चचेरी बेहन पूजा की चुदाई

हेलो, मैं आपका दोस्त अंकित आपके आयेज फिर से हाज़िर है. मेरी उमर 27 साल है और मेरे लंड का साइज़ 7 इंच लंबा है. मैं दिखने मे बहोट हॅंडसम हूँ और मुझ पर तो काफ़ी सारी लड़किया मारती है. वेसए मारे भी क्यो ना आख़िरकार मैं हूँ ही इतना सुंदर और हॅंडसम.

अब तो मुझे ये सब चीज़ो की आदत सी हो गयइ है. या तो ये कहे की अब मुझे ये सब पसंद आने लग गया है. वैसे ये तो जीवन की एक फिज़िकल नीड है जो की पूरी करनी ही पड़ती है पर हाँ इसमे मज़ा इतना आता है की आप यकीन न्ही कर सकते

और जिन लोगो ने इन सबका मज़ा लिया है वो तो आचे से जानते ही है की कितना मज़ा आता है. सेक्स एक ऐसी चीज़ है जो की मज़े ही मज़े देती है.
चलो ये सब तो मैने थोड़ा बहोत आपको बताया ही है पर अब मैं आपको थोड़ा अपनी कहानी पर भी ले चलता हूँ जिसका मैं आपको आगे जीकर करूँगा. मेरी ये कहानी 6 महीने पहले की है.
मेरी फॅमिली मे मम्मी पापा और मेरी एक बहेन है जिसका नाम आशा है. आशा और मुझमे सिर्फ़ 2 साल का ही फ़र्क है और वो मुझसे बड़ी है. मेरी बहेन मुझसे बहोत प्यार करती है और ये भी है की मैं भी बहोत ही ज़्यादा प्यार करता हूँ.
मेरी बहेन दिखने मे बहोट खूबसूरत है और उस पर काफ़ी लड़के मरते भी है. पर सच बोलू तो मैने अपनी बहेन की लाइफ मे ज़्यादा इंटेरफारे करना पसंद नही करता हूँ. क्योकि मैं ये जनता हूँ की हर किसी पर्सनल लाइफ भी होती है.
चलो ये तो मैने थोड़ा बहोत अपनी बहेन के बारे मे बता दिया. अब मैं आपको थोड़ा अपने मम्मी पापा के बारे मे बता देता हूँ. मेरे मम्मी पापा बहोत ही मॉडर्न है और दोनो ही जॉब करते है. और दोनो हुमारे साथ घूमने भी जाते है और हम वाहा पर खूब मस्ती करते है.
हम सब एक साथ डिन्नर पर भी जाते है और काफ़ी एंजाय भी करते है. वैसे मेरी एक और बहेन भी है जो की मेरे चाचा जी की लड़की है. अब जब बात बाहर आई है तो चाचा जी के बारे मे बात बता देता हूँ. मेरे चाचा चाची भी बहोत ही अच्छे है और वो हमसे बहोत प्यार करते है. आज कल के जमाने मे खास कर किसी की बनती न्ही है पर रब की दुआ से हुमारे बीच ऐसा कुछ न्ही है. मेरा जब भी मान होता है तो मैं चाची पास चला जाता हूँ और जब भी मान होता है घर चले आते है.
ये सब तो मैने बता दिया दिया है, चलो अब मैं अपनी चाचा जी की लड़की पर आता हूँ. मेरी बहेन का नाम पूजा है और उसकी उमर मेरी जितनी ही है और इसी वजह से हुमारी बहोत बनती भी है.
वो पड़ायी के लिए घर से गई हुई थी यानी की वो बाहर स्टडी के लिए गोआ गई हुई थी. मुझे उससे मिले काफ़ी टाइम हो गया था और मैं उससे मिलने जो बेकरार भी था. क्योकि मैं ये भी जनता था की उसे भी मिलने का भी मान कर रहा है और फिर वो जल्दी से स्टडी ख़तम करके घर को आ गई.
पूजा आज पूरे 8 महीने बाद घर को आ रही थी और मैं भी उससे मिलने को बेकरार था. जब वो घर आई तो मैं उसे देखता ही रह गया. क्या मस्त पटका लग रही थी. मैं तो उसे देखते ही उस पर फिदा हो गया था और बस एक आँख से देखी जा रहा था. उसको जितना देख रहा था उतना ही और देखने का मन कर रहा था.
पूजा का फिगर भी बहोट ही मस्त हो गया था. 32-28-34 का फिगर था और उसने जीन्स टॉप डाल रखा था और बालो की स्मूतिंग करा रखी थी और पैर मे हील डाल रखी थी जिसमे वो बहोत ही मस्त लग रही थी.
वो घर पर आकर सबसे मिलने लग गई और मैं भी उसे मिलने चला गया तो वो मुझे इतने टाइम बाद देख कर मुझे गले पा ली. तब मुझे उसके बूब्स टच होने लग गये और मैं उसके बूब्स के टच होने का मज़ा लेने लग गया.
इस बीच मैने उसके साथ बैठ कर खूब सारे बाते मरने लग गया और खूब मस्ती भी करी. हम काफ़ी समये बाद मिले थे तो हम दोनो काफ़ी बाते करने लग गये और एक दूसरे से काफ़ी कुछ शेयर करने लग गये. ऐसे ही 2 दिन निकल गये और मेरा मान उसको चुदाई का करने लग गया. मैं उसके काफ़ी क्लोज़ होने लग गया और मोके की तलाश करने लग गया. फिर एक दिन रब ने भी मेरा साथ दिया और मेरे कमरे का वॉशरूम का टॅप कराब हो गया और मेरे रूम मे पानी भर गया.

More Sexy Stories  Gaon Ki Ladki Ko Ghodi Bana Ke Choda

Pages: 1 2 3