैं अपने एग्ज़ॅम दे कर करीब 2 महीने के लिए फ्री हो जाता हूँ.

मैं दोस्तो बीटीये डून की मैं पहले ही अपनी दोनो चाची की चूत मार चुका हूँ. और दोनो के बहोत मज़े ले चुका हूँ. जितनी बार मैने उन दोनो को चोदा है. उतनी बार तो मेरे दोनो चचायो ने अपनी अपनी वाइफ को कभी न्ही चोदा होगा.

मेरे लंड का साइज़ 8 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है. इस लिए दोनो की दोनो चाचिया मेरे लंड के उपर फिदा है. मैं जब छाए अपनी दोनो मे से किसी भी चाची को झन मर्ज़ी चोदा देता था.

दोस्तो मैं बीटीये डून की मेरी दोनो चाचिया सच मे बहोट ही मस्त है. अब मैं आप को उन दोनो की खूबसूरती को आपको बहोट डीटेल मे बटुंग. ताकि आप जान सके उन दोनो मे अभी भी कितना जवानी का रस्स भरा हुआ है. जिसे मैं हर रोज तोड़ा तोड़ा चूस चूस कर पिता हूँ.

More Sexy Stories  सन्डे के दिन कामवाली की जमकर ठुकाई

बड़ी चाची नेहा की मैं पहले बात करता हूँ. उनकी उमर 34 साल है और 15 साल का एक लड़का होने के बावजूद वो इतनी जवान है. की उनको देख कर कोई भी कहेगा की ये अभी 26 या 27 साल की है. रंग गोरा चेहरा ऐसा की अब देखते ही जाओ.

उनके मस्त लाल लाल होंठ बस देखते ही चूसने का दिल करता था. तोड़ा नीचे चला जाए तो गोल गोल मस्त बूब्स जो हमेशा से उनकी सारी का ब्लाउस फाड़ने को बेकरार रहते थे. थोड़ी मोटी कमर पर सेक्सी थी. उसके नीचे मोटे मोटे चुत्तर चाची के तुमको पर मे लंड खड़ा हो जाता था.

मेरी छोटी चाची कोमल सच मे बहोट कोमल है. उसको चुचे ही ऐसा लगता था मानो मैने किसी गुलाब के सॉफ्ट के फूल को छू लिया हो. कोमल चाची बहोट सेक्सी है. उनकी उमर 30 साल है पर वो दिखने मे 22 या 24 की जवान लड़की लगती है.

एक लड़की होने के बाद उन्होने अपना मस्त फिगर काफ़ी ज़्यादा मेनटेन र्खा हुआ है. कोमल चाची के जिस्म मे 3 चीज़ें सच मे बहोट ही खर्टनक है. एक तो उनकी नाशली आँखें और बूब्स और उनके चुटटर. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ र्हे है.

कोमल चाची के बूब्स नेहा चाची से छूटे थे. पर उनके बूब्स एक सुडोल और सेक्सी थे. ऐसे ही उनकी पतली सी कमर के नीचे गोल गोल छोटे पर बहोट ही सेक्सी चुटटर. जिसे मैं आते जाते ही अपने हाथो से मसलता र्हेता था. मैं आज तक जब भी कोमल चाची से सेक्स किया है मैं उनके चुटटरो को हर बार चटा है. क्योकि एक उनके बूब्स और चुटटर दोनो एक जेसे है बहोट ही ज़्यादा सॉफ्ट है दोनो.

मेरी दोनो चाची है भी पड़ी लिखी हुई है. इस लिए वो दोनो बहोट चालक है और उन्हे आचे से टा है की अपने पति को केसे संभालना है. वो दोनो अपने फिगर और अपनी खूबसूरती का पूरा धान र्खती है.

More Sexy Stories  विधवा को बनाया अपनी रंडी

इस लिए उन्होने पूरे गाओं के लड़के अपने पीछे लगाए हुए है. पर मैं किसी को चाची की तरफ देखने भी न्ही देता. और ना ही मेरी दोनो चाची किसी और की तरफ देखती है. और दोनो मुझे अक्सर कहती है की जब घर मे ही 8 इंच का जवान लंड हो तो बाहर मूह कला क्यो करना.

इस बार जब मैं अपने एग्ज़ॅम देकर घर आया तो मेरे दिन काफ़ी आचे चल र्हे थे. मैं रात को मोका देख कर अपनी दोनो चाचियो को बरी बरी से छोड़ देता था. पर मेरा दिल दोनो को एक साथ छोड़ने का था.

एक दिन की बात है मैं जब उठा तो मैने देखा की मम्मी घर पर है न्ही और पापा अपने काम गये हुए है. मैं किचन मे गया तो मैने देखा की मेरी दोनो चाची खाना बना र्ही है. मैं चुपके से किचन मे गया और नेहा चाची को पीछे से अपनी बाहों मे भर लिया. उनके चिकने पेट पर मेरे दोनो हाथ थे.

नेहा चाची पीछे मूडी और मुझे 20 सेकेंड की लीप किस करके बोली उठ गया मेरा राजा. इतने मे कोमल चाची बोली मनीष कोई आ जाएगा जाओ तुम यहन से. ये सुनते ही मैने नेहा चाची को चोरदा और भाग कर पीछे उनके दोनो बूब्स ज़ोर से पकड़ लिए और दबा दिए. जेसे ही चाची मुझे डाँटने के लिए पीछे देखने लगी. तभी मैने उनके होंठो को भी अपने होंठो मे लिया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लग गया.

Pages: 1 2 3