भाभी के साथ दही स्नान

हाई, युवर रिहान ईज़ बॅक वित अनादर सूपर हॉट स्टोरी बिट्वीन मी & माय भाभी, ये स्टोरी है मेरे और मेरी भाभी के बीच कैसे हम दोनो ने दही स्नान किया उसके बारे मे, फिर मैं अपनी मॉम से बोला की मैं जा रहा हू, तो वो कहने लगी जा बेटा अपना ख़याल राखियो और मैं घर से भाभी के घर की तरफ के लिए निकल पड़ा, थोड़ी दूर जाते ही मैने भाभी को फोन करा की मैं आ रहा हू तो खुश होकर कहने लगी जल्दी आओ तुम्हारे बिन रहा नही जाता, फिर मैने रास्ते से 3 किलो दही ले ली और चल दिया, और थोड़ी सी देर मे मैं उसके घर पहुच गया, मैने डोर बेल बजाई और उसने नीचे आकर के दरवाजा खोला और मैं उसे देखता ही रह गया वो बिल्कुल लाल कलर की सारी पहने हुए थी, बिल्कुल नहाई धोइ होटो पे लाल कलर की रेड लिपस्टिक ये सब देखकर तो वैसे ही मेरा लॅंड खड़ा हो गया, और उसने अपना एक हाथ बढ़ाया और कहने लगी आओ मेरे साजन आप उपर बैठो मैं जीने की कुण्डी लगा कर आती हू.

फिर मैं उपर जाकर उसके बेडरूम मे बैठ गया और वो थोड़ी देर मे उपर आई, और आते ही मेरे पैरो के पास बैठ गयी और कहने लगी क्या आदेश है मेरे स्वामी, मैं हस पड़ा और उसे कहने लगा ये आज क्या हो गया है तुम्हे, तो वो कहने लगी आज हमारी सुहागरात है ना स्वामी फिर मैने उसे उठाया और उसके लाल लाल होटो को ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा, और एक हाथ उसकी सारी मे डालके उसकी चुत मे उंगली करने लगा वो अब फुल गरम हो चुकी थी, बहुत ही तेज़ तेज़ सिसकारिया लेने लगी थी वो, अहह अहहू अहह अहह अम्म्म्मम अम्म्म्म अम्म्म्म अम्म्मह आआआअ उअह्ह्ह्ह्ह उूुुउउ उूुुउउ उउउउह आआआ आआआ करके फिर मैने उसकी सारी खोली और फिर पेटिकोट फिर ब्लाउस और अंत मे उसकी ब्रा भी उतार फेकि, अब वो मेरे सामने पूरी नंगी थी और मैं तो देख कर हैरान रह गया उसकी चुत पर एक भी बाल नही था, जब मैने उसकी चुत पर हाथ फेरा तो बड़ा अछा सा लगा मैने कहा सुबह तो बहुत बड़ी बड़ी झाँटे थी तुम्हारी चुत पर तो वो कहनें लगी आज मेरी सुहाग्रात है ना इसलिए मैने झाँटे सॉफ कर ली जिससे मेरे साजन और भी ज़्यादा खुश हो जाए.

More Sexy Stories  गर्लफ्रेंड की गॅंड दोस्त ने मारी

उसकी ये सब बाते सुनकर मैं और भी ज़्यादा मेरा लंड टाइट हो गया मैं पागलो की तरह उसे चूमने लगा उसके होट तो आज कुछ ज़्यादा ही मीठे लग रहे थे, मैं उसके होटो को बड़ी ज़ोर ज़ोर से चूसे जा रहा था जिससे पूछ पूछ की आवाज़ पूरे कमरे मे गूँज रही थी, अब मैने भी धीरे धीरे अपने सारे कपड़े उतार दिए और मैने भाभी की गॅंड के नीचे दो तकिया लगा दी जिससे उसकी फूली हुई चुत उपर को आ गयी, अब मैं नंगा ही उठा और उसकी चुत के दोनो मुहाने को अपने हाथो से खोला और पूरी जीभ अंदर डालकर उसकी चुत चाटने लगा जिससे वो और भी पागल होकर इधर उधर उछल रही थी, और सिसकारिया तो अब और भी तेज़ तेज़ निकल रही थी अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह आह हह हम्म एम्म्म एम्म एम्म्म म्‍म्मह एयायाया उअह्ह्ह्ह्ह उूुुउउ उूुउउ उउउउउह आआआ आआआ करके, फिर मैं उठा और किचन मे गया जो मैं दही लेकर आया था उसे ले आया और उसके पूरे बदन पर गिरा दी वो कहने लगी क्या कर रहे हो मैने कहा बिल्कुल चुप बस देखती रह, फिर मैने सारी दही उसके बदन पे लगा दी.

और फिर उसे चाटने लगा जिससे वो और भी ज़्यादा पागल हो उठी, थोड़ी सी दही बच गयी थी मैने उससे कहा ऐसे करके अपनी चुत खोलो फिर उसने अपने हाथो से अपनी चुत का मूह खोला और एक चम्मच लेकर मैने वो दही भाभी की चुत मे भर दी, दही एकदम ठंडी ठंडी थी जिस वजह से जैसे वो मैने भाभी की चुत मे डाली तो उसने एक ज़ोर से सिसकारी ली आआआआअ अहह अहह आअहह अहह आहह आहह आअहह और पलंग की चद्दर को अपने हाथो से खिचने लगी, फिर मैने उसको चाटना स्टार्ट किया और पहले उसकी आँखो पर से फिर उसके माथे पर से फिर उसके होटो पर से उसके होटो पर मैने ज़्यादा टाइम लगाया क्योकि एक तो उसके गुलाबी होट और उपर से खट्टी दही सेक्स का मज़ा ट्रिपल कर रही थी, फिर उसके चुचे फिर उसके पेट पे जब मैने चाटना स्टार्ट किया तो उसने मेरा सिर पकड़ कर दबाने लगी और कहने लगी आई लव यू, मत तरसाओ कुछ करो ना प्लीज़ मैं पागल हुए जा रही हू मेरी चुत की आग तुमने बहुत ज़्यादा बड़ा दी है.

More Sexy Stories  उपर वाली आंटी की चुदाई

फिर धीरे धीरे मैने उसका पूरा बदन चाटा और अंत मे जब उसकी चुत का नंबर आया तो जैसे ही मैने उसकी चुत मे जीभ डाली मैं आपको शब्दो मे नही बता सकता उसकी सिसकारी कितनी तेज़ निकली एक तो खट्टी दही और उसकी चुत से निकलता पानी दही को ज़्यादा ही खट्टा बना रहा था, फिर मैने उसे पलंग के सहारे खड़ा किया और मैं नीचे आ गया जिससे उसकी चुत अब बिल्कुल मेरे मूह सामने थी, वो पलंग पर खड़ी थी और मैने उसकी दोनो टांगे चौड़ी करी और उसकी चुत को खोलकर दोनो उंगलिया डालकर उसकी चुत को खोल के उसकी चुत चाट चाट के उसकी चुत से सारी दही चट कर दी, अब वो इतनी वासना मे भर चुकी थी की खुद ही अपनी उंगली अपनी मे अंदर बाहर करने लगी और चिल्लाने लगी अहहह अहहह अहह अहह करके, अब मैने भी सोचा देर करना बेकार है और अपना लंड अपने हाथ मे पकड़ के हिलाया और उसकी दोनो टाँगो को अपने कंधे पर रखा और एक ज़ोर का धक्का मारा और पूरा का पूरा लंड उसकी चुत के पानी से गीला होने के कारण एक ही झटके मे अंदर चला गया.

Pages: 1 2