अल्लहाबाद की सेक्सी रानी की चुदाई

हेलो फ्रेंड्स. मैं फिर से आ गया हू एक और हॉट स्टोरी आप सभी से शेयर करने. ये स्टोरी कुछ ही डेज़ पहले की है. सो फ्रेंड्स आप लोगो ने लास्ट की 5 स्टोरी पसंद की. उसके लिए दिल से थॅंक्स. और मैने कैसे विएनएस की एक स्टोरी रीडर को सॅटिस्फाइड किया. ये मैं नेक्स्ट स्टोरी मैं बताउन्गा. सो आप लोगो को ज़्यादा बोर ना करते हुए स्टोरी पे आता हू. सो फ्रेंड्स मेरा नाम गौरव है. एज 22. और मैं वाराणसी मे रहता हू. यहा से स्टडी कर रहा हू. और मैं बिलॉंग मुंबई से करता हू. सो फ्रेंड लास्ट स्टोरी जो थी महानगरी ट्रेन मे मिली माया. ये उनकी एक फ्रेंड के साथ हुई फक स्टोरी है. माया अब यहा से दूर शिफ्ट हो गयी है अपने हब्बी के साथ. जैसा की आप लोग जानते ही है की मुझे शक करना बहुत पसंद है.

सो स्टोरी स्टार्ट होती है. मार्च से . रात के करीब 9 बज रहा होगा. मुझे उन्क्वोन नंबर से कॉल आया. आई पीक द कॉल. मैं- हेलो. रिप्लाइ आया- क्या ये गौरव का नंबर हैं मैने कहा एस मैं गौरव बोल रहा हू. आप कोन मॅम? मेरे आदत है मॅम बोलने की. तो उन्होने बस आपसे बात करनी थी. मैने कहा बट आप हो कौन? और कहा से बोल रहे हो? तब रिप्लाइ आया की मेरा नाम राधिका सिंग है. और मैं आलाहाबाद से हू. मैने कहा बोलिए मॅम. आपने मुझे कैसे फोन किया. फिर क्या था. हमारी बाते होने लगी. और हम एक दूसरे को आछे से जानने लगे. हम काफ़ी क़म समय मे ही एक दूसरे के करीब आ गये थे.. उसकी लव्ली वॉइस का तो मैं दीवाना ही हो गया था.उन्होने बताया वो मॅरीड है और उनका एक बेटा 9 ईयर का हैं. और उनके हज़्बेंड जॉब करते है. ज़्यादा तर आउट ऑफ स्टेशन रहते है. कभी कभी मैं उन्हे फोन पे किस भी करता था.

एक दिन हमने वीडियो कॉल किया. भाई क्या बताउ क्या गोरी लड़की थी. यार. मानलो की कोई अप्सरा हो. बहुत गोरी थी यार. एज 36 की रही होगी बट वो 36 की लग नही रही थी. क्या मस्त फिगर था 36.28.34. फिर हमने मिलने का प्लॅन बनाया. उन्होने बोला फ्राइडे को उनके हज़्बेंड बाहर जा रहे है. तो मैं सॅटर्डे अर्ली मॉर्निंग बस पकड़ के अलाहाबाद निकल गया. करीब 11 बजे मैं अलाहाबाद बस स्टॅंड पे वो मुझे पिक करने आई. अपनी कार से. हम एक होटेल मे गये. वाहा मैने रूम लिया. हम रूम मे गये . मैं फ्रेश होकर. हमने बाते की. फिर उन्होने ऑर्डर किया हमने खाना खाया. फिर मैं उनके करीब गया उन्हे किस किया. फिर मैं उनके गर्दन गाल और लीप पे 10 मिनट तक किस करता रहा. सारी मे क्या कमाल लग रही थी. और मैं टॉवेल मे ही था. कुछ पहना भी नही था. मैने उनकी सारी उतारी. फिर ब्लाउस और फिर उनका पेटिकोट.

More Sexy Stories  Desi bhai bahan ki hot sex kahani

अब वो सिर्फ़ ब्रा और पैंटी. मे थी. इतनी गोरी की मन कर रहा था बस देखता जाउ. फिर उसके बुब्स को प्रेस करने लगा. और किस करने लगा. फिर उन्होने मुझे पलटाया और टॉवेल खोल कर मेरे लंड को सक करने लगी. मैं तो एक दम माददमस्त ही हो गया. करीब 10 मिनट सक करने के बाद मेरा माल निकल गया. फिर मैं उनके ब्रा को खोल के उनके बुब्स को चूसने लगा. और पैंटी उपर से सहलाने लगा. वो आआआआआ हह इसस्सस्स की साउंड निकाल रही थी. फिर मैने उनकी पैंटी निकाली और उनकी चुत के महक सूँघकर मैं पागल ही हो गया. फिर मैं उनकी चुत को सक करने लगा. और उन्होने मुझे अपने पैरोसे दबा दिया था. और मेरे सिर को कस के दबाए हुई थी. मैं उनकी चुत को पागलो की तरह चाटते जा रहा था. वो आआआआ हह. की साउंड निकाले जा रही थी.करीब 20 मिनट चाटने के बाद उनका माल निकल गया.

फिर उन्होने बोला अब और ना तडपा साले अब डॉल भी दे बहुत दिन से प्यासी हु. मिटा दे आज मेरी प्यास. मैं बस मेरी जान मिटा रहा हू तेरी प्यास को. फिर अपने टाइट लंड को चुत पे सहलाने लगा वो तड़प रही थी. फिर मैने एक कस के ज़ोर का झटका दिया पूरा अंदर चला गया. और मैं उसे ठोकने लगा. वो फक मी फक मी…. चिल्ला रही थी. ए.सी के बावजूद मैं पूरा पसीने से डूब गया था. करीब 20 मिनट मे उसके अंदर ही झड़ गया. फिर मैने उसे किस किया और उसके बुब्स को चूसा. फिर हम बाते करने लगे. उसने बोला की माया ने तुम्हारे बारे मे सच ही बोला था. की तुम अपने आप मे ही यूनीक पिक हो. मैने बोला मैं हू की नही ये नही पता. बट जो अछा लगता है उससे ज़रूर करता हू. फिर मैं उसे 1 बार और ठोका. फिर मैं उसके उपर ही सो गया. क्योंकि मैं रात भर का जगा हुआ था. और सुबह ट्रॅवेल करके.. आया भी था. जब मैं उठा तो मैने देखा वाहा कोई नही है. सिर्फ़ मैं हू. फिर मेरा ध्यान टेबल की तरफ गया. मैने देखा की वाहा पर एक पेपर और पैसे पड़े हुए है “सेक्सी रानी”.

More Sexy Stories  झाड़ियों के पीछे दोस्त की बहन की चूत में उंगली डाला

मैने पैसे गिने तो 5 थाउज़ंड निकले. फिर पेपर मे लिखा था. थॅंक्स मुझे खुशी देने के लिए. मुझे नही पता इससे तुम्हारी कमाई कहु या अपना प्यार. बस जो समझ के रखना हैं रख लो. और अगली बार आना तो कुछ नया ट्राइ करेंगे. अभी के लिए थॅंक्स. बाइ हीरो. फिर मैं फ्रेश हुआ. उसे कॉल किया बट नंबर स्विच ऑफ बता रहा था. फिर मैं होटेल से चेकाउट किया. उसने वो भी बिल भर दिया. कुछ बोलने का मौका ही नही दिया. सो फ्रेंड्स ये थी मेरी स्टोरी. कभी सोचा नही था की आया था जिस सिटी मे पढ़ाई के लिए. उस सिटी मे मैं एस्कॉर्ट बन जाउन्गा. मैं आज एक प्ले बॉय की तरह हो गया हू. पार्ट टाइम अब यही मेरा वर्क सा हो गया है.

Pages: 1 2

Comments 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *