70 साल के बूढ़े से नंगी होकर मसाज करवाई

मेरा नाम मीना है और मैं 45 साल की हूँ. मैंने अपनी फेमली के साथ गुडगाँव में रहती हूँ. मेरा कलर घेहूँआ है और मेरी हाईट 5 फिट 8 इंच है. मैं देखने में खुबसुरत हूँ, मेरा फिगर 40D 34 -44 का है. मैं बड़े और कर्वी साइज़ की औरत हूँ. मेरे शोल्डर्स चौड़े है, कमर भी. और गांड और दूध भी काफी बड़े बड़े है. जैसे की शादी के कुछ सालों के बाद औरतो का फिगर होता है वैसा मेरा भी फिगर है. मेरी थाईस और हिप्स भी एकदम मोटी है. मैं कैसी दिखती हूँ ये सब आप सब समझ ही गए होंगे. मैं इस उम्र में भी सेक्स की बड़ी भूखी हूँ और मुझे एक्सपेरीमेंट करना अच्छा लगता है. ये बात आज से करीब एक साल पहले की है. मैं ओल्ड एनसेस्ट्रल विलेज में अपनी प्रॉपर्टी को देखने जाती थी. और कुछ दीन वही पर रहती थी. कभी कभी मैं और मेरे हसबंड दोनों ही जाते थे और कभी कभी मैं अकेली ही जाती थी. मैं वहां पर अपने बड़े फ़ार्महाउस में टाइम बिताना पसंद करती थी. मेरे हसबंड के पास टाइम कम ही होता था तो तो अपने काम से वापस सिटी जल्दी आ जाते है. मेरे विलेज में एक बूढ़े रिटायर्ड बार्बर रहते है जिनका नाम रमेश है. वो करीब 70 साल के है और बार्बर का काम छोड़ चुके है. वो मेरे घर आते रहते है क्यूंकि वो बहुत अच्छा मसाज करते है और मेरे हसबंड उनको पैसा देते है. उस दिन रमेश अंकल शाम को घर आये. करीब 8 बज रहे थे.

वो मेरे हसबंड का मसाज करने आये थे पर वो नहीं थे तो मैं अंकल से बोली की अब तो वो वापस चले गए. ये सुन कर वापस जाने लगे तभी मेरे मन में एक ख़याल आया. मैंने उनको रोक लिया और शर्म से उनसे मसाज करने के लिए बोला तो वो बोले ठीक है मैं कर दूंगा और उनकी फ़ीस भी देने के लिए राजी हो गए. मैंने अंकल से बोल दिया की मेरे हसबंड को कुछ नहीं बताना. वो मान गए. मैं उस दिन काम से काफी थक गई थी और रमेश अंकल के मसाज की तारीफ़ भी मैंने बहुत सुनी थी. रमेश अंकल से मुझे कोई डर नहीं था क्यूंकि मैं उनको जानती थी और मुझे पता था की अब उनका लंड खड़ा होना बंद हो चूका और वो बिना वाएग्रा की शायद ही कुछ कर सकते है. मैं उनसे अपने लेग्स और शोल्डर नेक की मालिश के लिए बोली और उनको रूम में ले गई. और मैंने उन्हें अब मेरा मसाज करने के लिए बोला. नोकरानी घर में ही बगल के कमरे में इसलिए मैंने उन्हें कहा की चुपचाप मालिश करना अंकल.

More Sexy Stories  साली को छोड़ना सिखाया और रात भर चोदा

वो समझ गए और रूम में जा के निचे फ्लोर पर एक मेट्रेस बिछा दिया और मैं पीछे से ही अपनी साडी उतर के आ गई और ब्लाउज और ब्रा को भी उतार दिया. मैं अपने दूध पे पेटीकोट को ऊपर कर के बढा लिया. अंकल सीधे बोले आप यहाँ लेट जाओ. और अंकल ने मेरे दूध को सपोर्ट देने के लिए दो पिलो लगा दिए जिस से मेरे दूध पिलो के बिच में आ गए और मैं पेट के बल पीठ को आकाश की तरफ कर के लेट गई. अंकल चुपचाप मेरे ऊपर बेक और शोल्डर्स पे आयल रब करने लगे. मुझे उनके हाथ से आराम मिल रहा था. अंकल हाथ मेरे स्किन और मसल को बड़ा आराम दे रहे थे और उनके हाथ अभी भी स्ट्रोंग थे. उनकी पावर से मुझे बड़ा अच्छा लग रहा था. अब वो मेरी अपर बेक को मालिस करने लगे और उनके हाथ साइड और आर्मपिट हर जगह रब हो रहे थे. वो मुझे मसाज करते हुए इधर उधर की बातें भी धीरे धीरे कर रहे थे.

फिर अंकल लेग्स का मसाज करने लगे और उनके हाथ ऊपर निचे होने से मेरी पायल आवाज करने लगी तो वो बोले इसको मैं खोल कर देखता हूँ, आवाज कर रही है और फिर वो मालिश करने में लग गए. उनके हाथ कभी जल्दी तो कभी धीरे धीरे चल रहे थे और मैं सुख में डूब चुकी थी. वो मेरे लेग्स की घुटनों तक मालिश कर रहे थे. थेंक गॉड मैंने अंदर पेंटी पहन रखी थी वरना उनको मेरी चूत भी दिख जाती. पेटीकोट काफी ऊपर आ चूका था, वो मेरी फिट पर फिंगर्स को बड़े ही अलग तरीके से आयल से रब कर के घुमा रहे थे. मुझे अलग ही सुख मिल रहा था. मेरा तो मन हो रहा था की मैं पेटीकोट भी उतार दूँ और वो अपने पॉवरफुल हाथों से मेरी लोअर बेक और थाई को भी रब कर दे रहे थे. मैं शर्म से बोल ना पाई. मैंने अपने हसबंड को बस फ्रेंची में फुल मसाज लेते हुए देखा है. कुछ देर बाद वो मेरा मसाज कर के रुक गए और बोले क्यूँ? अभी और कर दूँ? वो लोअर बेक पे पेटीकोट पर हाथ रख के बोले कमर का भी कर दूँ क्या?

More Sexy Stories  शादी में मामी ने मुस्लिम लंड लिया

मैं बोली नहीं अब बहुत आराम है. आप के हाथो में जादू है. मैं अभी वैसे ही लेटी थी तो वो बोले आप मुझसे मत शरमाओ, मेरा तो काम ही यही है. आप को कैसा ही मसाज करवाना है तो बोल दो बस मेरे को. मैं उठ के बैठ गई और पेटीकोट खुल गया तो दूध को हाथ से छिपाते हुए बोली और भी कोई मसाज होता है जिसमे औरत चरम आनंद पर चली जाती है? वो बोला आप दूध का मसाज करवा क देखो आराम ना मिले तो कहना. मैं बोली की दूध का किस लिए. तो वो बोले की आप को पैन इसलिए है क्यूंकि आप के दूध बड़े और भारी है. मैं हु कह कर हाँ बोली.. वो बोले आप दूध की मालिश करवा लो तो आप को आराम मिलेगा. मैं शर्म से बोली पर आप ये सब किसी को बताना नहीं. उनके मजबूत हाथ से मुझे बड़ा ही आनंद और आराम मिला था. वो बोले नहीं नहीं आप भी ना बोलना किसी को आप जैसा कहोगी वैसा मसाज कर दूंगा. तो मैंने कहा आप जांघ और दूध दोनों का मसाज कर दो.

Pages: 1 2 3