बाय्फ्रेंड ने मुझे रंडी बनाया

सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

ही मेरा नाम स्नेहा है. ये मेरी पहली स्टोरी है. वैसे मैं आपको अपने बारे मे बता देती हू मैं बहुत ही चुदकड लड़की हू. मुझे पैसो से बहुत प्यार है.

ये स्टोरी मेरे ,मेरे बाय्फ्रेंड और उसके दोस्तो की है. कैसे पैसो की लालच मे मैं रंडी बन गयी. सो एंजाय दा स्टोरी. ये 5 महीने पहले की घटना है मैं क्लास 12 मे पढ़ती हू और दिखने मे काफ़ी हॉट हू. मेरा फिग 34-32-34 हे गोरा बदन. मैं ड्रेस काफ़ी शॉर्ट पहनती हू.

मुझे पढ़ाई मे बिल्कुल मन नी लगता था. मुझे बाय्स मे काफ़ी इंटेरेस्ट था. इसलिए मैं एक बाय्फ्रेंड बना ली थी. उसका नाम सचिन था. वो काफ़ी रिच था और बहुत पैसे उड़ाता था. हम अक्सर स्कूल से बंक मार कर पार्क घूमने जाते थे.

एक दिन सचिन बोला की कल स्कूल से बंक मार कर होटेल चलेंगे. मैं पूछी क्यूँ तो वो बोला की मज़े करेंगे. मैं समझ गयी. मुझे भी सेक्स मे इंटेरेस्ट था. लेकिन मैं उसको मना कर दी. तो वो बोला की एक अछा सा स्मर्टफ़ोने गिफ्ट करूँगा. मैं मान गयी.

हम दोनो अगले दिन स्कूल से बंक मारकर एक होटेल पहुँचे और सचिन वहाँ कमरा बुक कर चुका था. तब सचिन बोला चलो पहले शॉपिंग कार्लो. मैं खुश हो गयी. हम दोनो मार्केट चले गये और वो मुझे एक फोन दिलाया. और मेरे लिए ड्रेस भी लिया.

मैं बहुत खुश थी और फिर वो बियर की बॉटल लिया और फिर हम दोनो होटेल आ गये होटेल आते ही वो बोला जाओ कपड़े चेंज कार्लो मैं वॉशरूम मे जाकर कपड़े चेंज कर ली. बहुत मस्त ड्रेस था. वो रेड कलर की शॉर्ट स्कर्ट और वाइट कलर की टी-शर्ट लाया था. मैं पहन कर बाहर आई तो वो बोला की बियर पियोगी.

More Sexy Stories  पहला सेक्स एक्सपीरियंस जिगलो बनने का

मैं बोली नी तो वो ज़िद करने लगा तो मैं मान गयी. 2 पेग पीने के बाद नशा चड़ने लगा तो वो मुझे किस करने लगा. मैं बोली क्या कर रहे हो तो वो बोला की प्यार कर रा हू. और मेरे बूब्स दबाने लगा मैं गरम होने लगी थी.

वो एक हाथ से मेरे बूब्स दबा रहा था और ज़ोर से किस भी कर रहा था. अब मैं पूरी तरह गरम हो चुकी थी. तब वो मेरी टी-शर्ट निकाल दिया और ब्रा भी उतार दिया और मेरी स्कर्ट भी उतार दिया. और पनटी के उपर से ही मेरी चूत रगड़ने लगा. मैं पूरी तरह गरम हो रही थी. ऐसा लग रहा था की जैसे मेरे अंदर कोई गुदगुदि कर रहा हो.

फिर उसने मेरी पानटी भी उतार दी और अब मैं उसके सामने बिल्कुल नंगी थी पहली बार किसी ने मुझे नंगा किया. फिर उसने अपने सारे कपड़े उतार दिया और मुझे लंड चूसने बोला.

मैं तुरंत तैयार हो गयी उसके लोलीपोप को चूसने लगी और खाने लगी फिर वो मुझे लेटने बोला मैं बेड पे लेट गयी और वो मेरे उपर आ गया और मेरी चूत पे लंड रगड़ने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. मैं तड़प रही थी.

मैं बोली डालो ना क्या कर रहे हो वो लंड डालने लगा पर अंदर जा नि रहा था वो एक ज़ोर का झटका दिया और आधा लंड मेरी चूत के अंदर चला गया. मेरी चीख निकल गयी और बहुत दर्द हुआ.

मैं उसे रुकने बोली पर वो नी माना और ज़ोर से धक्के दे दिया. उसका पूरा लंड मेरी चूत के अंदर चला गया. मुझे तो ऐसा लगा जैसे की किसी ने मेरे चूत के अंदर हतोडा डाल दिया.

मैं ज़ोर से चीखी अया अया आ अया आ आअहज अया अया आ अया आ आ वो थोड़ा रुका और फिर धीरे धीरे अपना लंड अंदर बाहर करने लगा अब दर्द थोड़ा कम हो गया और मुझे मज़ा आने लगा. और थोड़ी देर बाद वो झड़ गया और वो मेरे उपर ही सो गया.

More Sexy Stories  मेरी बुआ की लड़की की चुदाई

थोड़ी देर बाद मैं उठी और उसके लंड को आच्छे से चूस चूस कर सॉफ कर दी और हम लोग लेट गये. फिर बातों ही बातों मे सचिन बोला स्नेहा तुझे बहुत सारे पैसे चाहिए? तो मैं बोली वो कहाँ से आएगा वो बोला मेरे पास एक तरीका है लेकिन अगर तुम मना नही करोगी तो मैं बताता हू मैं मान गयी.

वो बोला तुम मेरे दोस्तो के साथ सेक्स करोगी तो मैं तुम्हे बहुत सारे पैसे दिलवा सकता हू. पहले तो मैं मना की लेकिन पैसो की बात सुनकर तैयार हो गयी. तब वो बोला की कल मेरे साथ आना. मेरा एक दोस्त है शोयिब उसके फ्लॅट पे चलेंगे वहाँ दो लड़के और होगा.

तुम्हे मज़ा भी बहुत आएगा और पैसे भी मिल जाएँगे. मैं बोली ओके. दोपहर 2 बज चुका था हम दोनो होटेल से निकले और मैं घर आ गयी. मैं सोच रही थी की चार चार लंड एक साथ कितना मज़ा आएगा और पैसे भी मिल जाएँगे. मैं खुश थी और कल का वेट कर रही थी.

सुबह हुई तो मैं स्कूल ड्रेस पहन कर रेडी हो गयी ताकि घरवालो को शक ना हो. बस स्टॉप पे सचिन खड़ा था बाइक के साथ मैं पीछे बैठ गयी और फिर फ्लॅट पहुँच गये. वहाँ पहुँची तो देखी तीन हटे कटे लड़के थे.

शायद मेरा ही वेट कर रहे थे. मुझे देखते ही वो लोग खुशी से उच्छल पड़े एक बोला क्या मस्त माल है. फिर एक लड़का एक नोट का गड़ी ले कर आया और बोला कपड़े उतारो. उनकी आँखों मे हवस सॉफ दिख रा था. और मेरी आँखों मे पैसो की हवस.

Pages: 1 2