कार मे की भाभी की चुदाई

हेलो दोस्तो मुझे उमीद है आप सब ठीक होंगे और जम कर चुदाई कर रह होंगे. मैं आप का दोस्त राकेश आज एक बार फिर से अपनी सच्ची घटना ले कर आया हूँ. मेरी आज की ये हिन्दी कामुकता स्टोरी मेरी अपनी जिंदगी की एक सच्ची घटना के उपर है.

ये स्टोरी मेरी और मेरे ब्रदर इन लॉ की वाइफ (मेरी भाभी) की चुदाई की है. यह बात कुछ 2 वीक पहले की है. मेरी मॅरेज को अभी 5-6 मंत्स हुए हैं. मेरी भाभी का नाम ऋतु है आंड वो थोड़ी चब्बी है. 36-34-38. हर एज ईज़ 28. कुछ दिन पहले मेरी वाइफ अपने मायके गयी हुई थी और भाभी जम्मू आई हुई थी. मेरी जॉब जम्मू मैं है और मेरा ससुराल उधमपुर .
मैने शाम को वापिस जाना था तो वाइफ ने कहा की प्लीज़ भाभी को उनके घर से पिक कर लेना. मैंने ओक कहा और भाभी को कॉल किया. जब उन्होने कॉल उठाया तो उनकी सास फूली हुई थी. तो मैने पूछा
मै – कहाँ हो. साँस क्यों चड़ी है.

भाभी – कुछ नहीं और हसी.

मै – बताओ कोई प्राब्लम है क्या.

भाभी – मैं आपको नहीं बता सकती जीजू.

मैने ऐसे ही कह दिया भाई साहिब श्रीनगर गये हैं तो हॅंड यूज़ कर तो नहीं रही.

भाभी – हाँ आपने क्या करना है.

मैं – गेट रेडी अट 6.00 पीयेम उ हॅव तो गो वित मी फिर रास्ते मैं बताऊंगा मैने क्या करना है.

भाभी – अच्छा जी देखते हैं.

भाभी ने फोन कट कर दिया.
मुझे लगा शायद भाभी आज दे देगी. अगर दे दे तो मज़ा आ जाए. जाने से पहले मैने कोहिनूर कॉंडम का पॅकेट लिया .

मैं ऑफीस से निकलते निकलते लेट हो गया. 6.30 बाज गये. डस्टेन्स 65 किलो मीटर का है .

गाड़ी चली और सिटी से बाइयेपस रोड पर आकर मैने पूछा भाभी क्या हुआ आपने मुझे कॉल कर लेना था.

More Sexy Stories  पड़ोस की सेक्सी वाली भाभी

भाभी – कब

मैं – मैं हेल्प कर देता शाम को. खुद से मज़ा आता है.
भाभी – पेरेंट्स घर पर थे. कभी बुला कर देखूँगी आपको भी.

मैने बड़े स्लो से भाभी की लेग पर हाथ रखा तो भाभी बोली. ऐसे मत करो यह ग़लत है मै आपकी भाभी हूँ.

मै; भाभी तो मेरे ससुराल मैं हो यहाँ पर तो कुछ भी हो सकता है.

भाभी शर्मा गयी और बाहर देखने लगी. मेरा लंड खड़ा हो चूका था. भाभी का हाथ पकड़ा और मेरे लंड पर रखा. मेरी तरफ देखे बिना लंड दबाने लगी. मै समझ गया अब तो पक्का लेगी मेरा लंड. मैने अपनी पैंट की ज़िप ओपन करी और लंड बाहर निकाला.
तो भाभी एक दम से मुझे बोली गाड़ी रोको. मैने गाड़ी रोकी तो बोली वाउ यह तो उन से भी बड़ा है. उनका तो छोटा सा है. यह कहते ही भाभी ने लंड मुह मैं ले लिया और सक करने लगी. वाउ मज़ा आ गया

मैने भाभी तो कहा लेट्स फक ऑन वो कुछ नहीं बोली. मैने 4-5 बार पूछा. तो बोली ओक पर जल्दी करना और कहाँ करेंगे. मेरी तो लॉटरी लग गयी थी.

मैने हाइवे से गाड़ी एक लिंक रोड पर उतार ली जो नगरोटा से हो कर जाती है. नो ट्रॅफिक ऑन ठात रोड. मैने गाड़ी रोकी और भाभी का फेस अपनी साइड टर्न किया और भाभी के लिप्स पर किस करना शुरू किया. 2 मीं बाद भाभी साथ देने लगी.
मैने भाभी की टंग को भी किस किया और हम मस्त हो गये थे, मैंने उनके बूब्स दबाई और फिर हाथ उनकी सलवार के अंदर पैंटी मैं डाल दिया , उनकी चूत गीली हो गयी थी. चूत को सहलाते टाइम भाभी मचल रही थी.

अब तो गरम हो गयी थी पूरी. मैने भाभी की शॉर्ट्स उठाई और उनको गोल गोल बूब्स को चूसा निपल पर कट किया. भाभी बहुत गरम हो गयी थी. और बोली जीजू अब और मत तड़पाव प्लीज़ फक मी. मैने टीज़ करने के लिया पूछा क्या. बोली अपना लंड मेरी चूत मैं डाल दो प्लीज़ अब.
मैने भाभी को सलवार उतार कर बॅक सीट पर आने तो कहा. भाभी ने भी सलवार खोली और पीछे चली गयी मैने विंडो खोली और अंदर गया और भाभी की लेग्स स्प्रेड कर के लिकिंग शुरू की 3-4 मिनिट बाद भाभी ने पानी छोड़ दिया अपना लंड बाहर निकाला और सक करवाया.

More Sexy Stories  रोमांटिक हनीमून शिमला में

थोड़ी टाइम बाद मैं गाड़ी से नीचे उतरा और मैने भाभी को विंडो के पास पुल किया. क्या मस्त चूत थी. एक किस की चूत पर कॉंडम निकाला और लंड पर चड़ा कर भाभी की चूत पर थूक लगाई. लंड का टोपा भाभी की चूत मे मसला.

भाभी बोली अब डालो भी जान लोगे मेरी क्या? फिर मैने स्लोली लंड भाभी की चूत मैं घुसाया. शी वाज़ क्राइयिंग. बाहर निकालो. मैने लंड अंदर बहबार करना शुरू किया.
इन आउट भाभी मज़ा ले ने लगी अहह जीजू चोदा ह चोदा आहह तेज़्ज़्ज़ टेक्सज़्ज़्ज़्ज़ मैने एक दम स्पीड बड़ाई तो उन्हे मज़ा आने लगा तो कहने लगी चोदा चोदा आ आह ह अहह. पूरी गाड़ी मैं पूछ पूछ की साउंड आ रही थी. मैने झट से. उठा और सीट पर बैठा और भाभी मेरे लंड पर आ कर बैठ गयी. अब पूरा मज़ा ले कर उपर नीचे होने लगी.
मुझे मज़ा आ रहा था. और भाबी कराह रही थी. कुल 20 मीं चुदाई की और मैं झड़ गया. भाभी ने मुझे सीट पर बैठाया और भाभी मेरा लंड चूसने लगी.

फिर मैने भाभी को गांड के लिए कहा तो माना कर दिया पर बोली अगर मौका लगा तो घर पर डोंगी.

Pages: 1 2