साली को छोड़ना सिखाया और रात भर चोदा

Saali ko sex sekhaya aur raat bhar choodaa

Saali ko sex sekhaya aur raat bhar choodaaहेलो दोस्तो, मेरा नाम राहुल है। मेरी शादी हो चुकी है। मेरी शादी हमारे पडोस के शहर की एक लड़की के साथ हुई थी। शादी के टाइम मेरी एक छोटी साली थी। जो ग्रेजुएशन के तीसरे साल में पढ़ रही थी। शादी के बाद मैं अपनी बीवी से बहुत खुश था। हम दोनों बहुत मस्त सेक्स करते थे, कोई टाइम बाउंड नहीं था, दिन रात सुबह शाम जब मन करे सेक्स करते थे और हम दोनों बहुत ही खुश रहते थे। ऐसे ही हमारी शादी को तिन साल हो गये और मेरी बीवी अब प्रेग्नेंट हो गई और ७ महीने बाद अपने मायके चली गई थी।

अब मैं घर पर अकेला रहता था और तडपता रहता था। फिर मेरी नजर गई मेरी साली पर जो मेरे शहर में ही एक हॉस्टल में पढ़ रही थी, उस की फिगर ३२-२८-३० की थी, वह बहुत शर्मीली टाइप की लड़की थी, सिर्फ मेरे से कुछ खुल कर बात करती थी बाकी दूसरों से ज्यादा बात नहीं करती थी। उसकी दिदि के चले जाने के बाद हम दोनों रोज बात करते थे और एसएमएस भी किया करते थे, वह गाने की बहुत शौकीन थी तो में उसे अच्छे टाइप के सॉन्ग और नेट से डाउनलोड नयी मूवी देता था, अब धीरे धीरे मेरे दिमाग में कुछ और आया।

मैं कुछ सेक्स स्टोरीज साली जीजा वाला और पोर्न फोटो और फिल्म दूसरा फाइल में देने लगा और उस के साथ को बातों बातों में उसे पूछता था कि क्या यह फाइल देखी है तुमने? फिर उस ने बातें करते करते वह फाइल खोली और देखी और कहां की छि जीजू कीतनी गंदी फोटो हे तो मैंने बोला कि आगे देखो और अच्छा फोटो है, फिर मैं मेरा और उस की दीदी की कुछ सेक्स कहानी उस को बताने लगा, धीरे धीरे उस को फ्लर्ट करने लगा, एक दिन रात को उस से बात करते करते वह बोली की जीजू आप को अकेले अच्छा नहीं लगता होगा? तो मैं बोला तू रात को घर क्यों नहीं आ जाती रात को बात करेंगे।

वह मान गई और हॉस्टल में बोल कर आई कि मेरी दीदी प्रेग्नंट स्टेज में है उसे हेल्प करने के लिए जीजू के घर जाऊंगी, किसी को कोई शक नहीं हुआ और शाम को मेरे साथ घर आ गई। शाम को हम खुद खाना बनाएं और उस की किचन में हेल्प की। दोनों खाना खा कर बातें करने लगे, इधर उधर की बातों बातों में हमने पूछा कि तेरा कोई बॉयफ्रेंड है क्या? तो उस ने कहा की नहीं हे। तो फिर मैंने उसे बातों बातों में सेक्स की बातें पर ले गया और वह भी इंटरेस्ट ले कर पूछने लगी सेक्स क्या होता है?

फिर मैंने अपना लैपटॉप निकाला और उस को एक एक क्लिप दिखाने लगा और समझाने लगा, अभी वह थोड़ा चुप होने लगी, फिर मैंने बहुत पूछा तो उस ने बताई की क्या सच में लड़के का यह अंग को लड़की लोग अपने मुंह में लेती है? मैंने समजाया तेरी दीदी भी मेरा लेती है और वह भी बड़े प्यार से और शौक से। फिर मैंने उस का डर तोड़ने के लिए बोला कि यह फिल्म में लड़कों का हथीयार इतना बड़ा होता है सच में नहीं होता हे। और मैंने पूछ लिया तुमने ओरिजिनल नहीं देखा क्या? तो वह बोली कहां से देखेंगे? मैंने पूछा तुम देखना चाहोगी क्या? तो यह सुन कर वह एकदम चुप हो गई, मैं भी डर गया शायद वह अपनी दीदी को ना बता दे, और मुझे उसे चोदने का आज बहुत मन कर रहा था, फिर वह बाथ रुम चली गई और आ के बोली जीजू मेरे को नींद आ रही है।

तो मैंने बोला तू अकेली सोएगी तो तुजे डर लगेगा, इसीलिए तू मेरे साथ ही सो जा, तो वह मान गयी और सो गई, मैं ड्राइंग रूम में और कुछ ब्लू फिल्म देख कर मेरे रूम में आया सोने को, रूबी सो गई थी लेकिन उसकी ब्रेस्ट बहुत सेक्सी लग रही थी और जांघे इतनी मदमस्त दिख रही थी, मैंने देखा रूबी को नींद आ गई थी, मैंने पहले तो उस के बूब्स को दिल खोल कर देखा, मेरा दिल कर रहा था उसके मोटे मोटे बूब्स को अभी के अभी नंगा कर दू।

फिर मेरे दिमाग में एक प्लान आया। मैंने अपनी लुंगी में से अंडरवेयर को निकाल दिया और मेरी लुंगी को ऊपर इस तरह से किया कि उसे लगे की मेरी लुंगी नींद में ऊपर हो गयी हो और में सीधा लेट गया, मेरा लंड पूरा खुला हुआ था, मे यह सोच रहा था कि रूबी का ध्यान मेरे लंड पर कैसे जाए? मैंने अपना हाथ रूबी के ऊपर इस तरह से डाला के उसे लगे की मैं सोया हुआ हूं, मेरा हाथ जैसे ही रूबी पर पड़ा रूबी ने पटक से मेरी तरफ देखा, मैं आंख बंद कर के लेटा हुआ था, उसे लगा कि मैं सो रहा हूं, फिर उस की नजर मेंरी लूंगी पर पड़ी और अचानक वह बैठी हो गई, और मैं चुपचाप उसे देख रहा था, उस की नजर मेरे लंड पर थी जो खड़ा नहीं था, वह मेरे को ऐसे देख रही थी जैसे उसे खा जाएगी, मैं इंतजार कर रहा था कि वह मेरे लंड को टच करें और वह खड़ी हुई और रूम के बाहर चली गई, मैंने सोचा उस को बुरा लगा होगा, मेरा प्लान फेल हो गया।

More Sexy Stories  काजल की नौकर से चुदाई की सेक्सी कहानी

मेरी यह सोचते सोचते ही आँख लग गयी थी। थोड़ी देर बाद अचानक मुझे ऐसा लगा कोई मेरे लंड को सहला रहा है, मैंने आंख को खोल कर देखा तो रूबी मेरे पास लेटी हुई मेरे लंड को आहिस्ता आहिस्ता अपने कोमल हांथो से सहला रही थी और उस की नजर भी मेरे लंड पर थी। अब तो मेरी नींद उड़ चुकी थी, यह पूरा मौका था रूबी को चोदने का। अब मेंने एक करवट बदली और अपना हाथ रूबी के बूब्स पर रख दिया तो रूबी ने अपना हाथ मेरे लंड पर से हटा लिया, मैंने भी अब धीरे धीरे उस के बूब्स को प्रेस करने लगा, वह आंख बंद कर के लेटी थी और मैं उसके और करीब हो गया और जोर से उस के बूब्स को दबाया उस के मुंह से अहह हू हहह उऔउ हहह की आवाज निकली।

अब मेरी हिम्मत बढ़ रही थी, मैंने अब एक हाथ रूबी के टी शर्ट में डाला और उस के बूब्स को प्रेस करने लगा, उस के मुंह से आह्ह औऊ अह्ह्ह औऊ इह हां औउ ओह हहह की आवाज निकलने लगी, मैं समझ गया था कि वह अब मुड में आ रही है। अब में धीरे धीरे रूबी के उपर लेट कर उसे किस करने लगा, उस के गुलाबी होंठ बहुत रसीले लग रहे थे, बहुत देर तक मैंने उस के होंठो को चूसा, फिर मैंने उस का टी शर्ट ऊपर किया और उस ने पिंक कलर की ब्रा पहनी थी, उस में से उस के बोबे बहुत खूबसूरत लग रहे थे। अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा था, मैं चाहता था कि उसे पूरा नंगा कर के उसके जिस्म को अच्छी तरह करीब से देखु, और उस के साथ खेलू। मैंने उस का टी शर्ट उतार कर अलग कर दिया वह आंखें बंद कर के लेटी रही और कुछ भी नहीं बोली।

फिर मैंने उस की कमर में हाथ डाला और उस की ब्रा का हुक खोल कर उस के बूब्स को ब्रा से आजाद कर दिया, उस के गोरे गोरे बूब्स और उस पर पिंक कलर की निपल बहुत खूबसूरत लग रही थी, मैंने अपने दोनों हाथ उस के बूब्स पर रखे और दबाने लगा, रूबी को भी मजा आ रहा था उस के मुंह से आह औउ हहह अय्य्य अह्ह्ह ओह हहह अह्ह्ह अम्म्म अह्ह्ह उह हहा येस्स और आ हहह उएस्श हहह की आवाजे निकले जा रही थी, उस को दबाते दबाते अब में उन को चूसने लगा, उस से रूबी को बहुत मजा आ रहा था, वह मेरा सिर पकड़ कर अपने बूब्स के उपर दबा रही थी, बहुत देर तक मैंने उसकी बूब्स को चूसा फिर मैंने उस का पजामा उतार दिया उस ने पिंक कलर की मैचिंग पेंटी पहनी थी, मैंने उसे भी उतार दिया। अब उस की चूत मेरी नजरों के सामने बिल्कुल करीब थी। उस पर काले बाल थे, मैंने उस की चूत पर अपना हाथ रखा तो रूबी सिहर उठी, उस की वह गुलाबी गुलाबी चूत क्या मस्त लग रही थी।

मैंने अपनी एक फिंगर उसकी चूत में डाली तो वह बहुत टाइट थी, मैंने थोड़ी ताकत लगा कर अपनी फिंगर को अंदर बाहर करने लगा, वह अब मजे से पागल हो गई थी, वह बस अहह औऊ ओह अहह हुह अह्ह्ह हो अहह ह होऊ आह्ह की आवाजे निकाले जा रही थी, फिर मैंने अपना बनियान निकाला और अपनी लुंगी को भी निकाल दिया। मेरा लंड टाइट हो चुका था और वह पूरे जोश में था, रूबी की नजर मेरे लंड पर थी जो ७ इंच लंबा और ३ इंच मोटा है। अब मैं रूबी के ऊपर सीधा लेट गया और उस के होठों को चूसने लगा और बूब्स को प्रेस करने लगा, वह मदहोश हो चुकी थी मैंने उस के दोनों पैर पकड़ कर ऊपर कीये और उस के पैरों के बीच में बैठ गया। वह समझ गई कि मैं क्या करने वाला हूं? उस ने मुझसे छुड़ाने की कोशिश की और उस ने मेरा हाथ पकड़ लिया। मैंने कहा क्यों क्या हुआ? रूबी अपनी नजरे नीचे कर के बोली नहीं यह मत करो, मुझे डर लगता है। मैं उसके करीब लेट गया और उस से बोला क्या हुआ रूबी? तुम्हें क्या डर लगता है?

वह बोली की आप प्लीज नीचे कुछ मत करो, मुझे डर लग रहा है, मैं उससे फिर पूछा किस बात का डर है तुम्हें? उस ने बताया मेरी सहेलिया कहती है कि इस काम में बहुत दर्द होता है और आप का तो इतना मोटा और बड़ा है, मुझे बहुत दर्द होगा और कही में प्रेग्नेंट ना हो जाऊं? यह काम बहुत रिस्की है। मैंने कहा तुम्हारी सहेलियों ने यह नहीं बताया कि इसमें कितना मज़ा आता है, वह बोली हां कह रही थी दर्द होता है पर मजा बहुत आता है। मुझे डर लग रहा है कहीं कुछ ना हो जाए। आप का बहुत मोटा और बड़ा है, मैंने उसे समझाया देखो जितना मोटा और बड़ा होता है उतना ही मजा ज्यादा आता है और हां दर्द की बात, शुरू में दर्द जरूर होता है, पर मजा भी आएगा। और मैं भी धीरे से डालूंगा जिस से तुम्हें दर्द कम होगा। वह बोली पर कहीं मैं प्रेगनेंट हो गई तो? मैंने कहा कि उस की तुम फिकर मत करो उसके लिए मार्केट में दवाइयां मिलती है। फिर उस के होठों को चूसते चूसते दूसरी तरफ आ गया। अब मैं उसकी चूत को चूसने लगा, वह मजे में पागल हो रही थी, उसे बहुत मजा आ रहा था, उसके मुंह से आह अय्य्य अह्ह्ह इःह इह हहह अन्न हहह इह अहह अम्म एस हहह बस्स्स हहह यययय बस्स अह्ह्ह्ह आवाजे आने लगी।

More Sexy Stories  छोटे भाई को चूत चोदना सिखाया

फिर मैं उस के दोनों पैरों के बीच में बैठ गया और उस के पैरो को ऊँचा कर दिया और अपने लंड का सुपाड़ा उस की टाइट चूत पर रख दिया, वह आंख बंद कर के लेटी रही, मैंने थोड़ा जोर लगाया तो रूबी चिल्ला उठी, प्लीज छोड़ दो मुझे बहुत दर्द हो रहा है, मैं उठा और पास ड्रेसिंग टेबल पर वेसलिन की डबी रखी थी वह ले आया। रूबी से कहा इस से आराम से अंदर चला जाएगा और तुम्हें दर्द भी नहीं होगा, वह पहले तो वो मना करती रही फिर मेरे समझाने से मान गयी।

मैंने थोड़ा वेसेलिन ले लिया पहले अपने लंड पर अच्छी तरह से लगाया और फिर उस की चूत को खोल कर उसमें थोड़ा सा डाला और ऊपर से उसे अच्छी तरह से अंदर तक लगाया, अब उसकी चूत बहुत चिकनी हो गई थी। मैंने अब उस की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और अपने लंड का सुपाड़ा उस की चिकनी चूत के होल पर लगाया और थोड़ा जोर लगाया। मेरा सुपाड़ा उस की चूत में चला गया, रूबी ने अब अपने दोनों हाथों से तकिए को जोर से पकड़ लिया, शायद वह भी तैयार थी दर्द को सहन करने के लिए, फिर मैंने एक जोर का झटका मारा, उस की चीख निकल गई उस की आंखों से आंसू बहना शुरू हो गये। वह कहने लगी प्लीज इसे बाहर निकालो बहुत दर्द हो रहा है, मुझ से यह दर्द सहन नहीं होता। मैंने अपना लंड वही रहने दिया और उसे समझाया अभी तुम्हें मजा आने लगेगा, बस थोड़ा दर्द सहन कर लो। यह कहते हुए मैं उस के निप्पल प्रेस करने लगा और उस के बूब को दबाने लगा। थोड़ी देर बाद उसका दर्द कम हुआ।

तब मैंने एक शॉट और जम के मारा मेरा पूरा लंड उस की चूत में था, वह दर्द के मारे रोने लगी, तब मैंने उस की तरफ ध्यान नहीं दिया और उस के दोनों बूब्स को पकड़कर दबाते हुए लंड को अंदर बाहर करता रहा, थोड़ी देर बाद उसकी करहने की आवाज कम होने लगी और वह आह औऊ येस्स अग्ग्ग उएस्स्स यायेस्स्स गग्ग करने लगी, मैं लगातार अपना लंड उसकी चूत में अंदर बाहर कर रहा था, तभी उस ने तकिए को छोड़कर मेरी कमर में हाथ डाल दिए मैं समझ गया कि उसे भी मजा आने लगा है वो सिसकारियां भरने लगी।

करीब १० मिनट बाद उसने मुझे जोर से पकड़ लिया और अपनी कमर उठा उठा कर खुद भी झटके देने लगी मैं समझ गया कि उस का पानी निकलने वाला है, मैंने भी अपनी रफ्तार बढ़ा दी और जोर जोर से उसको झटके मारने लगा, उसने मेरा सिर पकड़ कर मेरे होंठों को चूमना चालू कर दिया ऐसा लगता था कि वह सेक्स में पागल हो गई थी। वह सेक्स का फुल मजा लेने लगी, बहुत आवाजें निकालती रही, थोड़ी देर बाद वह ढीली हो गई उसका पानी निकल चुका था, मैं फिर भी लगातार उसे चोदता रहा मेरा पानी करीब उसके १० मिनट के बाद निकला।

मैंने अपना पूरा पानी उसकी चूत में ही छोड़ दिया था, और मैं उस के ऊपर ही लेट गया और उस के होंठों को चूमता रहा, उसके चेहरे पर मुस्कान थी। मैंने उससे पूछा तुम्हें दर्द ज्यादा हुआ या मजा ज्यादा आया? वह बोली दर्द तो हुआ पर मजा भी बहुत आया। मैंने रूबी से कहा रूबी आज मेरा सपना सच हो गया, वह बोली कैसा सपना? मैंने कहा मैं तुम्हें बहुत दिनों से चोदना चाहता था, मेरे दिल की तमन्ना आज पूरी हुई। रूबी मुस्कुरा कर बोली तुम मेरे साथ यह सब करना चाहते थे तो पहले क्यों नहीं किया? मैंने कहा मुझे डर था कि तुम बुरा ना मान जाओ। कुछ देर ऐसे पड़े रहे। फिर वह बोली की आप तो बोलते थे की आप एक घंटा चोदते हो, फिर आधे घंटे पर कैसे छोड़ दिए। मैंने बोला तुम्हारा पहली बार था और बहुत टाइट था तो में ज्यादा देर रुक नहीं पाया, पर देखो कल सुबह कितनी देर करता हूं तुम्हें। फिर सुबह उसे किस करके जगाया और पूरा नंगा कर के अलग अलग पोज में करीब एक घंटा चोदा।

उसको इतना थका दिया कि वह दिन भर सोई रही। रात को ढेर सारे ब्लू फिल्म दिखाया उसे लंड चूसना सिखाया, रात भर चार बार चोदा। ऐसे ही करीब १५ दिन तक उसको चोदता रहा, वह दिन में कॉलेज में रहती है और शाम को मेरे पास आती और रात भर मजे करती।

अगली सेक्स स्टोरी – ससुरजी के मोटे लंड से चुदाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *